Assembly Banner 2021

Noida News: गायों के चारे में हो रहा था खेल, मौत होने पर चुपचाप दफना रहे थे गौशाला के अंदर

जलपुरा गांव की इस गौशाला में गायों के मरने की यह दूसरी घटना है. बीते साल भी गायों की मौत हुई थी. (प्रतीकात्मक फोटो)

जलपुरा गांव की इस गौशाला में गायों के मरने की यह दूसरी घटना है. बीते साल भी गायों की मौत हुई थी. (प्रतीकात्मक फोटो)

नोएडा के जलपुरा गौशाला में गायों की मौत को लेकर ग्रेटर नोएडा अथॉरिटी ने 4 लोगों के खिलाफ दर्ज कराई एफआईआर. सुपरवाइजर समेत दो कर्मचारियों को अदालत ने भेजा जेल.

  • News18Hindi
  • Last Updated: March 30, 2021, 12:22 PM IST
  • Share this:
नोएडा. जलपुरा गौशाला में हुई एक दर्जन से ज्यादा गायों की मौत के मामले में एक नया खुलासा हुआ है. ग्रेटर नोएडा डवलपमेंट अथॉरिटी के विशेष कार्याधिकारी की ओर से इस मामले में सेक्टर ईकोटेक-3 थाने में रिपोर्ट दर्ज कराई गई है. एफआईआर के मुताबिक, वहां तैनात कर्मचारी गायों के चारे में खेल करते थे. जिसके चलते गौशाला में चारे की कमी हो रही थी. चारा नहीं मिलने से गायों की मौत हो गई. मुकदमे में बताया गया है कि वहां तैनात कर्मचारियों की लापरवाही से गाय कमजोर हो गईं. गांव वालों का तो यह भी आरोप है कि जब गाय मर जाती थीं तो कर्मचारी चुपचाप उन्हें गौशाला में ही दफना देते थे. एक बार तो ग्रामीणों ने इसका वीडियो भी बना लिया था.

गौरतलब रहे जलपुरा गांव की इस गौशाला में गायों के मरने का यह कोई पहला मामला नहीं है. बीते साल सितम्बर में भी इस गौशाला में करीब आधा दर्जन गायों की मौत हो गई थी. हालांकि उस वक्त गायों की मौत की वजह भूख न होकर कुछ और ही सामने आई थी.

अथॉरिटी ने 4 के खिलाफ कराई एफआईआर
जलपुरा गौशाला में गायों की मौत के मामले में पुलिस ने ग्रेटर नोएडा अथॉरिटी के वरिष्ठ प्रबंधक रमेश चंद्र और पशु चिकित्सक डॉ.प्रेमचंद समेत 4 लोगों को गिरफ्तार किया था. अदालत में पेश करने पर वरिष्ठ प्रबंधक रमेश चंद्र, पशु चिकित्सक डॉ. प्रेमचंद को जमानत दे दी गई. जबकि गौशाला के सुपरवाइजर समेत दो कर्मचारियों को अदालत ने जेल भेज दिया है.
एक अप्रैल से नोएडा और ग्रेटर नोएडा में होगी वाहनों की चेकिंग, तैयार रखें पेपर, वरना कटेगा चालान



अथॉरिटी की ओर से दर्ज कराई गई एफआईआर में गौशाला पर्यवेक्षण अधिकारी और वरिष्ठ प्रबन्धक रमेश चन्द्र, पशु चिकित्सक डॉ.प्रेमचंद, सुपरवाइजर शीतल प्रकाश और कंपाउडर सतेंद्र के खिलाफ मुकदमा दर्ज कराया गया है. ओएसडी की ओर से रिपोर्ट दर्ज होने के बाद सभी को गिरफ्तार किया गया था.

गौशाला आए थे सांसद अनुभव मोहंती

उड़ीसा में बीजू जनता दल के सांसद अनुभव मोहंती गौशाला गए थे. चर्चा यह है कि किसी तरह सांसद को गौशाला में गायों के मरने की जानकारी हो गई थी. इसके बाद भी वो गौशाला गए थे. गौशाला के हालात देखने के बाद सांसद ने एक ट्वीट किया है. ट्वीट के साथ उन्होंने मरी हुई गायों की फोटो भी शेयर की हैं. साथ ही उन्होंने ग्रेटर नोएडा अथॉरिटी और सीएम योगी आदित्यनाथ को ट्वीट करते हुए गौशाला के हालात को संभालने का आग्रह किया है. हालांकि इस ट्वीट के बाद सांसद को अभी इस बारे में दोनों तरफ से कोई जवाब नहीं मिला है.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज