कोरोना के खिलाफ कवच बनेगा टीका! यूपी-बिहार सहित इन राज्यों में मुफ्त लगेगी वैक्सीन

मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने बुधवार को ट्वीटर पर ऐलान किया कि प्रदेश में 18 वर्ष से ऊपर के सभी लोगों का मुफ्त में टीकाकरण किया जाएगा. फाइल फोटो

मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने बुधवार को ट्वीटर पर ऐलान किया कि प्रदेश में 18 वर्ष से ऊपर के सभी लोगों का मुफ्त में टीकाकरण किया जाएगा. फाइल फोटो

Covid-19 Vaccination: केंद्र के फैसले के बाद सबसे पहले उत्तर प्रदेश ने यह ऐलान किया कि राज्य के लोगों को मुफ्त टीका लगाया जाएगा.

  • News18Hindi
  • Last Updated: April 22, 2021, 5:44 AM IST
  • Share this:
नई दिल्ली. देश भर में 1 मई से 18 साल से ऊपर के लोगों के लिए टीकाकरण को खोल दिया जाएगा. केंद्र सरकार के इस फैसले के बाद कई राज्यों ने अपने यहां सभी को मुफ्त टीका देने का ऐलान किया है. केंद्र के फैसले के बाद सबसे पहले उत्तर प्रदेश ने यह ऐलान किया कि राज्य के लोगों को मुफ्त टीका लगाया जाएगा. यूपी के साथ केरल, मध्य प्रदेश, बिहार, असम और छत्तीसगढ़ ने भी लोगों को मुफ्त टीका देने का ऐलान किया है.

केरल

केरल के मुख्यमंत्री पिनरई विजयन ने बुधवार की शाम को कहा कि राज्य के 18 साल से ऊपर के लोगों को मुफ्त में कोरोना वायरस का टीका दिया जाएगा. विजयन ने कहा कि राज्य सरकारों को वैक्सीन का टीका खरीदने को कहा गया है, लेकिन कोरोना संक्रमण के चलते राज्य पहले से ही वित्तीय बोझ से गुजर रहे हैं. विजयन ने कहा कि राज्यों को आर्थिक संकट की ओर धकेलने के बजाय केंद्र को राज्यों को मुफ्त में टीका देना चाहिए.

बिहार
मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने बुधवार को ट्वीटर पर ऐलान किया कि प्रदेश में 18 वर्ष से ऊपर के सभी लोगों का मुफ्त में टीकाकरण किया जाएगा. बता दें कि बिहार में पहले से ही लोगों का मुफ्त में टीकाकरण किया जा रहा है. राज्य विधानसभा चुनाव में एनडीए ने अपने घोषणा पत्र में मुफ्त टीका देने का वादा किया था. सत्ता में लौटने के बाद नीतीश कुमार की अगुवाई वाली एनडीए सरकार ने मुफ्त में टीका देने पर मुहर लगा दी गई थी. राज्य के सरकारी और प्राइवेट अस्पतालों में मुफ्त टीकाकरण चल रहा है.

उत्तर प्रदेश

मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने कहा कि राज्य सरकार अपने संसाधनों से मुफ्त टीकाकरण कार्यक्रम चलाएगी. सीएम ने कहा कि टीकाकरण अभियान को व्यापक स्तर पर चलाने के लिए स्वास्थ्य विभाग कार्य योजना बनाकर काम करे. उन्होंने कहा कि हमें वैक्सीनेशन सेंटर बढ़ाने होंगे. 18 साल से ऊपर के लोगों का डाटा बेस तैयार करना होगा. साथ ही वैक्सीन की निर्बाध आपूर्ति भी सुनिश्चित करनी होगी. सीएम योगी ने कहा कि कोल्ड चेन सहित वैक्सीन का सुरक्षित भंडारण और परिवहन की व्यवस्था भी की जाए.



असम

स्वास्थ्य मंत्री हिमंता बिस्व सरमा ने बुधवार को कहा कि राज्य सरकार एक मई से 18 से 45 वर्ष की आयु के लोगों का मुफ्त में टीकाकरण कराएगी. उन्होंने कहा कि पिछले साल कोविड-19 से निपटने के लिए मिली दान राशि का इस्तेमाल इस उद्देश्य के वास्ते किया जाएगा. राज्य का स्वास्थ्य विभाग भारत बायोटेक को पहले ही टीके की एक करोड़ खुराक के लिए पत्र लिख चुका है. उल्लेखनीय है कि सरमा ने पिछले साल सितंबर में विधानसभा को बताया था कि 53,534 लोगों ने कोविड-19 के खिलाफ राज्य सरकार की कोशिशों में मदद करने के लिए 116.1 करोड़ रुपये का दान असम आरोग्य निधि में दिया है.

मध्य प्रदेश

मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने बुधवार को घोषणा की कि एक मई से प्रदेश में 18 वर्ष से अधिक आयु के सभी लोगों को कोविड-19 का टीका निःशुल्क लगाया जाएगा. चौहान ने ट्वीट किया, ‘‘मध्य प्रदेश में 18 वर्ष से अधिक आयु के सभी लोगों को कोविड-19 का टीका निःशुल्क लगाया जाएगा.’’ चौहान ने एक अन्य ट्वीट में लिखा, ‘‘प्रिय बहनों और भाइयों, यदि कोविड-19 को हराना है तो संक्रमण की चेन को तोड़ना होगा और संक्रमण की चेन तोड़ने के लिए घर पर रहना होगा. अपने गांव, शहर, कॉलोनी या मोहल्ले में कोरोना कर्फ्यू लगा दें, 30 अप्रैल तक घर पर ही रहेंगे. घर पर रहें और कोरोना को हराएं.’’
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज