Home /News /nation /

दूसरी डोज लेने के बाद हर्षवर्धन ने कहा- कोविड वैक्सीन सेफ है, वॉट्सऐप यूनिवर्सिटी से रहें दूर

दूसरी डोज लेने के बाद हर्षवर्धन ने कहा- कोविड वैक्सीन सेफ है, वॉट्सऐप यूनिवर्सिटी से रहें दूर

डॉक्टर हर्षवर्धन ने अपनी पत्नी के संग दिल्ली हार्ट एंड लंग इंस्टीट्यूट में जाकर वैक्सीन की दूसरी डोज लगवाई.

डॉक्टर हर्षवर्धन ने अपनी पत्नी के संग दिल्ली हार्ट एंड लंग इंस्टीट्यूट में जाकर वैक्सीन की दूसरी डोज लगवाई.

डॉक्टर हर्षवर्धन (Dr. Harshvardhan) ने अपनी पत्नी के संग दिल्ली हार्ट एंड लंग इंस्टीट्यूट में जाकर वैक्सीन (Covid Vaccination) की दूसरी डोज लगवाई. डॉक्टर हर्षवर्धन ने इस दौरान उन्होंने वैक्सीन के प्रभाव पर उठ रहे सवालों का जवाब दिया.

अधिक पढ़ें ...
    Covid Vaccination in India: देश में कोरोना वायरस की दूसरी लहर चल रही है. हर दिन 50 हजार से ज्यादा नए मामले चल रहे हैं. इस बीच कोरोना को हराने के लिए वैक्सीनेशन भी चल रहा है. केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्री डॉ. हर्षवर्धन (Dr. Harshvardhan) ने मंगलवार को कोरोना वायरस वैक्सीन की दूसरी खुराक ली. उन्होंने कहा कि वैक्सीन की पहली खुराक लेने के बाद हम में से किसी को इसके प्रतिकूल प्रभाव महसूस नहीं हुए. दोनों भारतीय वैक्सीन प्रभावी और सुरक्षित हैं. हर्षवर्धन ने कहा, 'कई लोगों के मन में अभी भी वैक्सीन को लेकर कुछ सवाल हैं. मैं उनसे अनुरोध करता हूं कि वॉट्सऐप यूनिवर्सिटी में फैलाई जा रहीं अफवाहों पर भरोसा न करें.'

    डॉक्टर हर्षवर्धन ने अपनी पत्नी के संग दिल्ली हार्ट एंड लंग इंस्टीट्यूट में जाकर वैक्सीन की दूसरी डोज लगवाई. डॉक्टर हर्षवर्धन ने इस दौरान उन्होंने वैक्सीन के प्रभाव पर उठ रहे सवालों का जवाब दिया. उन्होंने कहा कि जब मैंने और मेरी पत्नी ने वैक्सीन की पहली डोज लगवाई थी तो हम दोनों में से किसी को भी कोई दुष्प्रभाव नहीं हुआ.



    24 घंटे में 56 हजार से ज्यादा लोग कोरोना पॉजिटिव, एक्टिव केस 5.40 लाख के पार

    केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्री ने कहा कि ऐसे केवल कुछ ही मामले सामने आए हैं जिनमें वैक्सीन लेने के बाद लोग कोरोना वायरस से संक्रमित हुए हैं. अगर वैक्सीन की खुराक लेने के बाद व्यक्ति कोरोना से संक्रमित होता है तो उसके अस्पताल में भर्ती होने या आईसीयू में भर्ती कराने की संभावना काफी कम रहती है.

    1 अप्रैल से वैक्सीनेशन का तीसरा फेज
    देश में वैक्सीनेशन प्रोसेस का तीसरा चरण 1 अप्रैल से शुरू होने वाला है, जिसमें 45 साल से उपर के हर व्यक्ति को वैक्सीन लगाई जाएगी. अभी तक 45 साल से उपर के गंभीर बीमारी से ग्रस्त लोगों को और 60 साल से अधिक उम्र के लोगों को वैक्सीन लगाई जा रही थी.

    अब तक कोरोना के कितने केस?
    देश में कोरोना वायरस के दूसरे लहर (Covid-19 Second Wave in India) का कहर जारी है. बीते 24 घंटे में देशभर में 56 हजार 211 नए कोरोना संक्रमित मिले. सोमवार को 37 हजार 28 लोग ठीक हुए और 271 की मौत हो गई. इस तरह एक्टिव केस, यानी इलाज करा रहे मरीजों की संख्या में 18,883 की बढ़ोतरी दर्ज की गई.

    8 राज्यों ने बढ़ाई टेंशन! कोरोना संक्रमण के नए मामलों में से 84% मामले यहीं

    देश में अब तक 1 करोड़ 20 लाख 95 हजार 855 लोग इस महामारी की चपेट में आ चुके हैं.  1 करोड़ 13 लाख 93 हजार 21 अब तक ठीक हो चुके हैं. 1 लाख 62 हजार 114 लोगों ने अब तक इस वायरस से जान गंवाई है. फिलहाल 5 लाख 40 हजार 720 लोगों का अभी इलाज चल रहा है यानी ये कोरोना के एक्टिव केस हैं. अब तक 6 करोड़ 11 लाख 13 हजार 354 लोगों का वैक्सीनेशन किया जा चुका है.

    Tags: COVID 19, Covid vaccine, Health Minister, Health Minister Dr Harsh Vardhan

    विज्ञापन

    विज्ञापन

    टॉप स्टोरीज

    अधिक पढ़ें

    अगली ख़बर