अपना शहर चुनें

States

Republic Day Violence: दिल्‍ली हिंसा के आरोपियों पर शिकंजा कसने के लिए चश्‍मदीदों की लिस्‍ट बना रही क्राइम ब्रांच

Kisan Tractor rally के दौरान पुलिस की गाड़ी पर सवार किसान
Kisan Tractor rally के दौरान पुलिस की गाड़ी पर सवार किसान

ये लिस्ट उन पुलिसकर्मियों की है जो 26 जनवरी के दिन ट्रैक्टर रैली (Tractor Rally) और गणतंत्र दिवस (Republic Day) के दिन सुरक्षा में तैनात थे. इन चश्मदीदों के बयान दर्ज करने की प्रक्रिया तेज हो चुकी है.

  • News18Hindi
  • Last Updated: January 30, 2021, 12:44 PM IST
  • Share this:
नई दिल्‍ली. गणतंत्र दिवस (Republic Day) के दिन किसानों की ट्रैक्टर रैली (Tractor Rally) में हुई हिंसा और लाल किले पर एक धार्मिक ध्वज लहराए जाने की घटना को लेकर अब दिल्‍ली पुलिस (Delhi Police) की क्राइम ब्रांच ने हिंसा में शामिल आरोपियों पर शिंकजा कसना शुरू कर दिया है. सूत्रों के मुताबिक दिल्ली पुलिस की क्राइम ब्रांच ने दिल्ली में सभी जिलों में अलग-अलग चश्मदीदों की लिस्ट बनाई है. ये लिस्ट उन पुलिसकर्मियों की है जो 26 जनवरी के दिन ट्रैक्टर रैली और गणतंत्र दिवस के दिन की सुरक्षा में तैनात थे. इन चश्मदीदों के बयान दर्ज करने की प्रक्रिया तेज हो चुकी है.

दिल्‍ली क्राइम ब्रांच ने उन सभी पुलिसकर्मियों की लिस्ट बनाई है जो सभी जिलों में रैली के दौरान वहां पर मौजूद थे और चोटिल हुए थे. उन सभी को बतौर गवाह शामिल किया गया है, जिनकी संख्या सैकड़ों की तादाद में थी. खबर है कि क्राइम ब्रांच ने इन सभी पुलिसकर्मियों के बयान रिकॉर्ड करने शुरू कर दिए हैं. सूत्रों के मुताबिक टिकरी की तरफ से आने वाली ट्रैक्टर रैली हिंसा में अबतक 120 से ज्यादा पुलिसकर्मियों के बयान दर्ज किए जा चुके हैं जो हिंसा के दौरान मौजूद थे और घायल हुए थे. सिंघु बॉर्डर के आसपास 70 से ज्यादा पुलिसकर्मियों के बयान लिए गए हैं.

लालकिला में तकरीबन 1200 से ज्यादा पुलिस और सुरक्षाकर्मियों की तैनाती थी, जिनमें से तकरीबन 300 पुलिसकर्मियों के बयानों को लिया जा रहा है. ईस्ट दिल्ली के गाजीपुर, पांडव नगर में 800 से ज्यादा दिल्ली पुलिस और सुरक्षाबलों की मुस्तैदी थी, जिसमें से तकरीबन 130 चश्मदीदों के बयान लिए गए हैं. वहीं राजपथ परेड की सुरक्षा में आईटीओ, तिलक मार्ग के आसपास तैनात तकरीबन 200 से ज्यादा पुलिसकर्मी भी जरूरत के हिसाब से बयान दर्ज कराएंगे. जिन लोगों पर जानलेवा हमला हुआ है चाहे वो लालकिला के अंदर हुआ हो या ट्रैक्टर चढ़ाने की घटना हो. उन पर हमला करने वाले आरोपियों की फोटो सोशल मीडिया पर वायरल हो रही वीडियो और सीसीटीवी से निकालने की तैयारी चल रही है.
इसे भी पढ़ें :- Kisan Andolan: यूपी गेट पर भीड़ बढ़ी, करीब 3 हजार सुरक्षा बल मौके पर तैनात



500 से ज्यादा हिंसा के वायरल वीडियो इकट्ठा कर चुकी है क्राइम ब्रांच
बताया जा रहा है कि क्राइम ब्रांच 500 से ज्यादा हिंसा के वायरल वीडियो इकट्ठा कर चुकी है. वहीं तकरीबन 300 से ज्यादा सबूतों के तौर पर सीसीटीवी कैमरा फुटेज अब तक पुलिस के पास है, जिसमें से लालकिला, आईटीओ, दरियागंज, गाजीपुर, अक्षरधाम, प्रगति मैदान, द्वारका, उत्तम नगर, नजफगढ़, ढांसा , सिंघु बॉर्डर, टिकरी बॉर्डर, नांगलोई, शाहदरा, दिलशाद गार्डन, बुराड़ी, समयपुर बादली, अलीपुर, पांडव नगर, सराय काले खां, लक्ष्मी नगर, विकास मार्ग, डीडीयू मार्ग, आनंद विहार समेत कई इलाके शामिल हैं.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज