COVID-19 Vaccine: 13 राज्यों ने वैक्सीन के लिए ग्लोबल टेंडर जारी करने का लिया फैसला

देश में बढ़ेगा वैक्‍सीन उत्‍पादन. (File pic)

देश में बढ़ेगा वैक्‍सीन उत्‍पादन. (File pic)

Covid-19 Vaccine आंध्रप्रदेश सरकार ने एक करोड़ लोगों के टीकाकरण के लिए विदेशी उत्पादकों से कोविड-19 टीके खरीदने के लिए बृहस्पतिवार को ग्लोबल टेंडर निकाली.

  • Share this:

नई दिल्ली. देशभर में इन दिनों कोरोना की वैक्सीन (Covid-19 Vaccine) की भारी किल्लत है. खास कर 18 से 44 साल के उम्र के लोगों को सेंटर पर स्लॉट खाली नहीं मिल रहे हैं. लिहाजा 13 राज्यों ने विदेश से भी टीके खरीदने का फैसला किया है. इसके लिए राज्य सरकारें ग्लोबल टेंडर जारी करने जा रही है. गौरतलब है कि पिछले महीने केंद्र ने राज्यों से कहा था कि वे 18 से 44 साल उम्र के लोगों का टीकाकरण करने के लिए सीधे बाजार से टीके की खरीद करें. वहीं केंद्र भारतीय टीका उत्पादकों से उनके उत्पाद का 50 प्रतिशत खरीदेगा और 45 वर्ष से अधिक उम्र के लोगों के टीकाकरण के लिए राज्यों को वितरित करेगा.

इन 13 राज्यों में दिल्ली, महाराष्ट्र, कर्नाटक, उत्तराखंड, हरियाणा, राजस्थान और आंध्र प्रदेश शामिल है. उत्तराखंड सरकार ने मंगलवार को कोविशील्ड और कोवैक्सीन की कमी को देखते हुए इन टीकों या स्पूतनिक जैसे अन्य टीकों को दूसरे देशों से आयात करने के एक समिति का गठन किया है.

आंध्रप्रदेश सरकार ने एक करोड़ लोगों के टीकाकरण के लिए विदेशी उत्पादकों से कोविड-19 टीके खरीदने के लिए बृहस्पतिवार को ग्लोबल टेंडर निकाली. प्रधान सचिव (स्वास्थ्य) अनिल कुमार सिंघल के अनुसार वैश्विक कंपनियों को तीन जून तक बोलियां लगाने को कहा गया है. निविदा अधिसूचना में एपी मेडिकल सर्विसेज एंड इंफ्रास्ट्रक्चर डेवलपमेंट कार्पोरेशन ने कहा कि आपूर्ति किये जाने वाले टीके आईसीएमआर के दिशानिर्देशों के अनुरूप होने चाहिए.

Youtube Video

ये भी पढ़ें:- गजब! अमेरिका के इस शहर में Corona वैक्सीन लगवाने पर जीत सकते हैं 10 लाख रुपए

कर्नाटक सरकार ने बृहस्पतिवार को कहा कि वह दो करोड़ कोविड रोधी टीकों की खरीद के लिए वैश्विक निविदा जारी करेगी. मुख्यमंत्री बी एस येदियुरप्पा ने कहा कि महामारी की संभावित तीसरी लहर से निपटने संबंधी तैयारियों को देखने के लिए एक कार्यबल का गठन किया गया है. उन्होंने कहा कि राज्य ने तीन करोड़ टीकों की खरीद का ऑर्डर दिया है जिनमें से दो करोड़ कोविशील्ड और एक करोड़ कोवैक्सीन टीकों की खरीद शामिल है.




ऐसे में जब राज्य कोरोना वायरस के टीकों की कमी से जूझ रहे हैं, केंद्र ने बृहस्पतिवार को कहा कि अगस्त से दिसंबर के बीच पांच महीनों में देश में दो अरब से अधिक खुराक उपलब्ध होंगी, जो पूरी आबादी के टीकाकरण के लिए पर्याप्त होंगी. नीति आयोग के सदस्य वी के पॉल ने यह भी कहा कि रूस का कोविड-19 रोधी टीका स्पुतनिक V अगले सप्ताह तक उपलब्ध होने की संभावना है.

अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज