अपना शहर चुनें

States

COVID-19: 8 राज्‍यों से आए 69% नए केस, महामारी के भीषण चपेट से उबर रहा भारत

पिछले 24 घंटे में आठ राज्यों, केंद्र शासित प्रदेशों से आए कोविड-19 के 69 फीसदी से अधिक नए मामले (प्रतीकात्‍म तस्‍वीर-AP)
पिछले 24 घंटे में आठ राज्यों, केंद्र शासित प्रदेशों से आए कोविड-19 के 69 फीसदी से अधिक नए मामले (प्रतीकात्‍म तस्‍वीर-AP)

स्‍वास्‍थ्‍य मंत्रालय (Ministry of Health) ने कहा कि पिछले 24 घंटे में कोविड-19 (COVID-19) के लिये 11 लाख 57 हजार 605 नमूनों की जांच की गई, जिससे भारत में अब तक की गई कुल जांच की संख्या 13.82 करोड़ हो चुकी है, जबकि प्रति दस लाख की आबादी पर जांच की संख्या एक लाख से अधिक हो गई है.

  • News18Hindi
  • Last Updated: November 28, 2020, 7:22 PM IST
  • Share this:
नई दिल्ली. पिछले 24 घंटे में सामने आए कोविड-19 (COVID-19) के 41,322 नए मामलों में से 69 फीसदी से अधिक मामले आठ राज्यों और केंद्र शासित प्रदेशों से सामने आए. इनमें से सर्वाधिक मामले महाराष्ट्र (Maharashtra) से सामने आए जिसके बाद दिल्ली और केरल (Delhi and Kerala) का स्थान है. यह जानकारी शनिवार को स्वास्थ्य मंत्रालय ने दी. मंत्रालय ने कहा कि पिछले 24 घंटे में कोविड-19 के लिये 11 लाख 57 हजार 605 नमूनों की जांच की गई, जिससे भारत में अब तक की गई कुल जांच की संख्या 13.82 करोड़ हो चुकी है, जबकि प्रति दस लाख की आबादी पर जांच की संख्या एक लाख से अधिक हो गई है. देश में कोविड-19 के उपचाराधीन मरीजों की संख्या 4,54,940 है और यह कुल संक्रमितों की संख्या का 4.87 फीसदी है.

मंत्रालय ने बयान जारी कर कहा, 'कोविड-19 के रोजाना सामने आ रहे मामलों में 69.04 फीसदी आठ राज्यों, केंद्रशासित प्रदेशों महाराष्ट्र, दिल्ली, केरल, पश्चिम बंगाल, राजस्थान, उत्तर प्रदेश, हरियाणा और छत्तीसगढ़ से सामने आए हैं.' महाराष्ट्र में कोरोना वायरस के 6185 नए मामले सामने आए, जबकि दिल्ली में 5482 और केरल में 3966 नए मामले सामने आए. मंत्रालय द्वारा सुबह आठ बजे अद्यतन किए गए आंकड़े के मुताबिक, भारत में कोविड-19 के कुल मामले 93,51,109 हो गए हैं जबकि मरने वालों की संख्या 1,36,200 हो चुकी है.

ये भी पढ़ें: गुजरात में बनेंगे कोरोना वैक्सीन को रखने के लिए बॉक्स, PM मोदी ने लक्जमबर्ग का प्रस्ताव स्वीकारा



ये भी पढ़ें: Coronavirus In India: 23 राज्यों में राष्ट्रीय औसत से ज्यादा हुई जांच, दिल्ली नंबर 1
कोरोना वायरस महामारी पर काबू कर लिया गया है, स्थिति सामान्य करने के लिए कदम उठाए जा रहे हैं: पलानीस्वामी
तमिलनाडु के मुख्यमंत्री के पलानीस्वामी ने शनिवार को कहा कि राज्य सरकार ने अपने ठोस प्रयासों से कोरोनावायरस के प्रसार को नियंत्रित कर लिया है और अब यह सुनिश्चित करने में जुटी है कि राज्य में स्थिति सामान्य हो जाए. उन्होंने कहा कि हालांकि स्थिति सामान्य होने में कुछ समय लगेगा, लेकिन बहुत कुछ जिला प्रशासनों और जनता द्वारा फेस मास्क पहनने तथा सामाजिक दूरी बनाए रखने के दिशानिर्देशों के अनुपालन पर निर्भर करता है. मुख्यमंत्री ने सचिवालय से कोविड-19 की स्थिति पर जिला कलेक्टरों के साथ वीडियो कांफ्रेस के साथ एक बैठक की अध्यक्षता की.

उन्होंने कहा कि कुछ राज्यों में वायरस का फैलाव चिंताजनक रहा है, क्योंकि वहां के लोगों ने मास्क पहनने के नियमों का उल्लंघन किया. उन्होंने कहा, 'इसलिए, मैं जिला कलेक्टरों को नियमों को कड़ाई से लागू करने और लोगों से आग्रह करता हूं कि वे अनिवार्य रूप से फेस मास्क पहनें और सरकार को जल्द ही स्थिति सामान्य करने में मदद करें.' उन्होंने कहा, 'अगर लोग अपना पूरा सहयोग देते हैं तो संक्रमण को पूरी तरह से नियंत्रित किया जा सकता है.' मुख्यमंत्री ने कहा कि प्रधानमंत्री मोदी ने तमिलनाडु सरकार को कोविड-19 प्रकोप से कुशलता से लड़ने के लिए बधाई दी थी और इस संबंध में अग्रणी होने के लिए राज्य की सराहना भी की थी.

तमिलनाडु में शुक्रवार तक संक्रमण के कुल मामले 7,77,616 थे जिनमें से 11,681 लोगों की मौत हो चुकी है. राज्य में फिलहल 11,109 संक्रमित मरीज उपचाराधीन हैं. पलानीस्वामी ने कहा कि राज्य सरकार ने अब तक कोविड-19 को नियंत्रित करने के लिए राहत और स्वास्थ्य देखभाल कार्यों के लिए 7,525 करोड़ रुपये खर्च किए हैं. उन्होंने घोषणा की कि एक डॉक्टर, एक नर्स और एक सहायक के साथ 2,000 मिनी क्लीनिक 15 दिसंबर तक शुरु कर दिया जाएगा. ये मिनी क्लीनिक घनी आबादी वाले उन क्षेत्रों संचालित होंगे जहां मुख्य रूप से गरीब तबके के लोग रहते हैं.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज