Karnataka Covid-19 Case: महाराष्ट्र के बाद कर्नाटक में कोरोना का कहर, 24 घंटे में 40 हजार से ज्यादा केस, 271 मौतें

स्वास्थ्य मंत्रालय की ओर से जारी आंकड़ों के अनुसार, 1 अप्रैल से 30 अप्रैल तक देशभर में कुल 48,926 कोरोना संक्रमितों की मौत हो गई. (कॉन्सेप्ट इमेज)

स्वास्थ्य मंत्रालय की ओर से जारी आंकड़ों के अनुसार, 1 अप्रैल से 30 अप्रैल तक देशभर में कुल 48,926 कोरोना संक्रमितों की मौत हो गई. (कॉन्सेप्ट इमेज)

Karnataka Corona case updates: शनिवार को स्वास्थ्य विभाग द्वारा जारी किए गए आंकड़ों के अनुसार, वर्तमान में कर्नाटक में कोरोना वायरस के 4,05,068 एक्टिव मामले हैं. स्वास्थ्य विभाग ने बताया कि कर्नाटक में संक्रमण की दर 25.44 फीसदी है.

  • Share this:
नई दिल्ली. महाराष्ट्र के बाद कर्नाटक में कोविड-19 महामारी (Karnataka Corona Case updates) से स्थिति भयावह होती जा रही है. यहां पिछले 24 घंटे में कोरोना संक्रमण के 40,990 नए केस मिले हैं और 271 लोगों की मौत हो गई. नए मामले सामने आने के बाद राज्य में कोरोना संक्रमित मरीजों की संख्या 15,64,132 हो गई है.

शनिवार को स्वास्थ्य विभाग द्वारा जारी किए गए आंकड़ों के अनुसार, वर्तमान में कर्नाटक में कोरोना वायरस के 4,05,068 एक्टिव मामले हैं. स्वास्थ्य विभाग ने बताया कि कर्नाटक में संक्रमण की दर 25.44 फीसदी है, जो कि चिंताजनक है.

30 अप्रैल को सामने आए थे 48 हजार से ज्यादा मामले

इससे पहले शुक्रवार (30 अप्रैल, 2021) को प्रदेश में 48,296 नए केस मिले थे और 217 लोगों की मौत हो गई थी. इतने ही समय में 14,884 लोगों को इलाज के बाद छुट्टी दे दी गई थी. राज्य में गुरुवार को भी 35,024 केस मिले थे और 270 लोगों की मौत हुई थी.
टीएसी ने तीसरी लहर के लिए चेताया

कर्नाटक में कोरोना वायरस के बढ़ते मामलों के बीच टेक्निकल एडवाइजरी कमिटी (टीएसी) ने राज्य में अब तीसरी लहर को लेकर चेतावनी दी है. टीएसी का कहना है कि अक्टूबर-नवंबर महीने में राज्य में कोरोना वायरस की तीसरी लहर देखने को मिल सकती है. वहीं, दूसरी लहर मई में पीक पर जा कर जुलाई तक काम होती दिखेगी. जिसके बाद अक्टूबर में तीसरी वेव का उछाल देखने को मिलेगा.





टीएसी का यह भी कहना है कि इस तीसरी वेव में सबसे ज्यादा युवाओं को प्रभावित करेगी. क्योंकि उस वक्त तक उनका वैक्सीनेशन नहीं हो सकेगा.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज