अपना शहर चुनें

States

Surat News: फुफुरे भाई-बहन को हुआ प्यार, फिर एक ही हुक में लटका मिला दोनों का शव

मृतक की फाइल फोटो
मृतक की फाइल फोटो

Surat News: इस जोड़े ने एक हुक में दुपट्टे लटकाकर कथित रूप से आत्महत्या कर ली. दोनों रिश्ते में फुफेरे भाई-बहन लगते थे. परिवार के मुताबिक दोनों एक दूसरे से प्यार करते थे.

  • News18Hindi
  • Last Updated: February 10, 2021, 9:22 AM IST
  • Share this:
सूरत. गुजरात (Gujarat) के सूरत (Surat) में फुफेरे भाई और बहन को एक दूसरे से प्यार हो गया. इसके बाद जब उनके परिजनों को यह बात पता चली तो उन्होंने कहा कि रुपयों का इंतजाम होने तक इंतजार करे. परिवार का कहना है कि दोनों ने धीरज खो दिया और एक ही हुक से लटककर कथित रूप से आत्महत्या कर ली. आत्महत्या के बाद परिजनों में शोक का माहौल है. घटना की जानकारी के बाद सचिव जीआईडीसी पुलिस ने पूरे मामले में जांच शुरू कर दी है.

सचिन जीआईडीसी स्थित शिवांजलि सोसाइटी निवासी जोड़े ने एक हुक में दुपट्टे लटकाकर कथित रूप से आत्महत्या कर ली. घटना के बाद जांच में सामने आया कि दोनों एक दूसरे को प्यार करते थे. परिवार का कहना है कि दोनों की शादी के लिए पैसे इकट्ठे किये जा रहे थे, लेकिन इससे पहले ही दोनों ने आत्महत्या कर ली. मौके पर पहुंची पुलिस ने मामला दर्ज कर आगे की जांच शुरू कर दी है.

मशीन ऑपरेटर की नौकरी करता था संतराम
मृतक के भाई के अनुसार चार भाइयों में से एक संतराम रामसेवक निषाद मूलरूप से यूपी का रहने वाला था. संतराम, सचिन जीआईडीसी स्थित एक कंपनी में मशीन ऑपरेटर का काम करता था. संतराम अपने भाइयों समेत कुल 6 लोगों के साथ रूम नंबर 13 में रहता था. उन्होंने कहा कि जब वो काम से लौटे तो पाया कि कमरे का दरवाजा खुला हुआ था और दोनों ने आत्महत्या कर ली थी. इसके तुरंत बाद हमने पुलिस को सूचना दी.
पुलिस ने मौके पर कागजी कार्यवाही पूरी करते हुए दोनों के मोबाइल फोन सीज कर लिये. परिजनों में से एक इंदर ने कहा कि दोनों एक दूसरे को 4-5 महीने से जानते थे और एक दूसरे को प्यार करते थे. संतराम ने दो-तीन दिन पहले शादी की इच्छा जाहिर की. जिस पर हमने उसे आश्वासन दिया कि पैसे इकट्ठे हो जाएं तो फिर शादी हो जाएगी.



वहीं मृतक पूनम उर्फ लक्ष्मी (17) के पिता गंगा चरण ने कहा कि हम शिवांजलि सोसाइटी स्थित अक्षय पटेल की चॉल में रहते हैं. हम यूपी के रहे वाले हैं. मैं यहां टीएफओ ऑपरेटर के तौर पर काम करता हूं. संतराम मेरा भतीजा था. जब हमें दोनों के रिश्ते के बारे में पता चला तो हमने कहा कि घर जाकर बहन से बात करूंगा. हालांकि दोनों ने धैर्य खोकर ऐसा कदम उठा लिया. परिवार में शोक माहौल है.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज