लाइव टीवी

कोरोनावायरस: केरल के CM ने PM मोदी को पत्र लिख वुहान से भारतीयों को एयरलिफ्ट करने की गुजारिश की

News18Hindi
Updated: January 27, 2020, 7:35 PM IST
कोरोनावायरस: केरल के CM ने PM मोदी को पत्र लिख वुहान से भारतीयों को एयरलिफ्ट करने की गुजारिश की
केरल के मुख्यमंत्री पिन्नराई विजयन की फाइल फोटो

पीएम मोदी (PM Modi) को लिखे एक पत्र में केरल (Kerala) के मुख्यमंत्री पिनराई विजयन ने चीन के वुहान में फंसे भारतीयों को एक विशेष विमान से एयरलिफ्ट (Airlift) करने की अपील की है.

  • News18Hindi
  • Last Updated: January 27, 2020, 7:35 PM IST
  • Share this:
तिरुवनंतपुरम. केरल (Kerala) के मुख्यमंत्री पिनराई विजयन (CM Pinarayi Vijayan) ने सोमवार को प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी (PM Narendra Modi) से चीन के वुहान प्रांत में फंसे भारतीयों को एयरलिफ्ट (Airlift) करके वापस लाने का प्रबंध किए जाने की गुजारिश की है. चीन का वुहान प्रांत कोरोनावायरस (Coronavirus) के प्रसार का केंद्र रहा है. विजयन ने कहा है कि वहां पर परिस्थितियां और भी ज्यादा बिगड़ने के आसार हैं.

पीएम मोदी (PM Modi) को लिखे एक पत्र में, विजयन ने अपील की, "चूंकि वुहान (Wuhan) में परिस्थिति बुरी है, ऐसे में एक विशेष विमान वुहान/ किसी नजदीकी चालू एयरपोर्ट (Functioning Airport) पर ले जाकर फंसे हुए भारतीय नागरिकों को भारत वापस लाए जाने के विकल्प पर विचार करना ठीक रहेगा."

चीन से केरल लौटे हैं कुल 288 लोग
विजयन ने प्रधानमंत्री से अपील की है कि bs चीन में भारतीय दूतावास को एक्टिव होकर काम करने के लिए जरूरी निर्देश दें और वुहान और यिचांग (Wuhan and Yichang) में केरलवासियों सहित फंसे भारतीयों को आवश्यक सहायता और आश्वासन दिए जाएं.

करीब 288 लोग चीन से केरल लौट आए हैं, जिनमें से 281 लोगों को उनके घर पर ही निगरानी में रखा गया है. सात लोगों को अलग-अलग अस्पतालों में आइसोलेशन वॉर्ड्स (Isolation Wards) में रखा गया है. ऐसा उनमें खांसी, चिंता और बुखार जैसे लक्षण देखने के बाद एहतियात के तौर पर किया गया है.

अभी तक 155 फ्लाइट्स के जरिए चीन से भारत आने वाले कुल 33,352 यात्रियों (Passengers) की जांच की जा चुकी है.

चीन में अभी तक कोरोनावायरस से कुल 80 मौतेंमुख्यमंत्री ने वुहान से भारतीयों को लाए जाने में अपने राज्य की ओर से स्वास्थ्य विशेषज्ञों (Medical Professionals) की मदद देने की पेशकश भी की है.

चीनी स्वास्थ्य विभाग (Chinese Health Authorities) ने बताया है कि कोरोनावायरस के प्रसार में तेजी है. अब तक इससे 80 लोगों की मौत हो चुकी है और अभी तक कोरोनावायरस के कुल 2,744 मामले कंफर्म हो चुके हैं.

चीन में 461 रोगियों की हालत बेहद नाजुक
नॉवेल कोरोनावायरस के जरिए हुए निमोनिया के कंफर्म मामलों को आधिकारिक तौर पर 2019-nCoV कहा जाता है. ऐसे 461 रोगी नाजुक हालत में हैं.

मुख्यमंत्री ने इससे पहले विदेश मंत्री एस जयशंकर (S Jaishankar) को एक पत्र लिखा था. उन्होंने उनसे इस उभरती परिस्थिति से निपटने के लिए जरूरी कदम उठाए जाने की गुजारिश की थी और भारतीय मूल के लोगों (जिनमें से ज्यादातर स्टूडेंट्स हैं) को जरूरी सहायता उपलब्ध कराने की बात कही थी.

यह भी पढ़ें: कोरोनावायरस: चीन में अब भी फंसे हैं 300 भारतीय स्टूडेंट्स, करीब 100 गुजरात के

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए देश से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: January 27, 2020, 7:35 PM IST
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर