COVID-19: देश में कोरोना से हुईं कितनी मौतें? सरकार ने बताया सच्चे-झूठे आंकड़ों का फर्क

कोरोना संक्रमण के चलते देश में 4 लाख से ज्यादा मरीजों की मौत हो चुकी है. (प्रतीकात्मक तस्वीर: AP)

Covid-19 Deaths: एक रिपोर्ट में हेल्थ मैनेजमेंट इंफर्मेशन सिस्टम (HMIS) के हवाले से बताया गया था कि मई 2019 की तुलना में मई 2021 में करीब 3 लाख ज्यादा मौतें हुई हैं. दावा किया गाय है कि यह आंकड़ा भारत के आधिकारिक कोविड-19 से मौत के आंकड़ों से 2.5 गुना ज्यादा है.

  • Share this:
    नई दिल्ली. कोविड-19 के चलते ऊंची मृत्यु दर (High Mortality Rate) और मौत के आंकड़ों में अंतर का दावा कर रही रिपोर्ट्स का सरकार ने खंडन किया है. सरकार ने रिपोर्ट्स में बताए गए आंकड़ों को 'मनगढंत' और 'भ्रामक' बताया है. साथ ही यह साफ किया है कि कोरोना वायरस से जुड़े डेटा की रिकॉर्डिंग के लिए एक मजबूत व्यवस्था मौजूद है. एक रिपोर्ट में हेल्थ मैनेजमेंट इंफर्मेशन सिस्टम (HMIS) के हवाले से बताया गया था कि मई 2019 की तुलना में मई 2021 में करीब 3 लाख ज्यादा मौतें हुई हैं. दावा किया गया है कि यह आंकड़ा भारत के आधिकारिक कोविड-19 से मौत के आंकड़ों से 2.5 गुना ज्यादा है.

    सरकार की तरफ से जारी बयान में कहा गया है, 'नेशनल हेल्थ मिशन के HMIS के डेटा के आधार पर कोविड के चलते ऊंची मृत्यु दर का दावा करती कुछ काल्पनिक मीडिया रिपोर्ट्स सामने आई हैं. यह रिपोर्ट गलत निष्कर्ष निकालने के लिए सिविल रजिस्ट्रेशन सिस्टम (CRS) और HMIS की तुलना करती हैं. ये रिपोर्ट्स बगैर किसी ठोस आधार के अनुमान और अटकले हैं.' कोरोना संक्रमण के चलते देश में 4 लाख 11 हजार 408 मरीजों की अब तक मौत हो चुकी है.

    सरकार ने बताया, 'HMIS में दर्ज मौत के आंकड़ों का हवाला देकर मीडिया रिपोर्ट में कहा गया है कि अन्य जानकारी की कमी के चलते इन मौतों को कोविड-19 से मौत ही माना जाना चाहिए. मीडिया रिपोर्ट के अनुसार ही ढाई लाख से ज्यादा मौतों का कारण पता नहीं है.' सरकार ने कहा है कि बगैर किसी ठोस आधार के किसी भी मौत का कारण कोविड-19 को बताना गलत है और ऐसे निष्कर्ष केवल कल्पनाएं हैं.

    सरकार ने दी डेटा मैनेजमेंट पर सफाई
    बयान में कहा है, 'रिपोर्ट की जारी मौतों के आंकड़ों में गलतियों में असंगति से बचने के लिए विश्व स्वास्थ्य संगठन की तरफ से सिफारिश किए गए ICD-10 कोड के हिसाब से सभी मौतों को आंकड़ों की रिकॉर्डिंग के लिए इंडियन काउंसिल ऑफ मेडिकल रिसर्च ने गाइडेंस जारी की है.' इसके अलावा सरकार ने जानकारी दी कि राज्यों और केंद्र शासित प्रदेशों को कई औपचारिक संचार, कई वीडियो कॉन्फ्रेंस और केंद्रीय टीमों के जरिए गाइडलाइंस के हिसाब से मौतों की संख्या की रिकॉर्डिंग की अपील की गई है.

    पढ़ें Hindi News ऑनलाइन और देखें Live TV News18 हिंदी की वेबसाइट पर. जानिए देश-विदेश और अपने प्रदेश, बॉलीवुड, खेल जगत, बिज़नेस से जुड़ी News in Hindi.