• Home
  • »
  • News
  • »
  • nation
  • »
  • corona vaccination drive in india: कोरोना टीकाकरण के लिए भारत तैयार, जानें इससे जुड़े हर सवाल का जवाब

corona vaccination drive in india: कोरोना टीकाकरण के लिए भारत तैयार, जानें इससे जुड़े हर सवाल का जवाब

16 हजार 755 लोग टीकाकरण अभियान में शामिल: स्वास्थ्य मंत्रालय (प्रतीकात्‍मक तस्‍वीर)

16 हजार 755 लोग टीकाकरण अभियान में शामिल: स्वास्थ्य मंत्रालय (प्रतीकात्‍मक तस्‍वीर)

Corona vaccination drive in india updates: अगले छह से आठ महीनों में जोखिम भरी परिस्थिति में काम करने वाले लगभग 30 करोड़ ज्यादा लोगों को टीके लगाए जाएंगे. 16 जनवरी से शुरू होने वाले टीकाकरण अभियान के साथ, इन दो टीकों के बारे में वह सब कुछ जानिए जो आपके लिए जरूरी है.

  • Share this:
    नई दिल्ली. भारत ने कोरोना वायरस (Coronavirus) के खिलाफ देश में प्रतिबंधित आपातकालीन उपयोग के लिए दो कोविड -19 टीकों (Covid-19 Vaccines) - कोविशील्ड (Covishield) और कोवैक्सीन (Covaxin) को मंजूरी दी है. ऑक्सफोर्ड-एस्ट्राजेनेका (Oxford-Astrazeneca) के टीके कोविशील्ड (Covishield) का निर्माण दुनिया के सबसे बड़े वैक्सीन उत्पादक पुणे स्थित सीरम इंस्टीट्यूट ऑफ इंडिया (Serum Institute of India) द्वारा किया गया है. वहीं, कोवैक्सीन को हैदराबाद स्थित भारत बायोटेक (Bharat Biotech) द्वारा भारतीय चिकित्सा अनुसंधान परिषद (ICMR) के साथ मिलकर विकसित किया गया है.

    सरकार ने सीरम इंस्टीट्यूट के साथ सोमवार को 1.1 करोड़ खुराक के लिए और भारत बायोटेक से 55 लाख खुराक के लिए खरीद समझौते पर हस्ताक्षर किए. अधिकारियों का अनुमान है कि, अगले छह से आठ महीनों में जोखिम भरी परिस्थिति में काम करने वाले लगभग 30 करोड़ ज्यादा लोगों को टीके लगाए जाएंगे. 16 जनवरी से शुरू होने वाले टीकाकरण अभियान के साथ, इन दो टीकों के बारे में वह सब कुछ जानिए जो आपके लिए जरूरी है-

    कैसे होगा रजिस्ट्रेशन
    पिछले साल दिसंबर में, केंद्र सरकार ने को-विन ऐप लॉन्च करने की घोषणा की थी जिससे कि नागरिकों को वैक्सीन के वितरण में एजेंसियों को सहायता मिल सके. ऐप को, खासतौर पर नागरिकों को टीकाकरण प्रक्रिया के लिए खुद से रजिस्ट्रेशन कराने के लिए सक्षम करने के लिए भी डिज़ाइन किया गया है.

    ये भी पढे़ं- केंद्र की दो टूक, वैक्सीन चुनने का ऑप्शन नहीं, 28 दिन बाद लगेगा दूसरा टीका

    देश में कोविड-19 वैक्सीन के लिए सुचारू ट्रैकिंग और पंजीकरण सुनिश्चित करने के लिए ऐप में पांच मॉड्यूल, अर्थात् - प्रशासक मॉड्यूल, पंजीकरण मॉड्यूल, टीकाकरण मॉड्यूल, लाभार्थी अभिस्वीकृति मॉड्यूल और रिपोर्ट मॉड्यूल मौजूद हैं. मोबाइल ऐप eVIN (इलेक्ट्रॉनिक वैक्सीन इंटेलिजेंस नेटवर्क) का भी अपग्रेडेड संस्करण है और यह गूगल प्ले स्टोर और एप्पल ऐप स्टोर के माध्यम से मुफ्त में डाउनलोड करने के लिए उपलब्ध होगा, हालांकि इसकी उपलब्धता का विवरण अस्पष्ट है. ऐप को जियो फोन पर भी लॉन्च किया गया है है जो KaiOS पर चलते हैं.

    ऐसे दी जाएगी वैक्सीन की खुराक
    कोविड-19 वैक्सीन की दो खुराक 28 दिनों के अंतर पर दी जाएगी. दूसरी खुराक दिए जाने के 14 दिन बाद वैक्सीन को सुरक्षा प्रदान करने की उम्मीद है. प्रशासित किए जाने वाले टीके की प्रभावशीलता खुराक मिलने के 14 दिनों के बाद देखी जाएगी और दो खुराकों के बीच 28 दिनों के अंतराल को बनाए रखना होगा.

    क्या होगी कीमत
    ऑक्सफोर्ड-एस्ट्राज़ेनेका के कोविशील्ड की कीमत 200 रुपये प्रति शॉट है और 10 रुपये जीएसटी के साथ, इसकी कीमत 210 रुपये होगी. सीरम इंस्टीट्यूट के मुख्य कार्यकारी अधिकारी अदार पूनावाला ने कहा "हमने भारत सरकार को पहली 100 मिलियन डोज़ उनके अनुरोध पर 200 रुपये की विशेष कीमत पर दी हैं."

    ये भी पढे़ं- पॉजिटिव पाए जाने के कुछ घंटे बाद ही नेगेटिव आई सायना नेहवाल की कोरोना रिपोर्ट

    कोवैक्सीन की प्रत्येक खुराक सभी करों के साथ 309.5 रुपये तक होगी. करों के बिना इसकी कीमत 295 रुपये होगी. हालांकि, सरकार ने पुष्टि की है कि 55 लाख कोवैक्सीन की खुराक, में से 16.5 लाख मुफ्त होंगी. अधिकारियों ने कहा कि यह प्रभावी रूप से प्रत्येक खुराक की कीमत को 206 रुपये तक कम कर देता है.

    पढ़ें Hindi News ऑनलाइन और देखें Live TV News18 हिंदी की वेबसाइट पर. जानिए देश-विदेश और अपने प्रदेश, बॉलीवुड, खेल जगत, बिज़नेस से जुड़ी News in Hindi.

    हमें FacebookTwitter, Instagram और Telegram पर फॉलो करें.

    विज्ञापन
    विज्ञापन

    विज्ञापन

    टॉप स्टोरीज