मास्क पहनने से चिढ़ते हैं आप? अब एक्सपर्ट दे रहे दो मास्क पहनने की सलाह

डबल मास्क को कोरोना से बचाव में कारगर माना जा रहा है. (सांकेतिक तस्वीर-Reuters)

डबल मास्क को कोरोना से बचाव में कारगर माना जा रहा है. (सांकेतिक तस्वीर-Reuters)

एक्सपर्ट्स (Experts) दो सर्जिकल मास्‍क पहनने को सही नहीं मानते. स्टैंडर्ड सर्जिकल मास्क कागज जैसे मटेरियल का बना होता है. सर्जिकल मास्क नाक और मुंह को पूरी तरह से कवर नहीं करते हैं. सर्जिकल मास्‍क पहनने पर साइड से कुछ गैप रह जाता है, जिससे वायरस का खतरा और बढ़ जाता है. सर्जिकल मास्क के ऊपर अगर कपड़े वाले मास्क का इस्‍तेमाल किया जाए तो किसी भी तरह के वायरस से बचा जा सकता है.

  • News18Hindi
  • Last Updated: April 22, 2021, 4:50 PM IST
  • Share this:
नई दिल्ली. कोरोना की दूसरी भयावह लहर (Covid-19 Second Wave) के बीच एक्सपर्ट्स का कहना है कि अगर दो मास्क (Double Mask) सही तरीके से पहने जाएं तो संक्रमण से बचाव दोगुनी सहायता मिलेगी. डबल मास्क पहनने की जरूरत पर एम्स के डायरेक्टर रणदीप गुलेरिया ने कहा है कि सबसे बेहतर विकल्प तो N-95 मास्क हैं. लेकिन अगर ये न मिलें तो दो मास्क पहने जा सकतें हैं. इनमें से एक मास्क सर्जिकल होगा और दूसरा सामान्य कपड़ों वाला.

एक्सपर्ट्स दो सर्जिकल मास्‍क पहनने को सही नहीं मानते. बता दें कि स्टैंडर्ड सर्जिकल मास्क कागज जैसे मटेरियल का बना होता है. सर्जिकल मास्क नाक और मुंह को पूरी तरह से कवर नहीं करते हैं. सर्जिकल मास्‍क पहनने पर साइड से कुछ गैप रह जाता है, जिससे वायरस का खतरा और बढ़ जाता है. सर्जिकल मास्क के ऊपर अगर कपड़े वाले मास्क का इस्‍तेमाल किया जाए तो किसी भी तरह के वायरस से बचा जा सकता है.

मास्क न पहनने का भी रहा है चलन

बीते एक साल के दौरान ऐसी भी खबरे आई हैं कि लोगों को मास्क पहनने में दिक्कत हो रही है. यही कारण है कि रहा है कि देश के छोटे शहरों में पहली लहर के बाद जब छूट मिली तो लोगों ने मास्क पहनना लगभग छोड़ दिया था. अब दूसरी लहर का असर छोटे शहरों में बहुत व्यापक है. बीते साल ज्यादातर महानगर प्रभावित थे तो इस बार बी टाउन शहर कोरोना की बुरी चपेट में आ चुके हैं.
भारत में एक दिन में कोविड-19 के 3.14 लाख से ज्यादा मरीज

देश में गुरुवार को कोविड-19 के अब तक के सर्वाधिक 3.14 लाख से ज्यादा मामले आने के साथ ही संक्रमितों की संख्या बढ़कर 1,59,30,965 हो गयी. दुनिया के किसी भी देश में एक दिन में कोरोना वायरस संक्रमण का यह सर्वाधिक आंकड़ा है. केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्रालय के सुबह आठ बजे अद्यतन किए गए आंकड़ों के मुताबिक, पिछले 24 घंटे में संक्रमण के 3,14,835 मामले आए जबकि 2104 और मरीजों की मौत हो जाने से अब तक इस महामारी की वजह से जान गंवाने वालों की संख्या बढ़कर 1,84,657 हो गई है.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज