अपना शहर चुनें

States

दिल्‍ली: 81 में से सिर्फ इन छह अस्‍पतालों में पूर्णत: स्‍वदेशी ‘कोवैक्‍सीन’ बाकी 75 जगह लगाई गई ‘कोविशील्‍ड’

दिल्‍ली के सिर्फ छ‍ह अस्‍पतालों में कोवैक्‍सीन जबकि बाकी 75 में कोविशील्‍ड लगाई गई है.
दिल्‍ली के सिर्फ छ‍ह अस्‍पतालों में कोवैक्‍सीन जबकि बाकी 75 में कोविशील्‍ड लगाई गई है.

राजधानी दिल्‍ली की 81 साइटों में से छह साइटों पर भारत बायोटेक की कोवैक्‍सीन जबकि 75 केंद्रों पर सीरम इंस्‍टीट्यूट की कोविशील्‍ड लगाई गई है. खास बात है कि भारत बायोटेक साइड इफैक्‍ट पाए जाने पर हर्जाना भी देगी.

  • News18Hindi
  • Last Updated: January 16, 2021, 7:58 PM IST
  • Share this:
नई दिल्‍ली. आज से पूरे देश में ही कोरोना के खिलाफ टीकाकरण अभियान शुरू किया गया है. जबकि अकेले दिल्‍ली में 81 अस्‍पतालों में कोरोना वैक्‍सीनेशन ड्राइव चलाई गई है. स्‍वास्‍थ्‍य कर्मचारियों को कोरोना वैक्‍सीन लगाने वाले दिल्‍ली के इन 81 अस्‍पतालों में सरकारी के साथ ही प्राइवेट अस्‍पताल भी शामिल हैं. इन अस्‍पतालों में कोरोना की भारत में बनाई गई कोवैक्‍सीन (Covaccine) और कोविशील्‍ड (Covishield) लगाई गई हैं. हालांकि खास बात है कि दिल्‍ली के सिर्फ छह अस्‍पतालों में ही पूरी तरह स्‍वदेशी कोवैक्‍सीन लगाई गई है जबकि राजधानी की बाकी 75 साइटों पर कोविशील्‍ड लगाई गई है.

कोविन एप्लिकेशन (CoWin App) में दर्ज आंकड़ों के अनुसार दिल्‍ली में केंद्र सरकार के अंतर्गत आने वाले सभी अस्‍पतालों में पूर्णत: स्‍वदेशी कोवैक्‍सीन लगाई गई है. इसे भारत बायोटेक कंपनी (Bharat Biotech) और इंडियन काउंसिल ऑफ एक्रेडिटेशन एंड असेसमेंट (ICAA) ने मिलकर बनाया गया है. साथ ही इसे पुरानी तकनीक से भी बनाया गया है. यहां के स्‍वास्‍थ्‍य कर्मचारियों को लगाई गई इस वैक्‍सीन की खास बात है कि साइड इफैक्‍ट (Vaccine Side Effect) होने पर कंपनी हर्जाना भी देगी.

सीरम इंस्‍टीट्यूट ऑफ इंडिया की कोविशील्‍ड वैक्‍सीन और भारत बायोटेक की कोवैक्‍सीन को भारत में इमरजेंसी इस्तेमाल की मंजूरी दे दी है
सीरम इंस्‍टीट्यूट ऑफ इंडिया की कोविशील्‍ड वैक्‍सीन और भारत बायोटेक की कोवैक्‍सीन को भारत में इमरजेंसी इस्तेमाल की मंजूरी दे दी है





कोवैक्‍सीन लगवाने वाले ये छह अस्‍पताल हैं-

ऑल इंडिया इंस्‍टीट्यूट ऑफ मेडिकल साइंसेज (Aiims),

सफदरजंग अस्‍पताल,

राम मनोहर लोहिया अस्‍पताल डीएच (RML Hospital),

कलावती सरन चिल्‍ड्रन अस्‍पताल,

ईएसआई (ESI) अस्‍पताल रोहिणी

ईएसआई अस्‍पताल बसई दारापुर हैं.

कोविशील्‍ड लगवाने वाले अस्‍पताल हैं- 

वहीं दिल्‍ली के बाकी 75 केंद्रों पर सीरम इंस्‍टीट्यूट पुणे द्वारा बनाई गई कोविशील्‍ड (Covishield) वैक्‍सीन लगाई गई है. आज के अभियान में शामिल दिल्‍ली सरकार के सभी अस्‍पतालों में भी कोविशील्‍ड वैक्‍सीन ही लगाई गई है. कुछ बड़े और प्रमुख अस्‍पताल इस प्रकार हैं.

लोक नायक जयप्रकाश अस्‍पताल (LNJP),

जीबी पंत अस्‍पताल (GB Pant),

चाचा नेहरू बाल चिकित्‍सालय,

लाल बहादुर शास्‍त्री अस्‍पताल,

दिल्‍ली केंट जनरल अस्‍प्‍ताल,

बुराड़ी अस्‍पताल

एनसी जोशी अस्‍पताल

महर्षि वाल्मिकि अस्‍पताल

सत्‍यवादी राजा हरिश्‍चंद्र अस्‍पताल

संजय गांधी मेमोरियल असप्‍ताल मंगोलपुरी

डॉ. हेडगेवार आरोग्‍य संस्‍थान

दिल्‍ली स्‍टेट कैंसर इंस्‍टीट्यूट

जीटीबी अस्‍पताल (GTB Hospital)

इन प्राइवेट अस्‍पतालों में कोविशील्‍ड

आगे पढ़ें
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज