Home /News /nation /

Corruption Index 2021: भारत की रैंक में मामूली सुधार, लेकिन पाकिस्तान ने कराई PM इमरान खान की फजीहत

Corruption Index 2021: भारत की रैंक में मामूली सुधार, लेकिन पाकिस्तान ने कराई PM इमरान खान की फजीहत

2021 के वैश्विक भ्रष्टाचार धारणा सूचकांक में भारत को 1 रैंक का फायदा, जबकि पाकिस्तान को 16 पायदान का नुकसान हुआ है. (सांकेतिक तस्वीर)

2021 के वैश्विक भ्रष्टाचार धारणा सूचकांक में भारत को 1 रैंक का फायदा, जबकि पाकिस्तान को 16 पायदान का नुकसान हुआ है. (सांकेतिक तस्वीर)

Corruption Perceptions Index 2021: भ्रष्टाचार धारणा सूचकांक (सीपीआई) ने अपने 2021 संस्करण में, 180 देशों और क्षेत्रों को सार्वजनिक क्षेत्रों के भ्रष्टाचार के उनके कथित स्तरों के आधार पर शून्य (अत्यधिक भ्रष्ट) से 100 (बहुत स्वच्छ) के पैमाने पर रैंक करता है तथा इसके लिए 13 विशेषज्ञ आकलन और उद्योग प्राधिकारियों के सर्वेक्षणों का इस्तेमाल करते हैं. ट्रांसपेरेंसी इंटरनेशनल के अनुसार, देश का भ्रष्टाचार स्कोर अब भी 40 पर बना हुआ है, जबकि यह सूचकांक में कुल 180 देशों में से 85 वें स्थान पर है.

अधिक पढ़ें ...

नई दिल्ली. भारत 2021 के वैश्विक भ्रष्टाचार धारणा सूचकांक (Global Corruption Perceptions Index 2021) में 1 पायदान ऊपर बढ़ गया है और 180 देशों में इसका स्थान 85वां है. यह बात ट्रांसपेरेंसी इंटरनेशनल (Transparency International) ने मंगलवार को एक रिपोर्ट में कही. वहीं पाकिस्तान के 16 पायदान नीचे गिर गया है. वैश्विक भ्रष्टाचार से निपटने के लिए गठित बर्लिन स्थित गैर-लाभकारी संगठन द्वारा जारी रिपोर्ट में कहा गया है कि दुनिया भर में भ्रष्टाचार का स्तर स्थिर है तथा 86 प्रतिशत देशों ने पिछले 10 वर्षों में बहुत कम या कोई प्रगति नहीं की है.

भ्रष्टाचार धारणा सूचकांक (सीपीआई) ने अपने 2021 संस्करण में, 180 देशों और क्षेत्रों को सार्वजनिक क्षेत्रों के भ्रष्टाचार के उनके कथित स्तरों के आधार पर शून्य (अत्यधिक भ्रष्ट) से 100 (बहुत स्वच्छ) के पैमाने पर रैंक करता है तथा इसके लिए 13 विशेषज्ञ आकलन और उद्योग प्राधिकारियों के सर्वेक्षणों का इस्तेमाल करते हैं.

जानें पाकिस्तान और बांग्लादेश की स्थिति
2020 में, भारत (India) का सीपीआई 40 था और 180 देशों में से उसका स्थान 86वां था. ट्रांसपेरेंसी इंटरनेशनल के अनुसार, देश का भ्रष्टाचार स्कोर अब भी 40 पर बना हुआ है, जबकि यह सूचकांक में कुल 180 देशों में से 85 वें स्थान पर है. तुलनात्मक रूप से पाकिस्तान (Pakistan) का स्कोर 28 है और इसका स्थान 140वां है, जबकि बांग्लादेश (Bangladesh) का सीपीआई 26 है और इसका स्थान 147वां है.

वैश्विक भ्रष्टाचार धारणा सूचकांक पाकिस्तान 16 पायदान गिरा
दूसरी ओर, पाकिस्तान 2021 के वैश्विक भ्रष्टाचार धारणा सूचकांक में 16 पायदान नीचे गिर गया है और 180 देशों में इसका स्थान 140वां है. यह पाकिस्तान के प्रधानमंत्री इमरान खान सरकार के लिए एब बड़ा झटका है जो एक स्वच्छ शासन प्रणाली लाने के वादे के साथ सत्ता में आई थी.

क्या भारत में कोरोना की तीसरी लहर चरम पर है? जानें क्या कहते हैं आंकड़े

2020 में, पाकिस्तान का सीपीआई 31 था और 180 देशों में से उसका स्थान 124वां था. ट्रांसपेरेंसी इंटरनेशनल के अनुसार, देश का भ्रष्टाचार स्कोर अब घटकर 28 हो गया है, जबकि यह सूचकांक में कुल 180 देशों में से 140 वें स्थान पर है.

स्वच्छ शासन शुरू करने के वादे पर सत्ता में आई थी इमरान सरकार
यह रिपोर्ट ऐसे समय में आई है जब पाकिस्तान के प्रधानमंत्री इमरान खान पर अपनी सरकार के प्रदर्शन में सुधार करने का दबाव है, जो 2018 में स्वच्छ शासन प्रणाली शुरू करने के वादे पर सत्ता में आयी थी. जवाबदेही पर उनके सलाहकार शहजाद अकबर ने भ्रष्ट तत्वों को कानून के दायरे में लाने को लेकर अपने खराब प्रदर्शन की खबरों के बीच सोमवार को पद छोड़ दिया.

(इनपुट भाषा से भी)

Tags: Bangladesh, India, Pakistan

विज्ञापन
विज्ञापन

राशिभविष्य

मेष

वृषभ

मिथुन

कर्क

सिंह

कन्या

तुला

वृश्चिक

धनु

मकर

कुंभ

मीन

प्रश्न पूछ सकते हैं या अपनी कुंडली बनवा सकते हैं ।
और भी पढ़ें
विज्ञापन

टॉप स्टोरीज

अधिक पढ़ें

अगली ख़बर