Home /News /nation /

जवाद चक्रवात से बचाव के लिए क्या हैं आंध्र और ओडिशा की तैयारियां...जानें

जवाद चक्रवात से बचाव के लिए क्या हैं आंध्र और ओडिशा की तैयारियां...जानें

विशाखापत्तनम में लोगों अलर्ट करते NDRF के सदस्य. (तस्वीर-ANI)

विशाखापत्तनम में लोगों अलर्ट करते NDRF के सदस्य. (तस्वीर-ANI)

Cyclone Jawad updates:जवाद के कारण ओडिशा और आंध्र प्रदेश में 4 दिसंबर को प्रस्तावित यूजीसी-नेट परीक्षाओं का शेड्यूल भी बदल दिया गया है. अब ये परीक्षाएं 5 दिसंबर को होंगी. इसके अलावा रेलवे ने अपनी 107 ट्रेनें कैंसिल कर दी हैं. ये आंध्र प्रदेश और ओडिशा के तटवर्ती इलाकों से गुजरने वाली ट्रेनें हैं. एनडीआरएफ के महानिदेशक (डीजी) अतुल करवाल ने बताया है कि संवेदनशील इलाकों में 46 दल तैनात किए गए हैं, जबकि 18 दलों को तैयार रखा गया है.

अधिक पढ़ें ...

    नई दिल्ली. जवाद चक्रवाती तूफान (Jawad Cyclone) के मद्देनजर ओडिशा (Odisha) और आंध्र प्रदेश (Andhra Pradesh) में बचाव कार्यों की व्यवस्था चाक-चौबंद रखी गई है. राष्ट्रीय आपदा मोचन बल (NDRF) ने अपनी 64 टीम तैयार रखी हैं. जवाद के कारण ओडिशा और आंध्र प्रदेश में 4 दिसंबर को प्रस्तावित यूजीसी-नेट परीक्षाओं का शेड्यूल भी बदल दिया गया है. अब ये परीक्षाएं 5 दिसंबर को होंगी. इसके अलावा रेलवे ने अपनी 107 ट्रेनें कैंसिल कर दी हैं. ये आंध्र प्रदेश और ओडिशा के तटवर्ती इलाकों से गुजरने वाली ट्रेनें हैं. इनमें अप में 54 ट्रेनों को जबकि डाउन में 53 ट्रेनों को कैंसिल किया गया है.

    ओडिशा सरकार ने राज्य के 30 में से 19 जिलों में स्कूलों को बंद रखने का आदेश दिया है. इसके अलावा गजपति, गंजाम, पुरी, जगतसिंहपुर, कटक, केंद्रपाड़ा जिलों के डीएम को आदेश दिया गया है कि वो आशंकित जगहों से लोगों को निकालकर सुरक्षित जगहों पर पहुंचाएं.

    80 से 100 किलोमीटर प्रतिघंटा की रफ्तार से हवाएं चल सकती हैं
    एक मीडिया रिपोर्ट के मुताबिक ओडिशा के विशेष राहत आयुक्त पीके जेना ने बताया है- मौसम विभाग द्वारा दी गई जानकारी के मुताबिक चक्रवात रविवार को पुरी तट पर दस्तक दे सकता है. इस दौरान 80 से 100 किलोमीटर प्रतिघंटा की रफ्तार से हवाएं चल सकती हैं.

    ये भी पढ़ें: ओमिक्रॉन वेरिएंट से पूरी दुनिया खौफ में, लेकिन WHO ने दी ये राहत भरी खबर

    ये है एनडीआरएफ की तैयारी
    एनडीआरएफ के महानिदेशक (डीजी) अतुल करवाल (Atul Karwal) ने बताया है कि संवेदनशील इलाकों में 46 दल तैनात किए गए हैं, जबकि 18 दलों को तैयार रखा गया है. एनडीआरएफ की एक टीम में लगभग 30 कर्मी होते हैं. NDRF की कुल 46 टीमों को उड़ीसा, पश्चिम बंगाल और आंध्र प्रदेश भेजा गया है. किसी भी दल को एयरलिफ्ट करने की स्थिति उत्पन्न होने पर #IDS अलर्ट पर है. 18 अन्य टीमें स्टैंडबाय पर हैं.

    आंध्र में अलर्ट
    तूफान के चलते आंध्र सरकार ने तीन उत्तरी तटीय जिलों में अधिकारियों को हाई अलर्ट पर रहने के निर्देश दिए हैं. 3 से 5 दिसंबर के बीच मछुआरों को भी पश्चिम मध्य और उत्तर पश्चिम बंगाल की खाड़ी में नहीं जाने की सलाह दी गई है. श्रीकाकुलम , विजयनगरम और विशाखापत्तनम जिलों में आज के लिए चेतावनी जारी की गई है.

    परीक्षाएं रिशेड्यूल
    जवाद के कारण ओडिशा और आंध्र प्रदेश में 4 दिसंबर को प्रस्तावित यूजीसी-नेट परीक्षाओं का शेड्यूल बदल दिया गया है. अब ये परीक्षाएं 5 दिसंबर को होंगी. परीक्षाओं से संबंधित जानकारी जल्द ही अपलोड कर दी जाएगी. कैबिनेट सचिव राजीव गाउबा ने शुक्रवार को चक्रवात से निपटने के लिए सभी तैयारियों का जायजा लिया.

    Tags: Andhra Pradesh, Cyclone Jawad, Odisha

    विज्ञापन

    राशिभविष्य

    मेष

    वृषभ

    मिथुन

    कर्क

    सिंह

    कन्या

    तुला

    वृश्चिक

    धनु

    मकर

    कुंभ

    मीन

    प्रश्न पूछ सकते हैं या अपनी कुंडली बनवा सकते हैं ।
    और भी पढ़ें
    विज्ञापन

    टॉप स्टोरीज

    अधिक पढ़ें

    अगली ख़बर