होम /न्यूज /राष्ट्र /कोरोना महामारी की वजह से इन मांओं को बदलने पड़े अपने बच्‍चे, जानें क्‍या है पूरा मामला

कोरोना महामारी की वजह से इन मांओं को बदलने पड़े अपने बच्‍चे, जानें क्‍या है पूरा मामला

कोविड-19: संक्रमित व असंक्रमित महिलाओं ने बच्चों की अस्थायी तौर पर अदला-बदली की

कोविड-19: संक्रमित व असंक्रमित महिलाओं ने बच्चों की अस्थायी तौर पर अदला-बदली की

Coronavirus in Sikkim: एक महिला कोविड-19 से संक्रमित पायी गई और उसका बच्चा संक्रमित नहीं है जबकि दूसरी महिला संक्रमित न ...अधिक पढ़ें

    गंगटोक. कोरोना वायरस (Coronavirus) ने दो मांओं को अपने बच्चों की उचित देखभाल की खातिर उनकी अस्थायी तौर पर अदलाबदली करने के लिए मजबूर कर दिया. दरअसल, ऐसा इसलिए हुआ क्योंकि एक महिला कोविड-19 से संक्रमित पायी गई और उसका बच्चा संक्रमित नहीं है जबकि दूसरी महिला संक्रमित नहीं है लेकिन उसका बच्चा संक्रमित है. अधिकारियों ने रविवार को यह जानकारी दी.

    संक्रमित बच्‍चे की देखरेख करेगी संक्रमित महिला
    एक स्वस्थ मां का 27 महीने का बच्चा कोविड-19 से पीड़ित है. ऐसे में एसटीएनएम अस्पताल के चिकित्सकों ने संक्रमित बच्चे को उस महिला की देखरेख में रख दिया जो खुद संक्रमित है लेकिन उसका छह वर्षीय बच्चा संक्रमित नहीं है. अधिकारियों ने बताया कि फिलहाल के लिए उस छह वर्षीय बच्चे को स्वस्थ महिला की देखरेख में दे दिया गया.

    6 साल के बच्‍चे के परिवार के सभी सदस्‍य कोरोना पॉजिटिव
    एसटीएनएम अस्पताल के एक बाल रोग विशेषज्ञ ने बताया, 'छह वर्षीय बच्चे के परिवार के सभी सदस्य कोविड-19 से पीड़ित हैं. बच्चे की देखरेख के लिए घर में कोई नहीं था. तब हमें एक महिला के बारे में पता चला जो खुद स्वस्थ है लेकिन उसका 27 माह का बच्चा संक्रमित पाया गया है. वह महिला भी अपने बच्चे के लिए परेशान थी.

    उन्होंने बताया, 'इसलिए दोनों मांओं ने बच्चों की बेहतर देखभाल के लिए उनकी अस्थायी तौर पर अदलाबदली कर ली.' अधिकारियों ने बताया कि 27 माह का संक्रमित बच्चा कोरोना वायरस से संक्रमित महिला के साथ अस्पताल के पृथक वार्ड में है और छह वर्षीय स्वस्थ बच्चे को गंगटोक में एक स्कूल में बनाए गए पृथक-वास केंद्र में स्वस्थ मां के साथ रखा गया है. बच्चों की अदला-बदली शुक्रवार सुबह की गई. सिक्किम में कोविड-19 से पीड़ित 63 लोगों का इलाज चल रहा है, ये सभी अन्य राज्यों से यहां लौटे हैं.

    ये भी पढ़ें:

    केंद्र का दिल्ली को निर्देश- कोविड टेस्ट रिपोर्ट के बिना परिजनों को सौंपें शव

    बंगाल में पहली बार एक्टिव मामलों की संख्या हुई कम, 45% बढ़ा डिस्चार्ज रेट

    Tags: Coronavirus, Lockdown, Sikkim

    विज्ञापन

    टॉप स्टोरीज

    अधिक पढ़ें