Corona Vaccine: PM मोदी 11 जनवरी को देश के सभी राज्यों के मुख्यमंत्रियों के साथ करेंगे बैठक

देश के सभी राज्‍यों के मुख्‍यमंत्रियों के साथ 11 जनवरी को बैठक करेंगे पीएम मोदी (फाइल फोटो)

देश के सभी राज्‍यों के मुख्‍यमंत्रियों के साथ 11 जनवरी को बैठक करेंगे पीएम मोदी (फाइल फोटो)

Corona Vaccine: प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी कोरोना वैक्सीन को लेकर सोमवार को शाम 4:00 बजे देश के सभी राज्यों के मुख्यमंत्रियों के साथ बैठक करेंगे.

  • News18Hindi
  • Last Updated: January 8, 2021, 9:26 PM IST
  • Share this:
नई दिल्‍ली. प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी (PM Narendra Modi) 11 जनवरी को सभी राज्यों के मुख्यमंत्रियों से संवाद कर कोविड-19 (COVID-19) की वर्तमान स्थिति ओर इसके टीकाकरण अभियान को लेकर संवाद करेंगे. प्रधानमंत्री कार्यालय ने शुक्रवार को यह जानकारी दी. हाल ही में भारत के औषधि नियामक द्वारा स्वदेश में विकसित टीके के देश में सीमित आपात इस्तेमाल को मंजूरी मिलने के बाद यह प्रधानमंत्री का सभी मुख्यमंत्रियों के साथ पहला संवाद होगा. कोरोना संक्रमण काल के दौरान प्रधानमंत्री ने कई मौकों पर मुख्यमंत्रियों से वार्ता की.

भारत में कोरोना के टीकाकरण को लेकर व्यापक अभियान की तैयार चल रही है. इस सिलसिले में शुक्रवार देश भर में पूर्वाभ्यास भी किया गया था. सीरम इंस्टीट्यूट ऑफ इंडिया द्वारा निर्मित ऑक्सफोर्ड के कोविड-19 टीके 'कोविशील्ड' और भारत बायोटेक के स्वदेश में विकसित टीके 'कोवैक्सीन' के देश में सीमित आपात इस्तेमाल को रविवार को भारत के औषधि नियामक की ओर से मंजूरी दी गई थी. प्रधानमंत्री मोदी ने टीकों के आपात इस्तेमाल को मंजूरी दिए जाने को कोरोना वायरस महामारी के खिलाफ भारत की जंग में निर्णायक क्षण बताया था और कहा था कि इससे कोविड मुक्त भारत की मुहिम को बल मिलेगा.

भारत जल्द ही अपनी पूरी आबादी का टीकाकरण करने में सक्षम होगा: हर्षवर्धन

केंद्रीय स्वास्थ्य एवं परिवार कल्याण मंत्री डॉ. हर्षवर्धन ने शुक्रवार को कहा कि कोविड-19 के खिलाफ प्राथमिकता वाले लोगों के टीकाकरण के बाद जल्द ही पूरी आबादी का टीकाकरण सच्चाई होगी. यहां राजीव गांधी राजकीय अस्पताल में कोविड-19 टीकाकरण पूर्वाभ्यास की समीक्षा करने के बाद पत्रकारों से बातचीत में वर्धन ने कहा कि केंद्र ने टीकाकरण के संभावित लाभार्थियों का पता लगाने के लिए नए कोविड-19 मंच की शुरुआत की है और साथ ही उन्हें इलेक्ट्रॉनिक प्रमाण पत्र भी जारी कर रही है.
उन्होंने कहा कि भारत ने यथासंभव कम समय में टीका विकसित करने में बहुत ही बढ़िया काम किया है और मौजूदा समय में दो टीकों को आपात इस्तेमाल के लिए मंजूरी दी गई है. वर्धन ने कहा, 'अगले कुछ दिनों में और साथ ही निकट भविष्य में, हम इन टीकों को प्राथमिकता के आधार पर उन देशवासियों को देने में सक्षम होंगे जिन्हें सरकारी एवं निजी क्षेत्र में खतरा है. सरकार पहले ही इसकी योजना को सार्वजनिक कर चुकी है.' केंद्रीय मंत्री ने सरकारी ओमनदुरार अस्पताल और यहां के कुछ अन्य केंद्रों का भी दौरा किया.

उन्होंने कहा, 'कोविड-19 के खिलाफ टीकाकरण की तैयारी हमने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदीजी द्वारा टीकाकरण पर विशेषज्ञ समिति गठित करने के बाद चार-पांच महीने पहले ही शुरू कर दी थी. हमने हर पहलू पर बारीकी से काम किया और जमीन पर काम करने वालों तक सूचना का आदान-प्रदान किया.' वर्धन ने बताया कि इस प्रक्रिया में लाखों स्वास्थ्य कर्मियों को उचित तरीके से प्रशिक्षित किया गया.

Youtube Video




भारत में उपचाराधीन मरीजों का आंकड़ा कुल मामलों का 2.16 प्रतिशत

केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्रालय ने शुक्रवार को कहा कि देश में कोरोना वायरस संक्रमण के मामलों में आ रही कमी के बीच उपचाराधीन मरीजों की संख्या अब 2,25,449 है और यह आंकड़ा महामारी के कुल मामलों का केवल 2.16 प्रतिशत है. इसने कहा कि भारत में पिछले 24 घंटे में महामारी के केवल 18,139 नए मामले सामने आए हैं और इसी अवधि में 20,539 मरीज घातक विषाणु को शिकस्त देकर ठीक हुए हैं जिससे उपचाराधीन मामलों के आंकड़ों में 2,634 की कमी आई है. मंत्रालय ने कहा कि महामारी को मात देकर ठीक होने वालों की संख्या में लगातार वृद्धि हो रही है और अब तक कुल 1,00,37,398 लोग ठीक हो चुके हैं. इसने कहा कि ठीक होने के नए मामलों में से 79.96 प्रतिशत मामले दस राज्यों और केंद्रशासित प्रदेशों से हैं. केरल में एक दिन में सर्वाधिक 5,639 लोग ठीक हुए हैं. इसके बाद महाराष्ट्र में 3,350 तथा पश्चिम बंगाल में 1,295 लोग ठीक हुए हैं.

ये भी पढ़ें: कोरोना महामारी से जंग के बाद अब वैक्सीनेशन प्रोग्राम के लिए भी NCC कैडेट्स तैयार

ये भी पढ़ें: यूके और अफ्रीका के कोरोना स्ट्रेन पर भी प्रभावी है Pfizer वैक्सीन- कंपनी का दावा

मंत्रालय ने कहा कि संक्रमण के नए मामलों में से 81.22 प्रतिशत मामले दस राज्यों से हैं. केरल में संक्रमण के सबसे ज्यादा मामलों का सामने आना जारी है और राज्य में एक दिन में 5,051 नए मामले सामने आए हैं. इसके बाद महाराष्ट्र में 3,729 और छत्तीसगढ़ में 1,010 नए मामले सामने आए हैं. मंत्रालय ने कहा कि देश में पिछले 24 घंटे में महामारी के चलते 234 लोगों की मौत हुई है. मौत के इन मामलों में से 76.50 प्रतिशत मामले आठ राज्यों और केंद्रशासित प्रदेशों से हैं. (भाषा इनपुट के साथ)
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज