पश्चिम बंगाल-बांग्लादेश के तट से टकराने से पहले कमजोर पड़ सकता है चक्रवात अम्फान

पश्चिम बंगाल-बांग्लादेश के तट से टकराने से पहले कमजोर पड़ सकता है चक्रवात अम्फान
अम्फान तूफान के कारण उत्तर पूर्व में बारिश की संभावना जताई जा रही है. (फाइल फोटो)

मौसम की भविष्यवाणी (weather forecast) करने वाली राष्ट्रीय संस्था (IMD) ने कहा कि चक्रवात अगले 12 घंटों में एक बहुत भयंकर चक्रवाती तूफान (a very severe cyclonic storm) में बदल जाएगा और अगले 24 घंटों में धीरे-धीरे उत्तर की ओर बढ़ेगा.

  • Share this:
भुवनेश्वर. भारत मौसम विज्ञान विभाग (IMD) ने रविवार को कहा कि तेज चक्रवाती तूफान (severe cyclonic storm) 'अम्फान' (Amphan) ओडिशा तट से टकरायेगा और बंगाल की खाड़ी में उत्तर-पश्चिम दिशा में तेजी से आगे बढ़ेगा और पश्चिम बंगाल-बांग्लादेश (West Bengal-Bangladesh) को बुधवार को 'बहुत भयंकर उष्णकटिबंधीय तूफान' के बनकर पार करेगा.

मौसम की भविष्यवाणी (weather forecast) करने वाली राष्ट्रीय संस्था (IMD) ने कहा कि चक्रवात अगले 12 घंटों में एक बहुत भयंकर चक्रवाती तूफान (a very severe cyclonic storm) में बदल जाएगा और अगले 24 घंटों में धीरे-धीरे उत्तर की ओर बढ़ेगा.

पश्चिम बंगाल-बांग्लादेश को पार करते हुए बहुत गंभीर हो जाएगा अम्फान
भुवनेश्वर मौसम विज्ञान केंद्र के वैज्ञानिक उमाशंकर दास ने कहा, "अम्फान उत्तर की ओर बढ़ेगा और फिर उत्तर-पूर्व की ओर और फिर बंगाल की उत्तर-पश्चिमी खाड़ी में तेजी से आगे बढ़ेगा. इसके बाद, यह सागर द्वीप (पश्चिम बंगाल) और हटिया द्वीप (बांग्लादेश) के बीच बुधवार दोपहर या शाम को बहुत गंभीर चक्रवाती तूफान बनकर पश्चिम बंगाल-बांग्लादेश को पार करेगा.”
अंग्रेजी अखबार न्यू इंडियन एक्सप्रेस की रिपोर्ट के मुताबिक पश्चिम बंगाल की खाड़ी में बेहद भयंकर चक्रवाती तूफान (a very severe cyclonic storm) में तब्दील हो जाएगा, लेकिन तट से टकराने से पहले यह कमजोर हो जाएगा.



ओडिशा के तटीय जिलों में लागू की गई ऑरेन्ज चेतावनी
इसके प्रभाव के चलते, सोमवार को गजपति, गंजम, पुरी, जगतसिंहपुर और केंद्रपाड़ा जिलों में अलग-अलग स्थानों पर भारी वर्षा होने की संभावना है. इसी दौरान राज्य के शेष जिलों में तटीय ओडिशा जिलों और कोरापुट और रायगढ़ के अलावा कई स्थानों पर हल्की से मध्यम वर्षा या गरज के साथ हल्की से मध्यम बारिश के आसार हैं.

जहां ओडिशा के तटीय जिले में मंगलवार के लिए कुछ स्थानों पर भारी वर्षा के लिए ऑरेंज चेतावनी (orange warning) जारी की गई है, वहीं ओडिशा तट पर सोमवार से हवा की गति बढ़ेगी.

ओडिशा के 10 जिलों में तैनात की गईं NDRF की 15 टीमें
दास ने कहा, "160 किमी / घंटा से 170 किमी / घंटा औसत की गति से और मंगलवार को बंगाल की मध्य खाड़ी और उत्तरी बंगाल की खाड़ी से सटे उत्तरी भागों में 190 किमी / घंटा की गति से हवायें चलेंगीं. वहीं 180 किमी / घंटा की गति चलने वाली हवायें बुधवार को बंगाल की उत्तरी खाड़ी में चलेंगी."

हालांकि तूफान को देखते हुए NDRF की 15 टीमों को ओडिशा (Odisha) के दस जिलों में तैनात कर दिया गया है.

यह भी पढ़ें: महामारी के जानकार बोले- राज्यों में अलग-अलग समय पर चरम पर पहुंचेगा कोरोना
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज

corona virus btn
corona virus btn
Loading