बुलेट प्रूफ वाहन नहीं होने के आरोपों वाले वीडियो की जांच कर रही है CRPF, राहुल गांधी ने किया था ट्वीट

सांकेतिक तस्वीर
सांकेतिक तस्वीर

सीआरपीएफ के प्रवक्ता उप महानिरीक्षक मोसेस दिनाकरन ने एक बयान में कहा, ‘‘सीआरपीएफ के पास विविध अभियान संबंधी जरूरतों को पूरा करने के लिए पर्याप्त सुरक्षित वाहन हैं.'' बयान के अनुसार, ‘‘वीडियो की प्रामाणिकता की सीआरपीएफ द्वारा जांच की जा रही है.''

  • News18Hindi
  • Last Updated: October 10, 2020, 11:26 PM IST
  • Share this:
नई दिल्ली. केंद्रीय रिजर्व पुलिस बल (Central reserve police force) (सीआरपीएफ) ने शनिवार को कहा कि वह कांग्रेस नेता राहुल गांधी (Rahul Gandhi) द्वारा ट्विटर पर डाले गये एक वीडियो की ‘प्रामाणिकता' की पड़ताल कर रहा है जिसमें कुछ सैनिक आरोप लगा रहे हैं कि उन्हें गैर बुलेट प्रूफ (Non bullet proof) वाहन में ड्यूटी पर भेजा जा रहा है.

सीआरपीएफ के प्रवक्ता उप महानिरीक्षक मोसेस दिनाकरन ने एक बयान में कहा, ‘‘सीआरपीएफ के पास विविध अभियान संबंधी जरूरतों को पूरा करने के लिए पर्याप्त सुरक्षित वाहन हैं.'' बयान के अनुसार, ‘‘वीडियो की प्रामाणिकता की सीआरपीएफ द्वारा जांच की जा रही है.''

राहुल गांधी ने ट्विटर पर लिखा, ‘‘क्या यह न्याय है?'' उन्होंने एक वीडियो भी साझा किया जिसमें जवानों के बीच कथित रूप से गैर-बुलेट प्रूफ वाहनों में लाने-ले जाने के बारे में बातचीत हो रही है.





उन्होंने हिंदी में ट्वीट किया, ‘‘हमारे जवानों को नॉन-बुलेट प्रूफ़ ट्रकों में शहीद होने भेजा जा रहा है और प्रधानमंत्री के लिए 8,400 करोड़ रुपये का हवाई जहाज़.'' (इनपुट भाषा)
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज