मई-जून में दोगुना हो जाएगा कोवैक्सीन का प्रोडक्शन, सितंबर तक हर महीने तैयार होंगे 10 करोड़ डोज

केंद्र सरकार स्वदेशी वैक्सीन का प्रोडक्शन बहुत तेजी से बढ़ाने की कोशिश कर रही है. (सांकेतिक तस्वीर)

केंद्र सरकार स्वदेशी वैक्सीन का प्रोडक्शन बहुत तेजी से बढ़ाने की कोशिश कर रही है. (सांकेतिक तस्वीर)

केंद्र सरकार की तरफ से घोषणा की गई है कि स्वदेशी वैक्सीन कोवैक्सीन (COVAXIN) का उत्पादन मई-जून महीने में दोगुना कर दिया जाएगा. प्रोडक्शन को तेजी से बढ़ाया जा रहा है. सितंबर महीने तक हर महीने दस करोड़ वैक्सीन डोज का उत्पादन होने लगेगा.

  • Share this:

नई दिल्ली. भारत में इस वक्त दुनिया का सबसे बड़ा वैक्सीनेशन कार्यक्रम (Covid Vaccination Drive) जारी है. हालांकि 1 मई से 18+ के लिए वैक्सीनेशन खोले जाने के बाद वैक्सीन आपूर्ति (Vaccine Supply) और मांग में बड़ा अंतर आ गया है. अब केंद्र सरकार (Central Government) की तरफ से घोषणा की गई है कि स्वदेशी वैक्सीन कोवैक्सीन (Covaxin) का उत्पादन मई-जून महीने में दोगुना कर दिया जाएगा. प्रोडक्शन को तेजी से बढ़ाया जा रहा है. सितंबर महीने तक हर महीने दस करोड़ वैक्सीन डोज का उत्पादन होने लगेगा. केंद्रीय विज्ञान और तकनीक मंत्रालय द्वारा दी गई जानकारी के मुताबिक आत्मनिर्भर भारत मिशन 3.0 के तहत स्वदेशी वैक्सीन्स को बढ़ावा दिया जाएगा.

इसी मिशन के तहत भारत सरकार का बायोटेक्नोलॉजी डिपार्टमेंट वैक्सीन प्रोडक्शन के लिए फंड मुहैया करा रहा है. वर्तमान में स्वदेशी वैक्सीन कोवैक्सीन का हर महीने एक करोड़ डोज का प्रोडक्शन किया जा रहा है. जल्द ही ये दोगुना किया जाएगा और फिर जुलाई-अगस्त तक इसे 6-7 गुना तक बढ़ाया जाएगा. सितंबर 2021 तक हर महीने इस वैक्सीन के दस करोड़ डोज प्रोड्यूस किए जाएंगे.

Youtube Video

सार्वजनिक क्षेत्र की तीन फार्मा कंपनियों को भी फंड दिया जा रहा है
वैक्सीन प्रोडक्शन बढ़ाने के लिए सार्वजनिक क्षेत्र की तीन फार्मा कंपनियों को भी फंड दिया जा रहा है. इसमें पहली कंपनी है हाफकिन बायोफार्मास्युटिकल्स कॉरपोरेशन लिमिटेड. ये कंपनी मुंबई में स्थित है. इस कंपनी को केंद्र सरकार की तरफ से 65 करोड़ रुपये का फंड दिया जाएगा. यहां से करीब 2 करोड़ वैक्सीन डोज का हर महीने प्रोडक्शन किया जा सकेगा. इसके अलावा इंडियन इम्यूनोलॉजिकल्स लिमिटेड को भी मदद दी जाएगी जिससे वो अगस्त महीने तक एक से डेढ़ करोड़ वैक्सीन डोज का हर महीने उत्पादन कर सके. एक अन्य कंपनी को भी वैक्सीन प्रोडक्शन के लिए चुना गया है.

अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज