दुनिया में सुधर भी रहे कोरोना से हालात, ब्रिटेन में अब लोग पब-थियेटर जा सकेंगे

ब्रिटेन में कोरोना प्रतिबंधों में छूट की शुरुआत की जा रही है. (तस्वीर-News18 English)

ब्रिटेन में कोरोना प्रतिबंधों में छूट की शुरुआत की जा रही है. (तस्वीर-News18 English)

ब्रिटेन ने घोषणा कर दी है कि आगामी 17 मई से कोरोना प्रतिबंधों में ढील दी जाएगी. डेली मेल पर प्रकाशित एक रिपोर्ट में बेहद भावनात्मक हेडिंग दी गई है. रिपोर्ट की हेडिंग कहती है कि 17 मई से ब्रिटेनवासी अपने सगे-संबंधियों और नजदीकियों को गले लगा सकेंगे. लोग बार और पब जा सकेंगे. हॉलिडे मना सकेंगे.

  • Share this:

नई दिल्ली. भारत में इस वक्त कोरोना महामारी की दूसरी लहर के प्रचंड प्रकोप के कारण लोग न सिर्फ शारीरिक मुश्किलें झेल रहे हैं बल्कि मानसिक रूप से भी बेहद निराश हैं. ऑक्सीजन की किल्लत और जरूरी दवाओं के न मिल पाने के कारण भी लोग बुरी तरह परेशान हैं. लेकिन अब कुछ आशाजनक खबरें भी सामने आनी शुरू हो गई हैं. जैसे कोरोना से सर्वाधिक प्रभावित महाराष्ट्र में केस कम हुए हैं. ऐसे ही मध्य प्रदेश और दिल्ली में मामलों में कमी आई है. इन राज्यों में टेस्ट पॉजिटिविटी रेट कम हुआ है. सोमवार को ब्रिटेन से भी ऐसी खबर आई जिसमें इस वक्त आशा की किरण नजर आती है.

दरअसल ब्रिटेन ने घोषणा कर दी है कि आगामी 17 मई से कोरोना प्रतिबंधों में ढील दी जाएगी. यह बताना जरूरी है कि ब्रिटेन बीते महीनों के दौरान यूके वैरिएंट के कारण बुरी तरह कोरोना से जूझा है. ब्रिटेन में पहली लहर के दौरान भी कोरोना का प्रभाव बहुत मजबूत था लेकिन सामान्य कोरोना वायरस से 70 गुना अधिक संक्रामक यूके वैरिएंट ने ब्रिटेन में मुश्किलों का पहाड़ खड़ा कर दिया था. ब्रिटेन अब उस दौर से बाहर आ रहा है.

डेली मेल पर प्रकाशित एक रिपोर्ट एक रिपोर्ट में बेहद भावनात्मक हेडिंग दी गई है. रिपोर्ट की हेडिंग कहती है कि 17 मई से ब्रिटेनवासी अपने सगे-संबंधियों और नजदीकियों को गले लगा सकेंगे. लोग बार और पब जा सकेंगे. हॉलिडे मना सकेंगे. किसी नजदीकी के दुख का हिस्सा बनने के लिए उसके प्रियजन की अंतिम यात्रा में भी शामिल हो सकेंगे. सिनेमा, होटल, संग्रहालय एक बार फिर से खुलेंगे. हालांकि प्रतिबंधों में छूट के लिए कुछ शर्तें भी रखी गई हैं. ब्रिटिश सरकार 21 जून तक लॉकलाउन खत्म करने की तैयारी में है.

ब्रिटिश प्रधानमंत्री बोरिस जॉनसन ने अपने संबोधन में कोरोना वायरस के इंडियन वेरिएंट का जिक्र करते हुए कहा है कि इसे मॉनिटर करने की जरूरत है. हाल ही में पब्लिक हेल्थ इंग्लैंड में भारत में जन्मे कोरोनावायरस के वेरिएंट को वेरिएंट ऑफ कंसर्न के तौर पर लिस्ट किया है. चीफ मेडिकल ऑफिसर ऑफ इंग्लैंड प्रोफेसर क्रिस विटी का कहना है कि इंडियन वेरिएंट के तीन टाइप यूके में मौजूद हैं, जिनमें से एक का संक्रमण देश के कुछ हिस्सों में तेजी से बढ़ता दिखा है. बड़ी संख्या में लोगों को संक्रमित करने की क्षमता वाले इस इंडियन वेरिएंट सबटाइप B.1.617.2 के हफ्ते भर के अंदर 500 केसेज मिलने के बाद इसे वेरिएंट ऑफ कंसर्न घोषित किया गया है. इस कैटेगरी में पहले से ही साउथ अफ्रीकन और ब्रजीलियन वेरिएंट रखे गए हैं.

अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज