होम /न्यूज /राष्ट्र /

इस अस्पताल में शुरू हो गया बच्चों के वैक्सीनेशन का रजिस्ट्रेशन! सोशल मीडिया पर मचा हंगामा

इस अस्पताल में शुरू हो गया बच्चों के वैक्सीनेशन का रजिस्ट्रेशन! सोशल मीडिया पर मचा हंगामा

ड्रग कंट्रोलर जनरल ऑफ इंडिया (DCGI) द्वारा अभी तक बच्चों के लिए कोविड-19 टीकों को मंजूरी नहीं दी गई है.

ड्रग कंट्रोलर जनरल ऑफ इंडिया (DCGI) द्वारा अभी तक बच्चों के लिए कोविड-19 टीकों को मंजूरी नहीं दी गई है.

सोशल मीडिया पर वायरल हो रहे पोस्टर में लिखा है, 'खत्म हुआ इंतजार, स्पर्श अस्पताल में बच्चों के लिए कोविड वैक्सीन ड्राइव 2-18 साल की उम्र के लिए रजिस्ट्रेशन शुरू हो गया है.' इस पोस्टर में बच्चों के वैक्सीनेशन के रजिस्ट्रेशन के लिए एक नंबर भी दिया गया है.

अधिक पढ़ें ...

    बेंगलुरु. कोरोना वायरस की तीसरी लहर की आशंकाओं के बीच भारत में बच्चों के लिए वैक्सीन की मंजूरी मिल गई है. बच्चों के वैक्सीनेशन (Child Vaccination) की मंजूरी के बीच बुधवार को बेंगलुरु के निजी अस्पताल का एक पोस्टर सोशल मीडिया पर वायरल हो गया है, जिसमें बच्चों के लिए वैक्सीनेशन शुरू होने की बात कही गई है. पोस्टर में लिखा है, ‘खत्म हुआ इंतजार, स्पर्श अस्पताल में बच्चों के लिए कोविड वैक्सीन ड्राइव, 2-18 साल की उम्र के लिए रजिस्ट्रेशन शुरू हो गया है.’ इस पोस्टर में बच्चों के वैक्सीनेशन के रजिस्ट्रेशन के लिए एक नंबर भी दिया गया है.

    इस पोस्टर में बच्चों के वैक्सीन के एक डोज की कीमत 1200 रुपये बतायी गई है. अस्पताल का यह पोस्टर आने के बाद सोशल मीडिया पर हंगामा मच गया है. अस्पताल ने माफी मांगते हुए कहा है कि उनकी मार्केटिंग टीम द्वारा बनाया गया पोस्टर गलती से इंटरनेट पर लीक हो गया. अस्पताल के चेयरमैन डॉ. शरण एस पाटिल ने कहा कि मार्केटिंग टीम एक क्रिएटिव पर काम कर रही थी और इंटरनल सर्कुलेशन के दौरान ये लीक हो गया. उन्होंने बताया कि यह पोस्टर तब जारी किया जाना था जब सरकार वैक्सीन को मंजूरी दे देती.

    ये भी पढ़ें : कोविड-19 वैक्सीन के निर्यात में दिसंबर तक आ सकती है तेजी, इन देशों को पहुंचेगी वैक्सीन की खेप

     ये भी पढ़ें : भारत ने 4 देशों को भेजे 40 करोड़ कोरोना वैक्सीन डोज, जानें किसे-कितने मिले?

    बता दें कि ड्रग कंट्रोलर जनरल ऑफ इंडिया (DCGI) द्वारा अभी तक बच्चों के लिए कोविड-19 टीकों को मंजूरी नहीं दी है. मंगलवार को ड्रग अथॉरिटी के एक विशेषज्ञ पैनल ने कुछ शर्तों के साथ 2 से 18 साल के बच्चों और किशोरों के लिए भारत बायोटेक के कोवैक्सीन को आपातकालीन उपयोग प्राधिकरण देने की सिफारिश की थी.

    Tags: Corona vaccine, Corona Vaccine in India, Corona vaccine news, Corona vaccine trial, Corona Vaccine Update

    अगली ख़बर