Corona Return: राजस्थान में ट्रेन से आने वाले इन 6 राज्यों के यात्रियों को देनी होगी RT-PCR नेगेटिव रिपोर्ट

राजस्थान में कोरोना वैक्सीनेशन.

राजस्थान में कोरोना वैक्सीनेशन.

पड़ोसी राज्यों में कोरोना (COVID-19) के बढ़ते मामलों को देखते हुये प्रदेश की अशोक गहलोत सरकार (Ashok Gehlot government) ने सावधानी के तौर पर एक बार फिर से बाहर से आने वाले यात्रियों के लिये RT-PCR नेगेटिव रिपोर्ट देना अनिवार्य कर दिया है.

  • Share this:
जयपुर. राजस्थान के पड़ोसी राज्यों में कोरोना (COVID-19) के एक बार फिर एक्टिव होने पर प्रदेश की गहलोत सरकार (Gehlot government) ने एहतियातन उपाय करने तेज कर दिए हैं. देश के 6 राज्यों केरल, महाराष्ट्र, गुजरात, हरियाणा, पंजाब और मध्यप्रदेश से राजस्थान में रेल से आने वाले यात्रियों (Railway passengers) की भी अब जांच-पड़ताल की जाएगी. इन राज्यों के यात्रियों को राजस्थान आगमन पर यात्रा प्रारंभ करने के 72 घंटे पूर्व कराई गई RT-PCR नेगेटिव रिपोर्ट देनी होगी.

राज्य के गृह विभाग ने टेस्ट रिपोर्ट की अनिवार्यता पर महाप्रबंधक, उत्तर पश्चिम रेलवे जयपुर को चिट्ठी लिखकर आदेशों की पालना सुनिश्चित करने के निर्देश दिए हैं. गृह विभाग के प्रिंसिपल सेक्रेट्री अभय कुमार ने के हस्ताक्षर से जारी आदेश के अनुसार उक्त छह राज्यों से आने वाले यात्रियों को 72 घंटे पूर्व कराई गई नेगेटिव रिपोर्ट अनिवार्य रूप से देनी होगी.

जिले के प्रवेश द्वार पर चेक पोस्ट स्थापित के निर्देश

गृह विभाग के आदेश के बाद प्रदेश के सभी जिला कलेक्टर्स ने जिलों के प्रवेश द्वार पर चेक पोस्ट स्थापित करने के निर्देश एसडीएम को दे दिए हैं. इन छह राज्यों के यात्रियों को सड़क मार्ग से राजस्थान आगमन पर चेक पोस्ट पर नेगेटिव रिपोर्ट दिखानी होगी. हाल ही में गृह विभाग ने मुख्यमंत्री अशोक गहलोत के आदेशों की पालना सुनिश्चित करने के लिए प्रदेश के सभी जिला कलेक्टर्स को जिले के प्रवेश द्वार पर पूर्व की भांति चैक पोस्ट स्थापित करने के निर्देश दिए थे.
Youtube Video


पॉजिटिव होने पर 14 दिन के लिये होना होगा होम क्वॉरेंटाइन

राज्य सरकार ने 25 फरवरी को केरल और महाराष्ट्र से आने वाले यात्रियों के लिए नेगेटिव रिपोर्ट देना अनिवार्य किया था. हालांकि बाद में सरकार ने उसमें कुछ शिथिलता भी प्रदान की थी. इन दोनों राज्यों से आने वाले यात्रियों के राजस्थान आगमन पर यदि कोई यात्री रिपोर्ट देने में असमर्थ रहता है और स्क्रीन के दौरान कोरोना पॉजिटिव पाया जाता है तो उसे 14 दिन होम क्वॉरेंटाइन करने के आदेश जारी किये गये हैं.



सीएम गहलोत ने की यह अपील

उल्लेखनीय है कि मुख्यमंत्री अशोक गहलोत ने कोरोना वायरस की रोकथाम के लिए राज्य सरकार की ओर से जारी दिशा निर्देशों की पालना अनिवार्य रूप से सुनिश्चित करने के निर्देश सभी अधिकारियों को दिए थे. मुख्यमंत्री ने प्रदेशवासियों से अपील की है कि सभी लोग कोरोना वायरस की रोकथाम के लिए राज्य सरकार का सहयोग करें.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज