Assembly Banner 2021

कोरोना वैक्सीनेशन के दूसरे चरण में जान लीजिए सरकार की बड़ी तैयारी

कोरोना वैक्‍सीनेशन को लेकर डॉक्‍टर हर्षवर्धन ने कई अहम जानकारी दी हैं. (फोटो साभार-ANI)

कोरोना वैक्‍सीनेशन को लेकर डॉक्‍टर हर्षवर्धन ने कई अहम जानकारी दी हैं. (फोटो साभार-ANI)

Covid-19 Vaccination: डॉक्‍टर हर्षवर्धन ने कहा कि देश में ऐसे कई लोग हैं जो बुकिंग की कठिनाइयों का सामना नहीं कर सकते. ऐसे लोगों के लिए एक हफ्ते के अंदर सिस्‍टम को सुव्‍यवस्थित किया जाएगा.

  • Share this:
नई दिल्‍ली. कोरोना वायरस महामारी (Coronavirus) के खिलाफ टीकाकरण (Vaccination) का दूसरा चरण आज से शुरू हो गया है. इस चरण में 60 साल से ज्यादा उम्र और गंभीर बीमारियों से पीड़ितों का भी टीकाकरण होगा. प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने भी आज कोवैक्‍सीन का पहला डोज लिया. इस बीच, कोविन ऐप और पोर्टल को लेकर कुछ लोगों में उलझन भी दिख रही है. जिसे केंद्रीय स्‍वास्‍थ्‍य मंत्री डॉक्‍टर हर्षवर्धन ने दूर करने की कोशिश की है.

डॉक्‍टर हर्षवर्धन ने कहा कि देश में ऐसे कई लोग हैं जो बुकिंग की कठिनाइयों का सामना नहीं कर सकते. ऐसे लोगों के लिए एक हफ्ते के अंदर सिस्‍टम को सुव्‍यवस्थित किया जाएगा. अभी तक कोविन ऐप में किसी तरह की दिक्‍कत सामने नहीं आई है. उन्‍होंने कहा कि हमने राज्‍य सरकारों को कुछ छूट दी है. अगले कुछ दिनों में वॉक-इन सिस्टम को सुव्यवस्थित किया जाएगा. इसके लिए एक प्रावधान किया गया है. बुकिंग के जरिए अपॉइंटमेंट लेने के बाद निश्चित संख्या में लोग वैक्‍सीनेशन सेंटर जा सकते हैं.

बता दें कि अब सुप्रीम कोर्ट के जजों और उनके परिवार के सदस्‍यों का भी टीकाकरण होगा. सुप्रीम कोर्ट के जजों का कल से कोरोना टीकाकरण शुरू होगा. पीएम मोदी समेत कई मुख्‍यमंत्रियों और मंत्रियों ने आज कोरोना का टीका लगवाया है.



छह राज्यों में कोविड-19 के मामलों में वृद्धि, भारत में इलाजरत मरीजों की कुल संख्या 1,68,627 हुई
महाराष्ट्र, केरल, पंजाब, कर्नाटक, तमिलनाडु और गुजरात में कोविड-19 के मामलों में वृद्धि हुई है और पिछले 24 घंटे में सामने आए 15,510 नए मामलों में 87.25 प्रतिशत इन्हीं राज्यों से हैं. यह जानकारी सोमवार को केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्रालय ने दी. मंत्रालय ने कहा कि भारत में कोरोना वायरस संक्रमण का इलाज करा रहे लोगों की कुल संख्या बढ़कर 1,68,627 पहुंच गई है, जो संक्रमण के कुल मामलों का 1.52 फीसदी है. मंत्रालय ने बताया कि देश में संक्रमण का इलाज करा रहे लोगों की कुल संख्या का 84 फीसदी पांच राज्यों में है.

ये भी पढ़ें: पीएम मोदी ने लगवाया कोरोना का टीका, एम्स डायरेक्टर गुलेरिया ने समझाया क्या होगा फायदा

ये भी पढ़ें: प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के टीकाकरण पर अब राजनीति, अधीर रंजन बोले- गीतांजलि भी रख लेते तो सब पूरा हो जाता

भारत में इलाजरत मरीजों में 46.39 फीसदी मरीज महाराष्ट्र में हैं, इसके बाद केरल का स्थान है, जहां 29.49 फीसदी लोग संक्रमण का इलाज करा रहे हैं. मंत्रालय ने बताया, '15 राज्यों और केंद्र शासित प्रदेशों में एक हजार से अधिक इलाजरत मरीज हैं. केरल और महाराष्ट्र दो ऐसे राज्य हैं जहां कोविड-19 के इलाजरत मरीजों की संख्या 10 हजार से अधिक है, जबकि शेष 13 राज्यों और केंद्र शासित प्रदेशों में इलाजरत मरीजों की संख्या एक हजार से दस हजार के बीच है.'

मंत्रालय ने बताया कि ब्रिटेन, दक्षिण अफ्रीका और ब्राजील जैसे सार्स-कोव-2 के मामलों की संख्या देश में 213 तक हो गई है. पिछले 24 घंटे में 15,510 नए मामले सामने आए हैं. महाराष्ट्र में सर्वाधिक 8293 मामले, जबकि केरल में 3254 और पंजाब में 579 नए मामले सामने आए हैं. केंद्र उन राज्यों के लगातार संपर्क में है, जहां संक्रमण के इलाजरत रोगियों की संख्या ज्यादा है और जहां संक्रमण के नए मामले बढ़ रहे हैं. इसने कहा, 'आठ राज्यों में रोजाना नए मामलों की संख्या बढ़ रही है.'

अभी तक 2,92,312 सत्रों के माध्यम से लाभार्थियों को टीके की 1,43,01,266 खुराक दी जा चुकी हैं. इनमें पहली खुराक और दूसरी खुराक भी शामिल है. मंत्रालय ने बताया, 'कोविड-19 टीकाकरण का अगला चरण आज से उन लोगों के लिए शुरू हुआ है जिनकी उम्र 60 वर्ष से अधिक है और ऐसे लोगों के लिए भी शुरू हुआ है, जिनकी उम्र 45 वर्ष से अधिक है लेकिन वे दूसरी अन्य गंभीर बीमारियों से पीड़ित हैं.' मंत्रालय ने बताया कि नए ठीक हुए मामलों में 85.07 फीसदी छह राज्यों में हैं. इसके अलावा पिछले 24 घंटे में 106 लोगों की मौत हुई है. पिछले 24 घंटे में 20 राज्यों और केंद्र शासित प्रदेशों में कोरोना वायरस से किसी की मौत नहीं हुई है.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज