Covid-19 Vaccine: आज पूरे देश में वैक्सीनेशन का ड्राई रन, यहां जानें आपके सवालों के जवाब

कोरोना की वैक्सीन सबसे पहले देश के 1 करोड़ हेल्थ वर्कर्स को दी जाएगी. (फोटो- AP)

कोरोना की वैक्सीन सबसे पहले देश के 1 करोड़ हेल्थ वर्कर्स को दी जाएगी. (फोटो- AP)

Covid-19 Vaccine: कोरोना की वैक्सीन सबसे पहले देश के 1 करोड़ हेल्थ वर्कर्स को दी जाएगी. इसमें सरकारी और प्राइवेट दोनों हॉस्पिटल के कर्मचारी शामिल हैं.

  • News18Hindi
  • Last Updated: January 8, 2021, 6:28 PM IST
  • Share this:
नई दिल्ली. कोरोना की वैक्सीन (Covid-19 Vaccine) का इंतज़ार अब लगभग खत्म हो गया है. सरकार ने कोरोना की दो वैक्सीन- ऑक्सफोर्ड यूनिवर्सिटी-एस्ट्रेजेनेका की कोविशील्ड (Covishield) और भारत बायोटेक की कोववैक्सीन (Covaxin) को इमरजेंसी इस्तेमाल के लिए मंजूरी दे दी है. इसके अलावा देश के कई राज्यों में इन दिनों वैक्सीन लगाने को लेकर ड्राई रन भी किया जा रहा है. आज देश के 700 से ज्यादा शहरों में ड्राई रन हो रहा है. उम्मीद की जा रही है कि अगले हफ्ते से देशभर में वैक्सीन लगने का काम शरू हो जाएगा. केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्रालय ने राज्यों और केंद्र शासित प्रदेशों से कहा है कि उन्हें कोविड-19 टीके की पहली खेप जल्दी ही मिल सकती है और इसे लेने करने के लिए वे तैयार रहें.

आइए जानते हैं वैक्सीनेशन और ड्राई रन से जुड़े सभी सवालों के जवाब:- 

  • सरकार का वैक्सीनेशन प्लान क्या है?

    सरकार ने पूरे वैक्सीनेशन को तीन फेज में बांटा है. पहले फेज में प्राइमरी हेल्थ सेंटर तक वैक्सीन पहुंचाई जाएगी. दूसरे फेज में हितग्राही की पहचान और तीसरे फेज में वैक्सीनेशन के बाद निगरानी होगी. हर राज्य को पूरी प्रक्रिया विस्तार से समझाने के लिए दिशा-निर्देश जारी किए हैं.


  • किन राज्यों को पहले मिलेगी वैक्सीन?

    जिन राज्यों में सबसे पहले कोरोना की वैक्सीन मिल सकती है वो हैं- आंध्र प्रदेश, असम, बिहार, छत्तीसगढ़, दिल्ली, गुजरात, हरियाणा, झारखंड, कर्नाटक, केरल, मध्य प्रदेश, महाराष्ट्र, ओडिशा, पंजाब, राजस्थान, तमिलनाडु, तेलंगाना, उत्तर प्रदेश और पश्चिम बंगाल. बाकी 18 राज्यों और केंद्र शासित प्रदेशों को टीका उनके संबंधित सरकारी मेडिकल डिपो से मिलेगा. इनमें अंडमान निकोबार द्वीप समूह, अरूणाचल प्रदेश, चंडीगढ़, दमन और नागर हवेली, दमन और दीव, गोवा, हिमाचल प्रदेश, जम्मू कश्मीर, लद्दाख, लक्षद्वीप, मणिपुर, मेघालय, मिजोरम, नगालैंड, पुडुचेरी, सिक्किम, त्रिपुरा और उत्तराखंड शामिल हैं.


  • Youtube Video


  • ड्राई रन में क्या होता है?

    ड्राई रन एक तरह से टीकाकरण का पूर्वाभ्यास होता है. इस अभियान के तहत टीकाकरण के सारे प्लान का प्रैक्टिकल तरीके से टेस्ट किया जाता है. इसे टीकाकरण का मॉक ड्रील कह सकते हैं. इसमें सबकुछ वैसा ही होगा जैसे वैक्सीनेशन अभियान के दौरान असल में किया जाने वाला है. इसमें सबसे पहले डमी वैक्सीन कोल्ड स्टोरेज से निकलकर वैक्सीनेशन सेंटर तक पहुंचेगी, टीका स्थल पर भीड़ प्रबंधन किया जाएगा, एक-दूसरे के बीच शारीरिक दूरी का पालन किया जाएगा. इसके अलावा ड्राई रन के तहत वैक्सीन की रियल टाइम मॉनिटरिंग को भी टेस्ट किया जाएगा.


  • कब होगा वैक्सीन का ट्रांसपोर्ट?

    केंद्र सरकार के सूत्रों के मुताबिक, एक-दो दिन में कोरोना वैक्सीन का ट्रांसपोर्टेशन शुरू हो जाएगा. पुणे इसका सेंट्रल हब होगा. यहीं से वैक्सीन का डिस्ट्रिब्यूशन होगा. यात्री विमानों का इस्तेमाल वैक्सीन ट्रांसपोर्ट के लिए हो सकेगा.


  • मैं दिल्ली में रहता हूं, मुझे किस कंपनी की वैक्सीन मिलेगी?

    अब तक यह भी नहीं पता है कि किस राज्य में किस कंपनी की वैक्सीन उपलब्ध होगी. सरकार की योजना उपलब्धता और जरूरत के आधार पर वैक्सीन राज्यों तक पहुंचाने की है. जहां सबसे ज्यादा जरूरत है, वहां सबसे पहले उपलब्ध वैक्सीन भेजी जाएगी.


  • मुझे कब वैक्सीन लगेगी इसकी जानकारी कैसे मिलेगी?

    जब वैक्सीनेशन शुरू होगा तो टीका लगवाने वालों और लगाने वालों को गाइड करने के लिए 12 भाषाओं में SMS भेजे जाएंगे. टीका लगवाने वालों को हर डोज के बाद QR कोड बेस्ड सर्टिफिकेट दिया जाएगा और उनकी यूनीक हेल्थ ID भी डिजिटली जनरेट होगी. वैक्सीनेशन प्रक्रिया को ट्रैक करने और उसकी निगरानी के लिए डिजिटल प्लेटफॉर्म कोविन (Co-WIN) बनाया गया है.


  • Co-WIN ऐप कैसे काम करेगा?

    कोविन प्लेटफॉर्म को इस तरह डिजाइन किया गया है कि वैक्सीन को हर स्तर पर रियलटाइम ट्रैक किया जा सके. यानी फैक्ट्री से निकलने के बाद राज्यों, जिलों और स्थानीय स्तर पर वैक्सीन स्टोर तक, और इसके बाद भी. वैक्सीन लगाने के बाद भी यह सिस्टम ही बताएगा कि दूसरा डोज कब लगेगा, साइड-इफेक्ट्स भी ट्रैक करेगा. कोविन में ऐसी व्यवस्था भी की है कि कोई व्यक्ति इससे यूनिक हेल्थ आईडी क्रिएट कर सकता है और उसे डिजिलॉकर में सेव कर सकता है.

अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज