कोरोना वैक्सीन वितरण के लिए 80 हजार करोड़ के आकलन से सहमत नहीं: स्वास्थ्य मंत्रालय

वैक्सीन डिस्ट्रीब्यूशन संबंधी आंकलन को लेकर स्वास्थ्य मंत्रालय ने जवाब दिया है. (सांकेतिक तस्वीर)
वैक्सीन डिस्ट्रीब्यूशन संबंधी आंकलन को लेकर स्वास्थ्य मंत्रालय ने जवाब दिया है. (सांकेतिक तस्वीर)

स्वास्थ्य मंत्रालय (Health Ministry) के सचिव राजेश भूषण ने कहा है कि कोविड वैक्सीन (Covid-19 Vaccine) के डिस्ट्रीब्यूशन के लिए 80 हजार करोड़ के आंकलन से वो सहमत नहीं हैं. सीरम इंस्टीट्यूट ऑफ इंडिया के मुख्य कार्यकारी अधिकारी अदार पूनावाला ने इस संबंध में सरकार से सवाल पूछा था.

  • News18Hindi
  • Last Updated: September 29, 2020, 10:39 PM IST
  • Share this:
नई दिल्ली. सरकार ने मंगलवार को कहा कि वह उस आकलन से सहमत नहीं है कि देश में कोविड-19 के टीका वितरण (Covid-19 Vaccine) के लिए 80,000 करोड़ रुपये की जरूरत होगी. स्वास्थ्य मंत्रालय (Health Ministry) के सचिव राजेश भूषण सीरम इंस्टीट्यूट ऑफ इंडिया के मुख्य कार्यकारी अधिकारी अदार पूनावाला (Adar Poonawalla) के एक ट्वीट के संबंध में पूछे गए सवाल का जवाब दे रहे थे. पूनावाला ने सरकार से पूछा था कि अगले एक साल में कोविड-19 के टीका वितरण के लिए क्या उसके पास 80,000 करोड़ रुपये हैं.

पूनावाला ने सवाल किया था, ‘एक त्वरित सवाल, क्या भारत सरकार अगले एक साल में 80,000 करोड़ रुपये का इंतजाम कर पाएगी? क्योंकि भारत में हर किसी को टीका मुहैया कराने के लिए स्वास्थ्य एवं परिवार कल्याण मंत्रालय को टीका खरीदने के लिए इतने ही रुपये की जरूरत होगी. यह अगली चुनौती है जिससे हमें निपटना है.’






इस पर प्रतिक्रिया जताते हुए भूषण ने कहा, ‘हम 80,000 करोड़ रुपये के आकलन से सहमत नहीं हैं. सरकार ने टीका विशेषज्ञों की एक राष्ट्रीय कमेटी बनायी है और अब तक पांच बैठकें हो चुकी हैं. इन बैठकों में हमने कोविड-19 टीका वितरण की प्रक्रिया पर और प्राथमिकता वाली आबादी और उसके टीकाकरण के संबंध में इस पर होने वाले खर्च को लेकर विचार-विमर्श किया है.’

भूषण ने कहा, ‘बैठकों में हमने जरूरी रकम का आकलन किया है और वर्तमान में उतनी रकम सरकार के पास उपलब्ध है .’
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज