कोविड 19: कर्नाटक में काम के भारी दबाव के चलते डॉक्टर ने की आत्महत्या!

कोविड 19: कर्नाटक में काम के भारी दबाव के चलते डॉक्टर ने की आत्महत्या!
सहयोगियों के मुताबिक डॉक्टर पर काम का दबाव था. (प्रतीकात्मक तस्वीर)

मृतक के सहयोगियों ने आरोप लगाया कि वह काम के दबाव (Work Pressure) में थे. राज्य सरकार (State Government) ने कहा कि डॉक्टर की मौत के मामले में जांच (Investigation) के आदेश दिए गए हैं

  • News18Hindi
  • Last Updated: August 20, 2020, 11:45 PM IST
  • Share this:
बेंगलुरु. कर्नाटक (Karnataka) के मैसूर (Mysore) जिले में कोविड ड्यूटी (Covid-19 Duty) में तैनात 43 वर्षीय सरकारी डॉक्टर (Goverment Doctor) ने कथित तौर पर आत्महत्या (Suicide) कर ली. मृतक के सहयोगियों ने आरोप लगाया कि वह काम के दबाव (Work Pressure) में थे. राज्य सरकार (State Government) ने कहा कि डॉक्टर की मौत के मामले में जांच (Investigation) के आदेश दिए गए हैं और कोविड ड्यूटी में तैनात कर्मियों को किसी तरह के दबाव में ऐसा कदम नहीं उठाने का सुझाव भी दिया है.

पुलिस ने बताया-आवास पर लटकता पाया गया शव
पुलिस के मुताबिक, तहसील स्वास्थ्य अधिकारी डॉ एसआर नागेंद्र का शव अलनाहल्ली के उनके आवास में लटकता पाया गया, जहां वे अकेले ही रह रहे थे. पुलिस ने कहा कि वायरस की चपेट में आने के डर के चलते नागेंद्र का परिवार जिले में ही अन्य स्थान पर रह रहा था. नागेंद्र के कुछ सहयोगियों ने कहा कि कोविड ड्यूटी में तैनाती के कारण उन पर काम का काफी दबाव था.

राज्य के चिकित्सा मंत्री ने ट्वीट कर जताया दुख
डॉक्टर की मौत पर शोक जताते हुए राज्य के चिकित्सा शिक्षा मंत्री डॉ के. सुधाकर ने ट्वीट कर कहा कि कोरोना योद्धा किसी भी तरह के दबाव में ऐसा कदम नहीं उठाएं और अपनी समस्याओं को अपने वरिष्ठों के साथ साझा करें. राज्य के स्वास्थ्य मंत्री बी. श्रीरामुलु ने भी डॉक्टर की मौत पर शोक व्यक्त करते हुए मामले की जांच के आदेश दिए.



अनलॉकिंग के बाद तेजी के साथ बढ़े मरीज
गौरतलब है कि मार्च महीने में देशभर में शुरू हुए लॉकडाउन के बाद कर्नाटक ने कोविड-19 को रोकने में काफी हद तक सफलता पाई थी. पड़ोसी राज्य केरल के अलावा कर्नाटक की भी कोरोना के खिलाफ उठाए गए कदमों को लेकर काफी तारीफ की गई थी. लेकिन जून महीने में अनलॉकिंग की प्रक्रिया शुरू होने के बाद राज्य में कोरोना मरीजों की संख्या में बहुत तेजी के साथ इजाफा हुआ है. अब तक राज्य में कोरोना के कुल 2,49,590 केस सामने आए हैं. इनमें से 1,64,150 स्वस्थ भी हो चुके हैं. इस वक्त एक्टिव केस की संख्या 81113 है. महामारी से 4327 लोगों ने जान गंवाई है.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज