Corona: 30 दिन में आंध्र में 14 और UP में 5 गुना नए केस बढ़े, दिल्ली में आधे हुए

Corona: 30 दिन में आंध्र में 14 और UP में 5 गुना नए केस बढ़े, दिल्ली में आधे हुए
30 जुलाई को महाराष्ट्र में 11 हजार और आंध्र प्रदेश में 10 हजार से अधिक कोरोना केस आए.

भारत में कोरोना वायरस (Coronavirus) का पहला केस 30 जनवरी को आया था. छह महीने के भीतर देश में 16 लाख कोरोना केस हो गए हैं. देश में सबसे अधिक केस महाराष्ट्र में हैं. वैसे, नए केस आने की रफ्तार आंध्र प्रदेश, उत्तर प्रदेश जैसे राज्यों में महाराष्ट्र से भी ज्यादा है. 

  • Share this:
नई दिल्ली. भारत में कोरोना वायरस (Coronavirus) की रफ्तार बेकाबू हो गई है. देश में पहला कोरोना केस आने के ठीक छह महीने बाद अब हम 16 लाख का आंकड़ा पार कर गए हैं. यूं तो पूरी दुनिया में ही यह महामारी बढ़ती ही चली जा रही है. लेकिन जुलाई के महीने में कोरोना वायरस का सबसे ज्यादा कहर भारत (India) पर ही दिखता है. अमेरिका (America) और ब्राजील (Brazil) में ज्यादा केस जरूर आए, लेकिन रफ्तार के मामले में भारत उनसे आगे रहा. भारत की बात करें तो सबसे ज्यादा केस तो महाराष्ट्र में आए, लेकिन आंध्र प्रदेश, उत्तर प्रदेश जैसे कई राज्य रफ्तार के मामले में उससे आगे निकल गए. इस बीच दिल्ली से राहत भरी खबर आई है. यहां नए केस आने कम हुए हैं.

भारत में कोरोना के कुल केस 16.39 लाख हो गए हैं. इनमें से 54 हजार केस गुरुवार को आए. कोविड19इंडिया के मुताबिक गुरुवार को महाराष्ट्र (Maharashtra) में 11 हजार केस आए. यह देश में किसी भी राज्य से ज्यादा हैं. आंध्र प्रदेश (Andhra Pradesh) 10 हजार केस के साथ दूसरे स्थान पर रहा. कर्नाटक में 6 हजार और तमिलनाडु में 5 हजार से अधिक केस आए. उत्तर प्रदेश में 3705 और दिल्ली में 1093 के करीब केस आए. ये सभी देश में सबसे अधिक कोरोना वाले राज्यों में शामिल हैं. हालांकि, सिर्फ कुल केस की गिनती से तस्वीर साफ नहीं होगी क्योंकि जुलाई के महीने में कोरोना की रफ्तार और ट्रेंड में बदलाव दिखा है.

आंध्र प्रदेश में सरपट भाग रहा कोरोना
आंध्र प्रदेश में फिलहाल 1.30 लाख केस हैं. वह सबसे अधिक केस की गिनती में देश में महाराष्ट्र (4.11 लाख), तमिलनाडु (2.39 लाख) और दिल्ली (1.34 लाख) के बाद चौथे नंबर पर है. लेकिन केस बढ़ने की रफ्तार में वह इन तीनों ही राज्यों से आगे निकल रहा है. आंध्र में 30 जून को करीब 700 केस आए थे. वहीं, 30 जुलाई को 10 हजार से ज्यादा आए. यानी, 30 दिन के भीतर आंध्र में नए केस आने की रफ्तार 14 गुना बढ़ गई है. यही रफ्तार महाराष्ट्र में 30 दिन में दोगुनी और तमिलनाडु में डेढ़ गुनी बढ़ी है. महाराष्ट्र में 30 जून को करीब 4900 केस आए थे, जो अब 10-11 हजार आ रहे हैं. तमिलनाडु में 30 जून को 3900 केस आए थे और अब 6 हजार के करीब आ रहे हैं.
यह भी पढ़ें: जिम और योगा सेंटर के अलावा अनलॉक 3.0 में जानिए आम आदमी को क्या-क्या मिली छूट!



यूपी में 6 दिन में हो जाएंगे 1 लाख केस
उत्तर प्रदेश भी उन राज्यों में शामिल है, जहां तेजी से केस बढ़ रहे हैं. यहां 30 दिन में करीब 5 गुना नए केस बढ़ गए हैं. देश के सबसे अधिक आबादी वाले इस राज्य में 30 जून को 664 नए केस आए थे, जो 30 जुलाई को 3700 के पार पहुंच गए. यूपी में अभी 81 हजार केस हैं. संभावना है कि 6 दिन के भीतर यूपी एक लाख केस का आंकड़ा पार कर जाएगा. इसी तरह बिहार में 30 दिन के अंतराल में छह गुना नए केस बढ़ गए हैं. 30 जून को राज्य में 370 केस आए थे, जो जुलाई खत्म होते-होते 2200 पहुंचने लगे हैं.





दिल्ली में आधी हुई रफ्तार
ऐसा नहीं है कि देश के हर राज्य में नए केस बढ़ ही रहे हैं. दिल्ली जैसे कुछ राज्यों में कोरोना की रफ्तार पर लगाम लगी है. दिल्ली में जून में 2-3 हजार नए केस रोज आ रहे थे. जुलाई खत्म होते-होते यहां अब रोजाना करीब 1100 केस आ रहे हैं. यानी, एक महीने के अंतराल में यहां नए केस आने आधे हो गए हैं.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज

corona virus btn
corona virus btn
Loading