• Home
  • »
  • News
  • »
  • nation
  • »
  • कोविड-19: तीसरी लहर से निपटने के लिए BJP का मेगा प्लान, तैयार होगी स्वास्थ्य सेवकों की फौज

कोविड-19: तीसरी लहर से निपटने के लिए BJP का मेगा प्लान, तैयार होगी स्वास्थ्य सेवकों की फौज

स्वास्थ्य स्वंयसेवकों को पीएम मोदी 28 जुलाई को वीडियो कान्फ्रेंसिंग के जरिए अपना संदेश देंगे. (सांकेतिक तस्वीर)

स्वास्थ्य स्वंयसेवकों को पीएम मोदी 28 जुलाई को वीडियो कान्फ्रेंसिंग के जरिए अपना संदेश देंगे. (सांकेतिक तस्वीर)

BJP Prepares for Third Wave: सबसे पहले पार्टी की ओर से स्वास्थ्य सेवकों की एक बड़ी टीम तैयार की जाएगी. हर टीम के चार सदस्य होंगे जिन्हें पार्टी अपने स्तर पर ट्रेनिंग देगी. इन्हें कोरोना वायरस (Coronavirus) के संभावित खतरों से कैसे बचा जाए इसके लिए खास तौर पर प्रशिक्षित किया जाएगा.

  • Share this:
नई दिल्ली. कोरोना की दूसरी लहर (Coronavirus Second Wave) खत्म नहीं हुई है, लेकिन इस बीच अब चिंता तीसरी लहर को लेकर है. तीसरी लहर से निपटने के लिए बीजेपी मेगा प्लान बना रही है. देशभर में पार्टी के कार्यकर्ताओं की खास फौज तैयार की जायेगी. इन कार्यकर्ताओं को स्वास्थ्य स्वयंसेवक (Swasthya Swyamnsevak) कहा जायेगा. इन स्वयंसेवकों को प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी (PM Narendra Modi) 28 जुलाई को संबोधित भी करेंगे. बीजेपी महासचिव सी टी रवि ने बताया कि देश के दो लाख गांवों में हेल्थ वॉलेंटियर्स को ट्रेंड करने की योजना है. इसका मकसद ये है कि गांव में प्राथमिक चिकित्सा को स्वयंसेवकों के माध्यम से मजबूत किया जाए. 28 जुलाई को होने वाले कार्यक्रम में प्रधानमंत्री के अलावा बीजेपी अध्यक्ष जेपी नड्डा समेत पार्टी के कई बड़े नेता मौजूद होंगे.

स्वास्थ्य स्वयंसेवकों को पीएम मोदी 28 जुलाई को वीडियो कान्फ्रेंसिंग के जरिए अपना संदेश देंगे. दिल्ली में आयोजित इस कार्यक्रम में बीजेपी मुख्यालय पर बड़ी संख्या में स्वास्थ्य सेवक इकठ्ठा होंगे. सूत्रों से मिली जानकारी के मुताबिक बीजेपी हर मंडल से चार सदस्यों का चयन करेगी. जिन लोगों का चयन होगा, उनमें एक डॉक्टर, एक आईटी सेल से और दो कोई और कार्यकर्ता को जोड़ा जाएगा. इन्हें स्वास्थ्य स्वयंसेवक के नाम से जाना जाएगा.

यह भी पढ़ें: Coronavirus: पूर्ण टीकाकरण के बाद भी क्यों बढ़ रहे मामले? ब्रिटेन के मुख्य वैज्ञानिक सलाहकार ने बताया



सबसे पहले पार्टी की ओर से स्वास्थ्य सेवकों की एक बड़ी टीम तैयार की जाएगी. हर टीम के चार सदस्य होंगे जिन्हें पार्टी अपने स्तर पर ट्रेनिंग देगी. इन्हें कोरोना के संभावित खतरों से कैसे बचा जाए इसके लिए खास तौर पर प्रशिक्षित किया जाएगा. इसके लिए कोरोना महामारी के दौरान उपयोग में आने वाली दवा और दूसरी जरुरी चीजें शामिल हैं. आईटी विभाग से प्रशिक्षण मिलेगा और प्रशिक्षित लोगों का बैच बनाकर गांवों और बूथों तक कैसे पहुंचाना है इसकी रुपरेखा भी तैयार करना है.

स्वास्थ्य स्वयंसेवकों की क्या होगी जिम्मेदारी
जिन स्वास्थ्य सेवकों को ट्रेनिंग दी जाएगी वो कोरोना संक्रमण के दौरान अपने इलाके में संक्रमण फैलने से रोकने के उपाय तलाशना है. इसके अलावा अगर कोई व्यक्ति संक्रमित हो जाता है तो उसका क्या इलाज होना चाहिए और कहां उचित जगह पर ले जाना चाहिए जिससे कि उसकी जान बचाई जा सके. स्वास्थ्य स्वयंसेवक बूथ स्तर तक जाकर लोगों को जागरुक करने की भी कोशिश करेंगे.

पढ़ें Hindi News ऑनलाइन और देखें Live TV News18 हिंदी की वेबसाइट पर. जानिए देश-विदेश और अपने प्रदेश, बॉलीवुड, खेल जगत, बिज़नेस से जुड़ी News in Hindi.

विज्ञापन
विज्ञापन

विज्ञापन

टॉप स्टोरीज