अपना शहर चुनें

States

Coronavirus Vaccination: डॉक्टर फाउची बोले- कोरोना वैक्सीन लगाने के बाद दिखे ये तीन साइड इफेक्ट्स तो समझो बन गई बात

गौहाटी में एक हेल्थ वर्कर का वैक्सीनेशन  (AP Photo/Anupam Nath)
गौहाटी में एक हेल्थ वर्कर का वैक्सीनेशन (AP Photo/Anupam Nath)

कोरोना वायरस (Coronavirus) के संक्रमण पर नियंत्रण के लिए दुनिया भर में चल रहे वैक्सीनेशन अभियान के बीच कुछ साइडइफेक्ट्स की भी खबर है. अमेरिका के महामारी विशेषज्ञ डॉक्टर फाउची ने बताया है कि कौन से साइडफेक्ट्स आपके लिए अच्छे है और कौन आपके लिए खतरा बन सकते हैं.

  • News18Hindi
  • Last Updated: February 3, 2021, 6:17 PM IST
  • Share this:
नई दिल्ली. दुनिया भर में कोरोना वायरस संक्रमण की रोकथाम के लिए वैक्सीनेशन की प्रक्रिया शुरू कर दी गई है. इस बीच वैक्सीनेशन के बाद होने वाले साइड इफेक्ट्स ने भी लोगों की चिंता बढ़ा दी है. हालांकि अमेरिका के सीडीसी चीफ और जाने माने महामारी विशेषज्ञ डॉक्टर फाउची ने कहा कि संभव है कि कोविड वैक्सीन के साइड इफेक्ट्स इस बात का संकेत दे रहे हों कि वह हमारे शरीर में इम्यून रिस्पॉन्स बना रहे हैं. कोई भी टीका लगने के बाद साइड इफेक्ट्स आम बात हैं. कुछ सीमित साइड इफेक्ट्स हो सकते हैं.

वैक्सीनेशन के बाद अधिकतर साइड इफेक्ट्स हल्के या मध्यम होते हैं. 2-3 दिनों तक रहते हैं और आसानी से ठीक हो सकते हैं. COVID-19 टीकों के मामले में अजीबोगरीब साइड इफेक्ट्स एक संभावित प्रतिक्रिया है. शरीर को जब भी लगता है कि उसे कोई संभावित खतरा है तो ऐसे में प्रोटीन स्पाइक पर इम्यून सिस्टम का रिएक्शन नेचुरल रिसपॉन्स है. इससे ज्यादा परेशान नहीं होना चाहिए. इसलिए ठंड लगना, दर्द  होना सिर्फ इस बात का संकेत हो सकता है कि वैक्सीन आपके शरीर को भविष्य के रोगाणुओं के प्रति सचेत कर रहा है. डॉ. फाउची ने कहा कि यह कुछ खास संकेत और लक्षण हैं, जिनके जरिए एक शख्स को यह पता लग सकता है कि वैक्सीन अच्छे से काम कर रही है.





जोड़ों में दर्द और गठिया के लक्षण हैं सामान्य
वैक्सीनेशन के बाद मांसपेशियों और जोड़ों में हल्के दर्द व्यवस्थित प्रक्रिया है. यह उन लोगों द्वारा अनुभव किए जाने वाले सबसे आम दुष्प्रभावों में से एक है, जिन्होंने अभी वैक्सीन की खुराक मिली है. किसी शख्स को वैक्सीनेशन के बाद जोड़ों के दर्द या गठिया के लक्षण जैसा महसूस हो सकता है. हालांकि कोई भी दर्द या इस बात के संकेत हैं कि वैक्सीन के जवाब में इम्यून सिस्टम एंटीबॉडी बना रहे हैं. अधिकांश दर्द खुद ही खत्म हो जाते हैं. ज्यादा दिक्कत की स्थिति में डॉक्टर की सलाह पर पेन किलर्स भी लिए जा सकते हैं.

भारत समेत दुनिया के तमाम देशों में वैक्सीनेशन के बाद सिरदर्द भी एक सामान्य समस्या है. यह भी वैक्सीनेशन के बाद इम्यूनेशन प्रॉसेस की एक प्रक्रिया है. सीडीसी ने कहा कि वैक्सीन की दूसरी खुराक के बाद सिरदर्द की शिकायत ज्यादा दर्ज की जा रही है. वैक्सीनेशन के बाद थकावट भी हो सकती है. ऐसे में आपको इससे भी डरने या घबराने की जरूरत नहीं है.


इन साइडइफेक्ट्स से रहें सावधान

हालांकि कुछ साइड इफेक्ट्स को कभी अनदेखा नहीं करना चाहिए. इसमें शरीर पर चकत्ते और लाल निशान पाया जाना है. यह वैक्सीनेशन के बाद का सामान्य साइडइफेक्ट नहीं है. ऐसा होने में टीकाकरण के बाद 1 हफ्ते का भी समय लग सकता है. यह उन लोगों में अधिक सामान्य हो सकता है जो एलर्जी से पीड़ित हों. आपको इस बाबत तुरंत डॉक्टर का रुख करना चाहिए. साथ ही सूजन, रक्तस्राव, बेसुधी या लंबे समय तक  बेहोशी को  भी नजरअंदाज नहीं किया जाना चाहिए.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज