जानें, दिल्‍ली के अस्‍पतालों के लिए कैसे 'देवदूत' बनकर पहुंची ये स्‍पेशल ट्रेन...

छत्‍तीसगढ़ के रायगढ़ जिंदल स्टील वर्क्स प्लांट से यह ऑक्‍सीजन दिल्‍ली के अस्‍पतालों के लिए भेजी गई है...

छत्‍तीसगढ़ के रायगढ़ जिंदल स्टील वर्क्स प्लांट से यह ऑक्‍सीजन दिल्‍ली के अस्‍पतालों के लिए भेजी गई है...

Oxygen Express : मंगलवार तड़के दिल्‍ली कैंट रेलवे स्‍टेशन पर इस ऑक्‍सीजन एक्‍सप्रेस के पहुंचने का इंतजार रेलवे एवं सुरक्षा अधिकारियों को बड़ी बेसब्री से था. इस ट्रेन के जरिये ऑक्सीजन के 4 टैंकर लाए जा रहे थे. तड़के करीब 4 बजे यह ट्रेन स्‍टेशन पर पहुंची. इस ट्रेन में लोड चार टैंकरों में करीब 70 मीट्रिक टन लिक्विड मेडिकल ऑक्‍सीजन थी.

  • News18Hindi
  • Last Updated: April 27, 2021, 5:18 PM IST
  • Share this:
नई दिल्‍ली : कोरोना महामारी (Covid 19) में ऑक्‍सीजन की भारी कमी से जूझ रही दिल्‍ली (Delhi) के लिए सुबह रायगढ़ से आई एक ट्रेन थोड़ी राहत लेकर आई. दरअसल, इस विशेष ट्रेन 'ऑक्‍सीजन एक्‍सप्रेस' (Oxygen Express) के जरिये दिल्‍ली में लिक्विड मेडिकल ऑक्‍सीजन (Liquid medical oxygen) के चार टैंकर लाए गए. इन टैंकरों को अलग-अलग अस्‍पतालों में ऑक्‍सीजन की सप्‍लाई के लिए रवाना कर द‍िया गया है.

मंगलवार तड़के दिल्‍ली कैंट रेलवे स्‍टेशन पर इस ऑक्‍सीजन एक्‍सप्रेस के पहुंचने का इंतजार रेलवे एवं सुरक्षा अधिकारियों को बड़ी बेसब्री से था. इस ट्रेन के जरिये ऑक्सीजन के 4 टैंकर लाए जा रहे थे. तड़के करीब 4 बजे यह ट्रेन स्‍टेशन पर पहुंची. इस ट्रेन में लोड चार टैंकरों में करीब 70 मीट्रिक टन लिक्विड मेडिकल ऑक्‍सीजन थी.

Youtube Video


छत्‍तीसगढ़ के रायगढ़ जिंदल स्टील वर्क्स प्लांट से यह ऑक्‍सीजन दिल्‍ली के अस्‍पतालों के लिए भेजी गई है, ताकि यहां मरीजों के लिए जीवनदायिनी ऑक्‍सीजन की आपूर्ति हो सके. इस दौरान रेलवे स्टेशन पर भारी संख्या में सुरक्षाबल की मौजूदगी थी. इनकी देखरेख में इन टैंकरों को ट्रेन से अनलोड किया गया, जिसके बाद इन्‍हें दिल्‍ली में अलग-अलग जगहों पर रवाना कर दिया गया, ताकि अस्‍पतालों में लिक्विड मेडिकल ऑक्‍सीजन भेजी जा सके.
दरअसल, कोरोना महामारी में दिल्‍ली मेडिकल ऑक्‍सीजन की भारी किल्‍लत से जूझ रही है. खुद दिल्‍ली के मुख्‍यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने पीएम मोदी और अन्य राज्यों के अपने समकक्षों को पत्र लिखकर राष्ट्रीय राजधानी को ऑक्सीजन की आपूर्ति किए जाने का अनुरोध किया था. दिल्ली के जयपुर गोल्डन अस्पताल में ऑक्सीजन की कमी के चलते 20 मरीजों की मौत होने के बाद केजरीवाल ने ऑक्सीजन आपूर्ति के लिए अनुरोध किया था. कोविड-19 के बढ़ते मामलों के बीच राष्ट्रीय राजधानी के अस्पतालों को ऑक्सीजन की कमी का सामना करना पड़ रहा है. इस वक्‍त दिल्ली को रोजाना 700 मिट्रिक टन ऑक्सीजन की आवश्यकता है.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज