बड़ी खबर: भारत में कोरोना की एक और वैक्सीन को मिली बड़ी कामयाबी, सरकार ने क्लीनिकल ट्रायल को दी मंजूरी

बड़ी खबर: भारत में कोरोना की एक और वैक्सीन को मिली बड़ी कामयाबी, सरकार ने क्लीनिकल ट्रायल को दी मंजूरी
सांकेतिक तस्वीर

Corona Vaccine: दुनिया भर में इन दिनों कोरोना की वैक्सीन पर काम चल रहा है. दावा किया किया जा रहा है कि इन दिनों करीब 125 वैक्सीन पर काम चल रहा है.

  • Share this:
अहमदाबाद. कोरोना वायरस(Coronavirus) के संक्रमण की रफ्तार में कोई कमी नहीं आ रही है. इन दिनों भारत में औसतन हर रोज 20 हजार कोरोना के नए मरीज सामने आ रहे हैं. कोरोना के इलाज के लिए कुछ दवाइयां तो बाजार में आ गई है, लेकिन अभी इससे इलाज की पूरी गारंटी नहीं है. ऐसे में वैक्सीन (Cororna Vaccine) ही लोगों को कोरोना से बचा सकती है. इस बीच बड़ी खबर ये है कि भारत में कोरोना की एक और वैक्सीन को ह्यूमन ट्रायल के लिए सरकार ने मंजूरी दे दी है. देश में पांच दिनों के अंदर ये दूसरी वैक्सीन है जिसे सरकार ने क्लीनिकल के लिए मंजूरी दी है.

जाइडस कैडिला तैयार कर रही है ये वैक्सीन
ये दूसरी वैक्सीन तैयार कर रही है अहमदाबाद की कंपनी जाइडस कैडिला हेल्थ केयर लिमिटेड (Zydus Cadila Healthcare Ltd). ड्रग कंट्रोलर जनरल ऑफ़ इंडिया ने वैक्सीन के फेज-1 और फेज-2 के ह्यूमन ट्रायल की इजाजत दे दी है. कहा जा रहा है कि इस क्लीनिकल ट्रायल को पूरा करने में करीब 3 महीने का वक्त लगेगा. कंपनी का दावा है कि उसकी इस वैक्‍सीन से जानवरों पर किए गए ट्रॉयल कारगर साबित हुए हैं. इसी आधार पर उन्हें अगले फेज के लिए मंजूरी मिली है.

3 महीने तक ट्रायल
समाचार एजेंसी पीटीआई के मुताबिक, कंपनी जल्‍द ही इंसानों पर वैक्‍सीन के ट्रायल के लिए इनरोलमेंट की प्रक्रिया शुरू करेगी. दावा किया जा रहा है कि पहले और दूसरे चरण के ट्रायल को पूरा करने में करीब तीन महीनों का वक्त लगेगा. कोरोना के बिगड़ते हालात को देखते हुए सरकार ने इन्हें क्लीनिकल ट्रायल के लिए बिना किसी देरी के तुरंत मंजूरी दे दी.



भारत बायोटेक को मिली है मंजूरी
इससे पहले भारत बायोटेक द्वारा विकसित की जा रही भारत की पहली COVID-19 वैक्सीन - COVAXIN ™, के मानव क्लीनिकल परीक्षण के पहले और दूसरे चरण के लिए डीजीसीआई की अनुमति मिली थी. ये परीक्षण जुलाई 2020 में शुरू हो जाएगा. भारत में कोविड-19 वैक्सीन का निर्माण करने वाली ये कंपनी भारतीय चिकित्सा अनुसंधान परिषद और नेशनल इंस्टीट्यूट ऑफ वायरोलॉजी के सहयोग से ये टीका तैयार करने के प्रयासों में लगी है.

दुनिया भर में वैक्सीन पर काम
दुनिया भर में इन दिनों कोरोना की वैक्सीन पर काम चल रहा है. दावा किया किया जा रहा है कि इन दिनों करीब 125 वैक्सीन पर काम चल रहा है. जिसमें से करीब 5 वैक्सीन ऐसे हैं जो ट्रायल के अगले दौर में पहुंच गए हैं. कोरोना को लेकर ऑक्सफोर्ड यूनिवर्सिटी और एस्ट्राजेनेका जिस वैक्सीन पर काम कर रहे हैं वो अब आखिरी स्टेज में पहुंच गया है. अब आखिरी चरण में क्लीनिकल टेस्ट किया जाएगा जिसमें ये पता लगाया जाएगा कि आखिर ये वैक्सीन कितनी कारगर है. इसके अलावा अमेरिका और चीन में भी वैक्सीन को लेकर युद्धस्तर पर काम चल रहा है.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज