Choose Municipal Ward
    CLICK HERE FOR DETAILED RESULTS

    अहमदाबाद के दो अस्पतालों में कोविड-19 वार्ड बंद किये गये

    1 जुलाई को सूरत में 183 नये मामले और अहमदाबाद में 182 नये मामले आये हैं (सांकेतिक फोटो)
    1 जुलाई को सूरत में 183 नये मामले और अहमदाबाद में 182 नये मामले आये हैं (सांकेतिक फोटो)

    इंस्टीट्यूट ऑफ किडनी डिजीज एंड रिसर्च सेंटर (Institute of Kidney Diseases and Research Center) को किडनी अस्पताल (Kidney Hospital) के नाम से और गुजरात कैंसर एंड रिसर्च इंस्टीट्यूट को कैंसर अस्पताल (Cancer Hospital) के नाम से जाना जाता है.

    • Share this:
    अहमदाबाद. अहमदाबाद (Ahmedabad) में कोरोना वायरस (Coronavirus) के मामलों में गिरावट आने के बाद अधिकारियों (Officers) ने यहां सिविल अस्पताल (Civil Hospital) के नजदीक के सरकारी अस्पतालों (Government Hospitals) में सृजित किये गये कोविड-19 वार्ड (Covid-19 Ward) को बंद करने का निर्णय लिया है. दरअसल जब मई में कोविड-19 के मामले बढ़ने लगे थे तब गुजरात सरकार (Gujarat Government) ने अपने इंस्टीट्यूट ऑफ किडनी डिजीज एंड रिसर्च सेंटर तथा गुजरात कैंसर एंड रिसर्च इंस्टीट्यूट (Gujarat Cancer and Research Institute) में कोविड-19 वार्ड शुरू किया था.

    इंस्टीट्यूट ऑफ किडनी डिजीज एंड रिसर्च सेंटर (Institute of Kidney Diseases and Research Center) को किडनी अस्पताल (Kidney Hospital) के नाम से और गुजरात कैंसर एंड रिसर्च इंस्टीट्यूट को कैंसर अस्पताल (Cancer Hospital) के नाम से जाना जाता है. दोनों ही सिविल अस्पताल के परिसर में स्थित गुजरात सरकार के अस्पताल हैं. सिविल अस्पताल (Civil Hospital) ने कोरोना वायरस के मरीजों (Patients) के लिए करीब 1200 बिस्तर आवंटित किये थे जबकि इन बाकी दोनों अस्पतालों में ऐसे मरीजों के लिए करीब 450 बिस्तरों (Beds) का इंतजाम किया गया था.

    तेजी से मामले बढ़ने के बाद किडनी और कैंसर अस्पतालों में करना पड़ा था इंतजाम
    अस्पताल के अधीक्षक डॉ ए एम प्रभाकर ने कहा, ‘‘अहमदाबाद में अप्रैल-मई में मामले तेजी से बढ़े थे. ऐसा समय भी आया था जब सारे बिस्तर भर गये थे और हमें किडनी और कैंसर अस्पतालों में बिस्तरों का इंतजाम करना पड़ा था.’’
    उन्होंने कहा, ‘‘लेकिन अब, अतीत में 1100 से अधिक बिस्तर भरे रहने के मुकाबले अब सिविल अस्पताल (Civil Hospital) में केवल 250 कोरोना वायरस मरीज भर्ती हैं.’’ उन्होंने कहा, ‘‘वर्तमान स्थिति को ध्यान में रखकर हमने किडनी और कैंसर अस्पतालों में कोविड-19 वार्ड बंद करने का निर्णय लिया है.’’



    यह भी पढ़ें: असम की प्रयोगशाला ने कोरोना वायरस को अलग किया, बनी भारत की चौथी लैब

    गुजरात (Gujarat) में कोरोना वायरस से सबसे अधिक प्रभावित शहर अहमदाबाद एक जुलाई को नये मामलों के संदर्भ में दूसरे नंबर पर आया. सूरत में 183 नये मामले और अहमदाबाद (Ahmedabad) में 182 नये मामले आये.
    अगली ख़बर

    फोटो

    टॉप स्टोरीज