वैक्सीन की पहले डोज के बाद ही हो गया कोरोना, जानें कब लेनी होगी दूसरी डोज

1 मई से से वैक्सीन प्रोग्राम का नया चरण शुरू होने जा रहा है. (सांकेतिक फोटो)

1 मई से से वैक्सीन प्रोग्राम का नया चरण शुरू होने जा रहा है. (सांकेतिक फोटो)

एक्सपर्ट का कहना है कि कोरोना संक्रमित रहने के दौरान आपको वैक्सीनेशन (Corona Vaccination) नहीं करवाना है. जैसे ही आइसोलेशन या क्वारंटाइन पीरियड खत्म हो वैक्सीन का दूसरा डोज लिया जा सकता है.

  • News18Hindi
  • Last Updated: April 22, 2021, 7:23 PM IST
  • Share this:
नई दिल्ली. केंद्र सरकार अब वैक्सीनेशन (Corona Vaccination) का दायरा और बढ़ा रही है. कुछ दिनों पहले आगामी एक मई से 18 वर्ष के ऊपर सभी लोगों के वैक्सीनेशन का फैसला किया गया है. लेकिन इस बीच ऐसी भी खबरें लगातार आ रही हैं कि लोग वैक्सीन की पहली डोज (First Dose Of Vaccine) लेने का बाद कोरोना पॉजिटिव हो रहे हैं. कई बड़े नेता और सेलिब्रेटी भी वैक्सीन का पहला डोज लेने के बाद पॉजिटिव हो चुके हैं. ऐसे स्थिति में क्या करना चाहिए?

एक्सपर्ट के हवाले से की गई इंडिया टुडे की एक रिपोर्ट कहती है कि वैक्सीन का दूसरा डोज (Second Dose Of Vaccine) भी 8 हफ्ते भीतर ही लगवाना है. स्वास्थ्य मंत्रालय की तरफ से वैक्सीनेशन को लेकर गाइडलाइंस में कहा गया है कि दोबारा संक्रमण न हो इसके लिए जरूरी है कि दोनों डोज ली जाएं.

जैसे ही आइसोलेशन या क्वारंटाइन पीरियड खत्म हो वैक्सीन का दूसरा डोज लें

एक्सपर्ट का कहना है कि कोरोना संक्रमित रहने के दौरान आपको वैक्सीनेशन नहीं करवाना है. जैसे ही आइसोलेशन या क्वारंटाइन पीरियड खत्म हो वैक्सीन का दूसरा डोज लिया जा सकता है.
भारत में एक दिन में कोविड-19 के 3.14 लाख से ज्यादा मरीज

बता दें कि देश में गुरुवार को कोविड-19 के अब तक के सर्वाधिक 3.14 लाख से ज्यादा मामले आने के साथ ही संक्रमितों की संख्या बढ़कर 1,59,30,965 हो गयी. दुनिया के किसी भी देश में एक दिन में कोरोना वायरस संक्रमण का यह सर्वाधिक आंकड़ा है. केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्रालय के सुबह आठ बजे अद्यतन किए गए आंकड़ों के मुताबिक, पिछले 24 घंटे में संक्रमण के 3,14,835 मामले आए जबकि 2104 और मरीजों की मौत हो जाने से अब तक इस महामारी की वजह से जान गंवाने वालों की संख्या बढ़कर 1,84,657 हो गई है.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज