कोविड-19: अब सबसे ज्यादा प्रभावित दिल्ली, जानिए क्या है सरकारी तैयारी

कोविड-19: अब सबसे ज्यादा प्रभावित दिल्ली, जानिए क्या है सरकारी तैयारी
अब दिल्ली में हुए कोरोना के सबसे ज्यादा मरीज. (प्रतीकात्मक तस्वीर-AP)

बीते एक सप्ताह से दिल्ली में तकरीबन रोज 3 हजार से ज्यादा कोरोना संक्रमण (Covid-19 Infection) के नए मामले (New Cases) सामने आ रहे हैं. ऐसे में सरकार ने भी महामारी को रोकने की रणनीति में बदलाव किया है.

  • Share this:
नई दिल्ली. राष्ट्रीय राजधानी दिल्ली (Delhi) अब कोरोना वायरस (Corona Virus) से सबसे ज्यादा प्रभावित है. बीते 24 घंटे के अंदर 3,788 नए मामलों के साथ दिल्ली ने मुंबई (Mumbai) को पीछे छोड़ दिया है. दिल्ली में कोरोना संक्रमितों (Covid-19 Patients) की संख्या 70,390 हो गई है, जबकि मुंबई में कुल 69,528 कोरोना मरीज हैं. बीते एक सप्ताह से दिल्ली में तकरीबन रोज 3 हजार से ज्यादा कोरोना संक्रमण के नए मामले सामने आ रहे हैं. ऐसे में सरकार ने भी महामारी को रोकने की रणनीति में बदलाव किया है.

सरकार ने बदली रणनीति
दिल्ली सरकार ने अब स्क्रीनिंग की संख्या बढ़ाने की रणनीति बनाई है. इसके तहत सबसे पहले राज्य के सभी कंटेनमेंट जोन में 30 जून तक दरवाजे-दरवाजे जाकर स्क्रीनिंग पूरी कर ली जाएगी. इसके बाद 6 जुलाई तक अन्य हिस्सों की स्क्रीनिंग की जानी है. नए प्लान के तहत अब टेस्टिंग की रफ्तार बढ़ाई जाएगी. नए केसों को जल्द से जल्द पकड़ने के लिए थर्मल स्कैनिंग की रफ्तार भी बढ़ाई जाएगी. नीति आयोग के सदस्य डॉ. वीके पॉल ने इसके लिए कई सुझाव दिए हैं.

फील्ड वर्कर्स करेंगे सर्वे
इंडियन एक्सप्रेस में प्रकाशित रिपोर्ट
में दिल्ली के एक अधिकारी ने बताया है-अब शहर के सभी घरों में फील्ड वर्कर्स सर्वे करेंगे. अब तक हम कंटेनमेंट जोन्स पर निगाह बनाए हुए हैं. ऐसे इलाकों पर भी सर्विलांस रखा गया है कि जहां पर संक्रमण दर अपेक्षाकृत दूसरी जगहों से ज्यादा है. अब नए प्लान के तहत अगर किसी में लक्षण मिले तो तुरंत उसकी जांच की जाएगी.



सर्विलांस के लिए टास्क फोर्स
सर्विलांस के लिए एक टास्क फोर्स बनाई गई है जिसमें दिल्ली पुलिस, एमसीडी, जिला सर्विलांस विभाग के अधिकारी, आरोग्य सेतु ऐप से जुड़े लोग और मेडिकल विभाग से जुड़े लोग होंगे. इन्हें दिल्ली में जिलेवार निगरानी की जिम्मेदारी दी जाएगी. कंटेनमेंट जोन भी बढ़ाए जा सकते हैं. अब तक दिल्ली में 266 कंटेनमेंट जोन हैं.

ये भी पढ़ें -बड़ी खबर- अब आएंगे चिप वाले ई-पासपोर्ट, पहले से ज्यादा होंगे सिक्योर

9 प्रतिशत तक की वृद्धि
दिल्ली में हाल के दिनों में कोरोना के नए मामलों 9 प्रतिशत तक की वृद्धि आई है. दिल्ली सरकार ने आंकलन किया है कि 30 जून तक राज्य में एक लाख के आस-पास कोरोना मरीज हो सकते हैं. और मध्य जुलाई तक ये संख्या सवा दो लाख के आस-पास पहुंच सकती है.

80 हजार बेड की व्यवस्था की तैयारी
बढ़ते मामलों के मद्देनजर दिल्ली सरकार ने 80 हजार बेड की व्यवस्था करने की तैयारी शुरू कर दी है. सरकार ने चालीस होटल्स, 77 बैंक्वेट हॉल को कोरोना हेल्थ केयर सेंटर में तब्दील करने की प्लानिंग की है. साथ रेलवे कोच में भी कोरोना सेंटर बनाने की शुरुआत की जा चुकी है. केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह ने बुधवार को कहा है कि दिल्ली में दस हजार बेड का एक कोविड केयर सेंटर अगले सप्ताह से काम शुरू कर देगा.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज