Cyclone Tauktae: गुजरात को राहत कार्यों के लिए मिलेगी 1000 करोड़ रुपए की मदद, PM मोदी का ऐलान

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने चक्रवात 'टाउते' से गुजरात में हुए नुकसान का आकलन करने के लिए अधिकारियों के साथ हुई समीक्षा बैठक की अध्यक्षता की. (ANI Tweet/19 May, 2021)

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने चक्रवात 'टाउते' से गुजरात में हुए नुकसान का आकलन करने के लिए अधिकारियों के साथ हुई समीक्षा बैठक की अध्यक्षता की. (ANI Tweet/19 May, 2021)

Cyclone Tauktae: यह तूफान सोमवार रात को अत्यधिक भीषण चक्रवाती तूफान के रूप में राज्य के तट से गुजरा और देर रात डेढ़ बजे के आस-पास इसने राज्य में दस्तक दी.

  • Share this:

नई दिल्ली. प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने चक्रवात 'टाउते' से गुजरात में हुए नुकसान को देखते हुए राज्य में तुरंत राहत कार्यों के लिए 1000 करोड़ रुपए की आर्थिक सहायता का ऐलान किया है. इसके साथ ही 'टाउते' के कारण राज्य को पहुंचे नुकसान का जायजा लेने के लिए केंद्रीय मंत्रिमंडल के एक अंतर-मंत्रालयीय दल को प्रदेश का दौरा करने के लिए भेजा जाएगा. प्रधानमंत्री कार्यालय ने बुधवार को यह जानकारी दी.


पीएमओ ने यह भी बताया कि पूरे देश में चक्रवाती तूफान 'टाउते' की वजह से मरनेवाले परिवार को 2 लाख रुपए और घायलों को 50 हजार रुपए दिए जाएंगे. गुजरात पहुंचे पीएम मोदी ने प्रदेश में कोरोना वायरस के हालात का भी जायजा लिया.


टाउते तूफान: बॉम्बे हाई से निकाले गए 22 शव, गुजरात में 45 हुआ मौतों का आंकड़ा


इससे पहले प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने बुधवार को गुजरात और दीव में चक्रवाती तूफान 'टाउते' से प्रभावित क्षेत्रों का हवाई सर्वेक्षण किया और कहा कि चक्रवात से प्रभावित सभी राज्यों के साथ केंद्र सरकार मिलकर काम कर रही है. इसके बाद प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने चक्रवात 'टाउते' से गुजरात में हुए नुकसान का आकलन करने के लिए अधिकारियों के साथ हुई समीक्षा बैठक की अध्यक्षता की. इस दौरान गुजरात के मुख्यमंत्री भी बैठक में उपस्थित रहे.


 गुजरात में तूफान टाउते की वजह से 45 लोगों की मौत

दूसरी ओर, गुजरात के 12 जिलों में चक्रवाती तूफान टाउते के कारण करीब 45 लोगों को मौत हो गई है. अधिकारियों ने बुधवार को बताया कि चक्रवात से सबसे बुरी तरह प्रभावित सौराष्ट्र क्षेत्र में 15 लोगों की मौत हो गई. यह तूफान सोमवार रात (17 मई) को अत्यधिक भीषण चक्रवाती तूफान के रूप में राज्य के तट से गुजरा और देर रात डेढ़ बजे के आस-पास इसने राज्य में दस्तक दी. राज्य आपदा अभियान केंद्र के एक अधिकारी ने बताया कि भावनगर और गिर सोमनाथ तटीय जिलों में आठ-आठ लोगों की मौत हुई.





अधिकारी ने बताया कि अहमदाबाद में पांच, खेड़ा में दो, आनंद, वडोदरा, सूरत, वलसाड, राजकोट, नवसारी और पंचमहल जिलों में एक-एक व्यक्ति की मौत हुई. उन्होंने बताया कि 24 लोगों की मौत तूफान के दौरान दीवारें गिरने की वजह से हुई, वहीं छह लोगों की मौत उन पर पेड़ गिरने से हुई. पांच-पांच लोगों की मौत घर ढहने और करंट लगने से, चार लोगों की मौत छत ढहने से और एक व्यक्ति की मौत टावर गिरने की वजह से हुई.


(इनपुट एजेंसी से भी)

अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज