होम /न्यूज /राष्ट्र /

कोरोना वायरस: चीन ने भारत को दिया धोखा? सेफ्टी टेस्ट में फेल हुईं 50,000 PPE किट

कोरोना वायरस: चीन ने भारत को दिया धोखा? सेफ्टी टेस्ट में फेल हुईं 50,000 PPE किट

आसान नहीं है PPE सूट पहन कर काम करना

आसान नहीं है PPE सूट पहन कर काम करना

चीन ने दुनिया भर में कोविड-19 (Covid19 India) का मुकाबला करने के लिए कई उपकरण दान किये और बेचे, लेकिन हर जगह से शिकायत ही आ रही है.

    नई दिल्ली. देश भर में कोरोना वायरस (Coronavirus) के मामले लगातार बढ़ते जा रहे हैं. गुरुवार तक देश में कुल 12,000 मामले सामने आए हैं. इन सबके बीच भारत ने चीन से डेढ़ करोड़ पीपीई किट्स का ऑर्डर किया है. इस बीच चीन की बड़ी निजी कंपनियों की तरफ से भारत को दान स्वरूप मिली कई किट्स जांच में फेल हो गई हैं.

    द इकॉनमिक टाइम्स के अनुसार इस मामले से जुड़े एक शख्स ने बताया कि चीन से 1,70,000 PPE किट्स आई हैं, जिसमें 50,000 किट्स क्वालिटी टेस्ट में फेल हो गईं. शख्स ने बताया कि 30,000 और 10,000 किट्स के दो छोटे कंसाइनमेंट्स भी आईं जो टेस्ट में फेल हो गई हैं. ये किट्स डिफेंस रिसर्च एंड डेवलपमेंट ऑर्गनाइजेशन लेबोरेट्री ग्वालियर में टेस्ट की गईं.

    चीन से ही लिए सभी सूट 
    रिपोर्ट के अनुसार, एक ओर सरकारी अधिकारियों ने कहा कि वे केवल CE/FDAcertified PPE किट खरीद रहे हैं. दान के रूप में प्राप्त कुछ किट्स गुणवत्ता परीक्षण में विफल रहे और उनका उपयोग नहीं किया जा सकता है. वहीं इस मामले से जुड़े व्यक्ति ने कहा कि एफडीए/सीई- स्वीकृत को भारत में गुणवत्ता परीक्षण पास करना होगा.

    रिपोर्ट के अनुसार, जो किट्स टेस्ट में फेल पाई गईं. वे भारत में बड़ी निजी कंपनियों से दान के रूप में मिली थीं. अखबार की रिपोर्ट के अनुसार, इस पूरी प्लानिंग के बारे में जानकारी रखने वाले लोगों ने बताया कि कमी को पूरा करने के लिए व्यापारियों के माध्यम से एक अतिरिक्त 1 लाख सूट का ऑर्डर दिया गया है, जिसमें एक सिंगापुर की कंपनी भी शामिल है. हालांकि, सभी सूट चीन से ही लिए जाएंगे.

    घरेलू निर्माण में आ रही तेजी
    रिपोर्ट के अनुसार, शख्स ने कहा कि मई के पहले वीकेंड तक हमारे पास ये सूट होने चाहिए. उन्होंने कहा कि और ऑर्डर दिए जा रहे हैं. सरकार का अनुमान है कि अगर भारत में 2 मिलियन पीपीई सूट हों तो भारत अच्छी स्थिति में होगा. सरकारी अधिकारियों ने कहा कि घबराने की जरूरत नहीं है.

    एक वरिष्ठ सरकारी अधिकारी ने कहा कि ऑर्डर्स की संख्या बढ़ रही है. चीन मेजर सप्लायर है. हम पहले आयात पर पूरी तरह से निर्भर थे और कभी उम्मीद नहीं थी कि मांग में वृद्धि होगी. उन्होंने बताया कि घरेलू विनिर्माण में तेजी आ रही है.

    यह भी पढ़ें:  आयुष मंत्रालय ने बताया Immunity बूस्टर है काढ़ा, जानिए इसके और भी फायदेundefined

    Tags: China, Corona Virus, Coronavirus in India, COVID 19, India, World, World news

    विज्ञापन

    विज्ञापन

    टॉप स्टोरीज

    अधिक पढ़ें

    अगली ख़बर