खाड़ी देशों से भारतीयों को वापस लाने वाली विशेष उड़ान में ऐसे मनाया गया जश्न

खाड़ी देशों से भारतीयों को वापस लाने वाली विशेष उड़ान में ऐसे मनाया गया जश्न
मोबाइल से शूट किए एक वीडियो में क्रू मेंबर्स को देखा जा सकता है (स्क्रीनग्रैब)

कोरोना वायरस (Coronavirus) संक्रमण को रोकने के लिए भारत में लगे लॉकडाउन और ट्रैवल बैन के बीच अबू धाबी और दुबई से 363 भारतीयों को लेकर एअर इंडिया एक्सप्रेस की दो स्पेशल फ्लाइट्स (Air India Express Special Flights) गुरुवार को केरल में उतरीं.

  • Share this:
नई दिल्ली. एअर इंडिया एक्सप्रेस एयरक्राफ्ट (Air India Special Airdraft) के क्रू (Crew) के बीच तब जश्न का माहौल देखा गया, जब कोरोना वायरस के प्रसार को रोकने के लिए लगाए गए लॉकडाउन के बीच केरल (Kerala) के कोच्चि पहुंचने के लिए फ्लाइट अबू धाबी से चली. हल्के नीले रंग के पीपीई, मास्क और प्रोटेक्टिव प्लास्टिक शील्ड अपने चेहरे पर पहने, सरकारी वायु सेवा प्रदाता कंपनी का क्रू अपने हाथ उठाकर "हिप, हिप, हुर्रे" चिल्लाते देखा गया. गुरुवार को देर रात केरल में लैंड करने वाले दो विशेष विमानों में से एक में मोबाइल से शूट किए वीडियो (Video) में इस जश्न को देखा जा सकता है.

मास्क पहने हुए फ्लाइट के कैप्टन वीडियो में कहते हैं, "इस फ्लाइट (Flight) को यहां लाकर गर्व महसूस कर रहा हूं." एक अन्य क्रू मेंबर (Crew Member) जो कि यात्रियों के पीछे था, उसने कहा, "हाय, मैं दीपक, आज का केबिन-इंचार्ज. आज इस फ्लाइट का हिस्सा होने पर गर्व है."

अबू धाबी और दुबई से 363 भारतीयों को लेकर आईं स्पेशल फ्लाइट्स
कोरोना वायरस संक्रमण को रोकने के लिए भारत में लगे लॉकडाउन और ट्रैवल बैन के बीच अबू धाबी और दुबई से 363 भारतीयों को लेकर दो Air India एक्सप्रेस स्पेशल फ्लाइट्स गुरुवार को केरल में उतरीं.
इस मोबाइल वीडियो में एक अन्य क्रू मेंबर कहता है, "एक बार फिर, एअर इंडिया एक्सप्रेस चुनने के लिए आपका शुक्रिया, जय हिंद." बाकी क्रू के सदस्य अपनी प्रोटेक्टिव ड्रेस (Protective Dress) पहने हुए हाथ उठाते हैं और उसके पीछे जोर से नारा लगाते हैं "जय हिंद." इसके बाद एक के बाद एक क्रू के सदस्य खुद का परिचय देते हैं.





लौटी गर्भवती महिलाओं-वरिष्ठ नागरिकों को घर में ही किया जाएगा क्वारंटाइन
एअर इंडिया एक्सप्रेस की पहली फ्लाइट अबू धाबी से कोच्चि के लिए शाम 5 बजकर 7 मिनट पर निकली. एक अन्य फ्लाइट दुबई से कोझीकोड जाने के लिए 5 बजकर 46 मिनट पर निकली. इस बड़े अभियान को 'वंदे भारत मिशन' (Vande Bharat Mission) नाम दिया गया है, जिसके तहत यात्रियों को जेट और समुद्रीय नावों के रास्ते वापस देश में लाया जाना है.

सभी यात्री जो वापस आए, उन्हें थर्मल टेस्ट (Thermal Test) के साथ ही कई स्तरीय स्क्रीनिंग से गुजारा गया, जिसके बाद उन्हें बसों पर बिठाकर उनके गृह जिलों में भेज दिया गया, जहां उन्हें क्वारंटाइन किया जाएगा. गर्भवती महिलाओं और वरिष्ठ नागरिकों को संस्थागत तरीके से क्वारंटाइन किए जाने में छूट दी गई है लेकिन उन्हें घर पर सख्त क्वारंटाइन में रखा जाएगा.

यह भी पढ़ें:- SC ने ओडिशा हाईकोर्ट के आदेश पर लगाई रोक, घर जाने के लिए कोरोना की जांच नहीं होगी जरूरी
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज

corona virus btn
corona virus btn
Loading