Assembly Banner 2021

बढ़ते कोरोना मामलों के बीच भी भारत में क्यों कम है मृत्यु दर? वैज्ञानिकों ने बताया

पूरी दुनिया के मुकाबले भारत में कोविड19 से जान गंवाने वालों की संख्या काफी कम है. (सांकेतिक तस्वीर)

पूरी दुनिया के मुकाबले भारत में कोविड19 से जान गंवाने वालों की संख्या काफी कम है. (सांकेतिक तस्वीर)

Covid-19 Fatality Rate in India: भारत में कोविड से होने वाली मौतों का प्रतिशत 1.5 से भी कम है जबकि अमेरिका जैसे देशों में यह 3 प्रतिशत से ज्यादा है. मेक्सिको में यह दर 10 प्रतिशत तक है.

  • News18Hindi
  • Last Updated: March 24, 2021, 5:48 AM IST
  • Share this:
नई दिल्ली. अमेरिका और ब्रिटेन (America & Britain) की तुलना में भारत में कोरोना वायरस (Coronavirus) से होने वाली मौतों का आंकड़ा काफी कम है जो कि एक रहस्य बना हुआ है. नेशनल इंस्टीट्यूट ऑफ इम्यूनोलॉजी और एम्स की एक स्टडी में इसके कुछ कारणों की वजह बताई गई है. शोधकर्ताओं को पता चला है कि कोविड से पहले 66 प्रतिशत खून और प्लाज्मा के नमूनों में CD4 + T कोशिकाओं की हाई फ्रीक्वेंसी थी, जो SARS-CoV- 2 के गैर-स्पाइक डोमेन के लिए दृढ़ता से प्रतिक्रिया करते थे.

इससे भी जरूरी बात, वहां संपर्क में न आए हेल्दी डोनर्स के कम से कम 21% नमूने थे जिन्होंने SARS-CoV-2 स्पाइक प्रोटीन का जवाब दिया था. अध्ययन कोविड और 28 व्यक्तियों के जोखिम के इतिहास के बिना 32 व्यक्तियों की प्रतिरक्षा प्रोफ़ाइल (टी कोशिकाओं) के विश्लेषण पर आधारित था, जो कोरोनोवायरस संक्रमण के हल्के लक्षण दिखाने के बाद ठीक हुए.

ये भी पढ़ें- वेतनभोगी कर्मचारियों के लिए बड़ी खबर! प्रॉविडेंट फंड में 5 लाख रुपये तक का निवेश हुआ टैक्‍स फ्री



टी सेल श्वेत रक्त कोशिकाओं का एक सबसेट है जो शरीर की प्रतिरक्षा प्रणाली में महत्वपूर्ण भूमिका निभाता है. सीडी 4 टी-कोशिकाओं को हेल्पर कोशिका माना जाता है क्योंकि वे संक्रमणों को बेअसर नहीं करती हैं बल्कि संक्रमणों के लिए शरीर की प्रतिक्रिया को ट्रिगर करती हैं.
भारत में 1.5 प्रतिशत से भी कम मौतें
अध्ययन के प्रमुख लेखक और एनआईआई में वैक्सीन इम्यूनोलॉजी डिवीजन के प्रमुख डॉ. निमेश गुप्ता के अनुसार, कोरोनवायरस से क्रॉस-प्रतिक्रियाशील टी कोशिकाएं जो सामान्य सर्दी का कारण बन सकती हैं, कोविड संक्रमण से रक्षा नहीं कर सकती हैं, लेकिन SARS-CoV-2 प्रोटीन का जवाब देकर वे रोग की गंभीरता को सीमित कर सकती हैं.

बता दें भारत में कोविड से होने वाली मौतों का प्रतिशत 1.5 से भी कम है जबकि अमेरिका जैसे देशों में यह 3 प्रतिशत से ज्यादा है. मेक्सिको में यह दर 10 प्रतिशत तक है.

गौरतलब है कि भारत में मंगलवार को एक दिन में कोविड-19 के 40,715 नए मामले सामने आने के बाद देश में संक्रमितों की संख्या बढ़कर 1,16,86,796 हो गई. उपचाराधीन मरीजों की संख्या में भी लगातार 13वें दिन बढ़ोतरी दर्ज की गई और वह 3,45,377 हो गई है, जो कुल मामलों का 2.96 प्रतिशत है. केन्द्रीय स्वास्थ्य मंत्रालय के अनुसार, देश में 199 और मरीजों की मौत के बाद मृतक संख्या बढ़कर 1,60,166 हो गई. कोविड-19 से मृत्यु दर देश में 1.37 प्रतिशत है.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज