• Home
  • »
  • News
  • »
  • nation
  • »
  • Coronavirus: दुनिया के अधिकतर देशों में बढ़ रहा कोरोना, WHO की मुख्य वैज्ञानिक ने दी चेतावनी

Coronavirus: दुनिया के अधिकतर देशों में बढ़ रहा कोरोना, WHO की मुख्य वैज्ञानिक ने दी चेतावनी

विश्व स्वास्थ्य संगठन (WHO) की चीफ साइंटिस्ट सौम्या स्वामीनाथन. (फाइल फोटो: AFP)

विश्व स्वास्थ्य संगठन (WHO) की चीफ साइंटिस्ट सौम्या स्वामीनाथन. (फाइल फोटो: AFP)

Coronavirus Update: सौम्या स्वामीनाथन ने कहा, 'बीते 24 घंटों में 50 हजार के करीब नए मामले मिले हैं और लगभग 9300 मौतें हुईं हैं. अभी महमारी की रफ्तार कम नहीं हुई है.' उन्होंने जानकारी दी कि डब्ल्युएचओ (WHO) के 6 में से 5 क्षेत्रों में कोरोना के मामले बढ़ रहे हैं.

  • Share this:
    जेनेवा. विश्व स्वास्थ्य संगठन (WHO) की प्रमुख वैज्ञानिक सौम्या स्वामीनाथन (Soumya Swaminathan) ने एक बार फिर कोरोना वायरस को लेकर चेतावनी जारी की है. उन्होंने कहा कि दुनिया के ज्यादातर हिस्सों में कोरोना संक्रमण बढ़ रहा है. यह इस बात का सबूत है कि महामारी अभी खत्म नहीं हुआ है. उन्होंने कोविड-19 (Covid-19) के बढ़ते मामलों के कारण डेल्टा वेरिएंट को बताया है. डेल्टा वेरिएंट काफी ज्यादा संक्रामक है. भारत में भी दूसरी लहर (Second Wave) के लिए कोरोना के इस स्ट्रेन को जिम्मेदार माना जा रहा है.

    ब्लूमबर्ग टेलीविजन को दिए साक्षात्कार में स्वामीनाथन ने कहा, 'बीते 24 घंटों में 50 हजार के करीब नए मामले मिले हैं और लगभग 9300 मौतें हुईं हैं. अभी महमारी की रफ्तार कम नहीं हुई है.' उन्होंने कहा कि कई देशों में टीकाकरण की रफ्तार के चलते गंभीर मामलों और अस्पताल में भर्ती होने वाले मरीजों की संख्या में कमी आई है. वहीं, दुनिया का एक बड़ा हिस्सा ऑक्सीजन की कमी का सामना कर रहा है, अस्पतालों में बिस्तर की कमी है और मृत्य दर बढ़ी हुई है.

    उन्होंने जानकारी दी कि डब्ल्युएचओ के 6 में से 5 क्षेत्रों में कोरोना के मामले बढ़ रहे हैं. साथ ही अफ्रीका में दो हफ्तों में मृत्यु दर 30 फीसदी से बढ़कर 40 प्रतिशत पर पहुंच गई है. तेजी से फैलने वाला डेल्टा वेरिएंट, दुनियाभर में टीकाकरण की धीमी रफ्तार और सुरक्षा उपयों में ढील दिया जाना मामलों के बढ़ने का सबसे बड़े कारण हैं.

    दुनिया में कई देश अब अनलॉक की प्रक्रिया से गुजर रहे हैं. डब्ल्युएचओ ने इस हफ्ते सरकारों से चीजों को दोबारा शुरू करने को लेकर सावधान रहने को कहा था. इंग्लैंड में आगामी 19 जुलाई से कानूनी पाबंदियां हटने जा रही हैं. साथ ही मास्क पहनना जैसे उपाय भी निजी इच्छा पर निर्भर करेगा. अमेरिका और यूरोप में भी कई जगहों पर मामले कम होने के चलते पाबंदियों ढील दी जा रही है.

    डब्ल्युएचओ के हेल्थ इमरजेंसीज प्रोग्राम के प्रमुख माइक रेयान ने बुधवार को मीडिया ब्रीफिंग के दौरान कहा, 'यह विचार कि सभी सुरक्षित हैं और सबकुछ सामान्य हो रहा है. यह धारणा दुनिया में कहीं भी बेहद खतरनाक है.'

    पढ़ें Hindi News ऑनलाइन और देखें Live TV News18 हिंदी की वेबसाइट पर. जानिए देश-विदेश और अपने प्रदेश, बॉलीवुड, खेल जगत, बिज़नेस से जुड़ी News in Hindi.

    हमें FacebookTwitter, Instagram और Telegram पर फॉलो करें.

    विज्ञापन
    विज्ञापन

    विज्ञापन

    टॉप स्टोरीज