COVID-19 2nd Wave: कहीं लॉकडाउन तो कहीं नाइट कर्फ्यू- कोरोना पर लगाम के लिए इन राज्यों ने उठाए खास कदम

महाराष्ट्र के ज्यादातर शहरों में नाइट कर्फ्यू लगा है.

महाराष्ट्र के ज्यादातर शहरों में नाइट कर्फ्यू लगा है.

Coronavirus Second Wave outbreak in India: कोरोना महामारी की दूसरी लहर को काबू में करने के लिए राज्य सरकारों ने पाबंदियां बढ़ानी शुरू कर दी हैं. कहीं नाइट कर्फ्यू लगा दिया गया है, तो कुछ शहरों में टोटल लॉकडाउन है.

  • News18Hindi
  • Last Updated: April 13, 2021, 6:00 PM IST
  • Share this:
नई दिल्ली. देश में कोरोना महामारी (Coronavirus Second Wave outbreak in India) की दूसरी लहर से हालात बेहद खराब होते जा रहे हैं. अब हर दिन 1.50 लाख के पार कोरोना केस आ रहे हैं. एक्टिव केस 12 लाख के पार हो गए हैं. इस बीच कोरोना महामारी को काबू में करने के लिए राज्य सरकारों ने पाबंदियां बढ़ानी शुरू कर दी है. कहीं नाइट कर्फ्यू लगा दिया गया है, तो कुछ शहरों में टोटल लॉकडाउन है.

देशभर में कोरोना महामारी के बीच मंगलवार से नवरात्र और रमजान का पवित्र महीना शुरू हो रहा है. देश के कई राज्यों के अलावा राजधानी में भी कोरोना के मामले तेजी से बढ़ रहे हैं. ऐसे समय में नवरात्र और रमजान की वजह से मंदिरों व मस्जिदों में भीड़ बढ़ना लाजमी है. इन त्योहारों के बीच पुलिस और जिला प्रशासन के लिए महामारी के दौरान नियमों का पालन करवाना एक बड़ी चुनौती बना हुआ है. ऐसे में महाराष्ट्र समेत कई राज्यों ने नवरात्र और रमजान को लेकर भी गाइडलाइंस जारी कर दिए हैं.

Youtube Video


आइए जानते हैं कोरोना को रोकने के लिए किस राज्य ने उठाए कौन से कदम और कहां-कहां लगा है लॉकडाउन:-
दिल्ली सरकार ने 30 अप्रैल तक रात का कर्फ्यू लगाने की घोषणा की है. बीते मंगलवार की रात 10 बजे से इसे लागू भी कर दिया है. अब 30 अप्रैल तक हर रात 10 बजे से सुबह 5 बजे तक शहर में कर्फ्यू रहेगा. सभी स्कूल कॉलेज बंद रहेंगे, सिर्फ जहां प्रेटिक्लस चल रहे हैं, वह स्कूल खुले रहेंगे. सार्वजनिक कार्यक्रम और शादी में खुली जगह में 200 लोग और बंद जगह में 100 लोगों के शामिल होने की अनुमित है. यहां कार के अंदर अकेले बैठे व्यक्ति को भी मास्क लगाना अनिवार्य है.
दिल्ली से सटे नोएडा-ग्रेटर नोएडा, गाजियाबाद और हापुड़ में नाइट कर्फ्यू लगा हुआ है, जो आगामी 17 अप्रैल तक प्रभावी है. इसके तहत रात 10 बजे से सुबह 5 बजे तक सामान्य आवाजाही और कारोबार नहीं हो रहा है, लेकिन आवश्यक सेवाओं में छूट जारी है. तीनों जिलों (गाजियाबाद, गौतमबुद्धनगर और गौतमबुद्धनगर) में 30 अप्रैल तक 12 वीं तक स्कूल-कॉलेज बंद हैं. हालांकि, गाजियाबाद में 15 अप्रैल को, गौतमबुद्धनगर में 19 अप्रैल को पंचायत चुनाव के लिए मतदान हैं, ऐसे में कुछ शिक्षकों को स्कूल के काम के लिए जाना पड़ रहा है.
महाराष्ट्र में अभी नाइट कर्फ्यू है. जल्द ही यहां टोटल लॉकडाउन लगाया जाएगा. इसके लिए गाइडलाइंस आज शाम तक आने की उम्मीद है. बैठकर खाने के लिए रेस्टोरेंट और पब बंद कर दिए गए हैं. हालांकि खाना पैक कराने की सुविधा जारी है. राज्य में स्कूल-कॉलेज सब बंद हैं. सार्वजनिक कार्यक्रमों पर पाबंदी लगी हुई है. शादी में सिर्फ 50 लोग शामिल होने की अनुमति है.
गुजरात के 20 शहरों में नाइट कर्फ्यू को 30 अप्रैल तक रात 8 बजे से सुबह 6 बजे तक बढ़ा दिया गया है. सरकार ने 30 अप्रैल तक राजनीतिक या सामाजिक समारोहों पर भी प्रतिबंध लगा दिया है. शादी में शामिल होने वाले लोगों की संख्या 200 से घटाकर 100 कर दी है. अन्य सभाओं को भी अधिकतम पचास तक सीमित कर दिया गया है.
हरियाणा के गृहमंत्री अनिल विज के ऐलान के बाद तमाम शहरों में रात 9 बजे से सुबह 5 बजे तक नाइट कर्फ्यू लागू कर दिया गया है. इस दौरान आवश्यक सेवाओं के लिए अनुमति होगी. गैर जरूरी सभी चीजों की दुकानें बंद रहेंगी.
राजस्थान में 5 अप्रैल से 19 अप्रैल के बीच जिम, सिनेमा हॉल, एम्यूजमेंट पार्क और स्विमिंग पूल बंद रहेंगे. साथ ही सरकार ने पहली से 9वीं के क्लास बंद करने के भी निर्देश दिए हैं. सरकार ने पोस्ट ग्रेजुएशन और ग्रेजुएशन के लास्ट ईयर को छोड़कर कॉलेजों में चलने वाली बाकी सभी कक्षाओं को भी बंद करने की घोषणा की है. हालांकि, छात्र-छात्राओं को प्रैक्टिकल करने की अनुमति रहेगी. वहीं रेस्तरां भी रात में बंद रहेंगे लेकिन होम डिलीवरी की अनुमति रहेगी.
उत्तर प्रदेश में कई जगह नाइट कर्फ्यू की शुरुआत हो चुकी है. 500 से ज्यादा कोरोना केस वाले 13 जिलों में जिलाधिकारी को अधिकार दिए गए हैं कि वो चाहें तो रात में सड़कों पर आवाजाही बंद कर सकते हैं. इसके बाद लखनऊ में नाइट कर्फ्यू लगा ने का फैसला लिया गया है. आज से लखनऊ में नाइट कर्फ्यू लागू कर दिया जाएगा. ये रात नौ से सुबह 6 बजे तक रहेगा और आवाजाही प्रतिबंधित होगी. इसके साथ ही कानपुर और वाराणसी में भी नाइट कर्फ्यू और कई पाबंदियां लागू कर दी गई हैं.
छत्तीसगढ़ के रायपुर में संपूर्ण लॉकडाउन लगाने का फैसला लिया गया है. आदेश में कहा गया है कि रायपुर जिला अन्तर्गत संपूर्ण क्षेत्र को 9 अप्रैल शाम छह बजे से 19 अप्रैल सुबह छह बजे तक कंटेनमेंट जोन घोषित किया गया है. इस दौरान जिले की सीमाएं सील रहेगी. 11 दिनों में मेडिकल दुकानों को खोलने की अनुमति होगी. लॉकडाउन के दौरान सभी धार्मिक, सांस्कृतिक और पर्यटन स्थल बंद रहेंगे. वहीं दुर्ग में 6 अप्रैल से ही लॉकडाउन शुरू हो चुका है, जो 14 अप्रैल तक चलेगा.
पंजाब में नाइट कर्फ्यू की मियाद बढ़ाई जाएगी. रात 9 बजे से सुबह 5 बजे तक का रात्रिकालीन कर्फ्यू सभी 22 जिलों में लागू रहेगा. इसे अभी तक 12 जिलों में ही लगाया लगाया था. नई पाबंदियों के तहत बंद जगह में अंतिम संस्कार या शादियों में बस 50 और खुली जगह में ऐसे अवसरों में बस 100 अतिथियों की अनुमति होगी. ये आदेश 30 अप्रैल तक प्रभावी रहेगा.
ओडिशा सरकार ने 10 जिलों में रात्रि कर्फ्यू लगाया है. एक अधिकारी ने बताया कि सुंदरगढ़, बरगढ़, झारसुगुड़ा, संबलपुर, बलांगीर, नौपाड़ा, कालाहांडी, मल्कानगिरी, कोराटपुर और नबरंगपुर जिले में रात 10 बजे से सुबह पांच बजे तक कर्फ्यू रहेगा. स्वास्थ्य सेवा निदेशक विजय पणिग्रही ने कहा कि ओडिशा में छत्तीसगढ़ से सीमावर्ती जिलों से आने वालों को कोविड-19 जांच करानी होगी.
मध्य प्रदेश में अब सरकारी दफ्तर सप्ताह में पांच दिन खुलेंगे, साथ ही सभी नगरीय क्षेत्रों में गुरुवार से रात 10 बजे से सुबह छह बजे तक कर्फ्यू लगेगा. प्रदेश के समस्त शासकीय कार्यालय आगामी तीन माह तक सोमवार से शुक्रवार तक सप्ताह में पांच दिन लगेंगे. शनिवार और रविवार को कार्यालय बंद रहेंगे. साथ ही आगामी आदेश तक हर रविवार को लॉकडाउन रहेगा. शाजापुर में तो 58 घंटे की पूर्णबंदी की गई है.
बेंगलुरु समेत कर्नाटक के छह अन्य शहरों में भी रात 10 बजे से सुबह 5 बजे तक नाइट कर्फ्यू है. सरकार ने बीते गुरुवार को इसकी घोषणा की हैमुख्यमंत्री बीएस येदियुरप्पा द्वारा नाइट कर्फ्यू की घोषणा की गई है जो 20 अप्रैल तक चलेगा. ये कर्फ्यू मैसूर, मंगलुरु, कालाबुरागी, बीदर, तुमकुरु और उडुपी-मणिपाल में लगाया गया है. इस दौरान आवश्यक सेवाएं जारी रहेंगी. (एजेंसी इनपुट के साथ)
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज