कोरोना वायरस: क्वारंटीन से बचने के लिए इस जोड़े ने निकाला अनोखा उपाय, सीमा पर रचाई शादी

शादी के रस्म की शुरुआत सुबह 8.30 बजे शुरू हुई और आधे घंटे के अंदर पूरी हो गई
शादी के रस्म की शुरुआत सुबह 8.30 बजे शुरू हुई और आधे घंटे के अंदर पूरी हो गई

Wedding at Border: दूल्हे की तरफ से इस शादी में 12 लोग आए थे. जबकि लड़की वालों की तरफ से 25 लोग थे. शादी के दौरान सोशल डिस्टेंसिंग का पूरा ख्याल रखा गया.

  • Share this:
तिरुवनंतपुरम. कोरना वायरस (Coronavirus) और लॉकडाउन के चलते देश भर में कई शादियां टल गईं और अगर हो भी रही हैं तो बड़े मुश्किल से... बिना सरकारी पास के आप शादी नहीं कर सकते. इसके अलावा बारातियों की संख्या पर भी पाबंदियां है. इसके अलावा और भी तमाम तरह की दिक्कतें हैं. लिहाजा लोग इन दिनों शादियों को टालने में ही अपनी भलाई समझ रहे हैं. लेकिन देश में कई ऐसे भी लोग हैं, जो इसका भी जुगाड़ ढूंढ लेते हैं. ऐसी ही एक अनोखी शादी तमिलनाडु-केरल की सीमा पर हुई. राज्यों के बॉर्डर पर शादी इसलिए हुई कि दूल्हा और दुल्हन के परिवार वाले पास और क्वारंटीन के झंझट में नहीं फंसना चाहते थे.

बॉर्डर पर शादी
दुल्हन प्रियंका केरल की रहने वाली है, जबकि दूल्हा तमिलनाडु से है. इन दोनों की शादी इसी साल 22 मार्च को होनी थी. लेकिन लॉकडाउन के चलते इनका सारा प्लान फेल हो गया. लॉकडाउन में छूट मिलने के बाद शादी के लिए एक बार फिर से शुभ मुहूर्त निकाला गया. लेकिन बारातियों को एक राज्य से दूसरे राज्य में ले जाना आसान नहीं था. ऐसे में शादी की जगह केरल-तमिलनाडु सीमा पर इडुक्की जिले में स्थित चिन्नार अभयारण्य के पास हुई. इसके लिए खास परमिशन ली गई. अगर बारातियों को लेकर जाते तो उन्हें घर लौटने पर दो हफ्ते तक क्वारंटीन में रहना पड़ता.

सीमा के उस पार से देख रहे थे शादी
दूल्हे की तरफ से इस शादी में 12 लोग आए थे, जबकि लड़की वालों की तरफ से 25 लोग थे. शादी के दौरान सोशल डिस्टेंसिंग का पूरा ख्याल रखा गया. हेल्थ इंसपेक्टर अब्दुल मजीद ने बताया कि अगर दोनों पक्षों के लोग मंडप तक पहुंचते तो फिर सबको क्वारंटीन में जाना पड़ता. इसलिए दोनों तरफ के लोग अपने-अपने राज्य के बॉर्डर से शादी को देख रहे थे. ये एक बेहद अनोखी शादी थी.



आधे घंटे में शादी
शादी की रस्म की शुरुआत सुबह 8.30 बजे शुरू हुई और आधे घंटे के अंदर पूरी हो गई. इस जोड़े की शादी की रस्म स्थानीय हेल्थ इंस्पेक्टर की निगरानी में पूरी की गई. शादी के बाद प्रियंका को ससुराल जाने के लिए पास दिया गया. पूर्व एमएलए एक के मनी ने सीमा पर इस शादी को करवाने में मदद की. उन्होंने कहा कि दोनों राज्यों से परमिशन मिलने के बाद बॉर्डर पर शादी हुई.

 

ये भी पढ़ें: नेपाल के विवादित नक्शे पर भारत सख्त, कहा-ऐतिहासिक तथ्यों से दूर विधेयक नामंजूर

मुंबई में हालात गंभीर, उपयोग में 94% वेंटिलेटर और भर चुके हैं 99% ICU बेड
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज