स्‍वास्‍थ्‍य मंत्री हर्षवर्धन ने राहुल गांधी को बताया वैक्‍सीन के लिए कहां से आएगा पैसा?

कांग्रेस के पूर्व अध्यक्ष राहुल गांधी ने सवाल उठाए थे कि मोदी सरकार को ये बताया चाहिए कि वैक्सीन के लिए फंड कहां से आएगा.

कांग्रेस के पूर्व अध्यक्ष राहुल गांधी ने सवाल उठाए थे कि मोदी सरकार को ये बताया चाहिए कि वैक्सीन के लिए फंड कहां से आएगा.

Corona Vaccine: वैक्सीन की पहली डोज़ देश के एक करोड़ स्वास्थ्य कर्मियों दी जाएगी. माना जा रहा है कि देश में वैक्सीन की पहली खेप 2021 के शुरुआत में मिल सकती है.

  • News18Hindi
  • Last Updated: November 24, 2020, 10:39 PM IST
  • Share this:

नई दिल्ली. पूरी दुनिया में इस वक्त हर किसी को कोरोना की वैक्सीन (Corona Vaccine) का बेसब्री से इंतज़ार है. भारत में भी वैक्सीन को लेकर इंतज़ार खत्म होने वाला है. उम्मीद की जा रही है कि अगले साल फरवरी में वैक्सीन आ जाएगी. इस बीच सोमवार को कांग्रेस के पूर्व अध्यक्ष राहुल गांधी (Rahul Gandhi) ने सवाल उठाए थे कि मोदी सरकार को ये बताया चाहिए कि वैक्सीन के लिए फंड कहां से आएगा. साथ ही उन्होंने ये भी कहा था कि भारत सरकार किस वैक्सीन का चयन करेगी. अब केंद्रीय स्‍वास्‍थ्‍य मंत्री डॉक्टर हर्षवर्धन (Dr. Harshvardhan ) ने बता दिया है कि इसके लिए फंड कहां से आएगा और वैक्सीन को लेकर सरकार का क्या प्लान है.

तैयार किया जाएगा फंड

अंग्रेजी अखबार द इकनॉमिक टाइम्‍स से बातचीत करते हुए डॉक्टर हर्षवर्धन ने कहा है कि कोरोना वैक्सीन के लिए सभी सरकारी योजनाओं की तरह फंड का आवंटन किया जाएगा. उन्होंने कहा, 'वैक्‍सीन के लिए प्रॉयरिटी ग्रुप की पहचान हो गई है. सबसे पहले हेल्‍थकेयर वर्कर्स को वैक्सीन लगेगा. डिस्‍ट्रीब्‍यूशन कैसे होगा एक्‍सपर्ट ग्रुप ने इसके लिए भी पूरा प्लान बना लिया है. जहां तक बजट की बात है दूसरी सरकारी योजनाओं की तरह यहां भी फंड का बंटवारा किया जाएगा.'

तैयार किया जा रहा है डेटा
वैक्सीन की पहली डोज़ देश के एक करोड़ स्वास्थ्य कर्मियों दी जाएगी. माना जा रहा है कि देश में वैक्सीन की पहली खेप 2021 के शुरुआत में मिल सकती है. वैक्सीन की डोज़ किसको सबसे पहले दी जाएगी इसको लेकर डेटा बेस लगभग तैयार कर लिया गया है. अब तक 92 फीसदी सरकारी हॉस्पिटल ने अपने डेटा दे दिए हैं. 56% प्राइवेट हॉस्पिटल के भी डेटा अभी मिल गए हैं. देश में करीब 1 करोड़ हेल्थ वर्कर्स हैं.

Youtube Video

ये भी पढ़ें:- वैक्‍सीन के 90% तक प्रभावी होने के दावे के बीच भी विशेषज्ञों को सता रही चिंता



क्या पूछा था राहुल गांधी ने?

राहुल गांधी ने सोमवार को कहा कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को देश को ये बताना चाहिए कि कोरोना वायरस के किस टीके का चयन भारत के लिए किया जाएगा. उन्होंने सवाल किया, ‘‘पहले टीका किसको मिलेगा और इसके वितरण की रणनीति क्या है? क्या ‘पीएम केयर्स’ कोष का इस्तेमाल मुफ्त टीकाकरण के लिए होगा? कब तक सभी भारतीय नागरिकों को टीका लग जाएगा?’’

अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज