Cyclone Yaas Review Meeting: 15 मिनट के लिए PM से मिलीं ममता, मांगे 20 हजार करोड़

ममता बनर्जी. (पीटीआई फाइल फोटो)

ममता बनर्जी. (पीटीआई फाइल फोटो)

Cyclone Yaas Review Meeting: ममता बनर्जी (Mamata Banerjee) ने यास तूफान से हुई तबाही के मद्देनजर केंद्र सरकार से 20 हजार करोड़ के राहत पैकेज की मांग की है. इससे पहले प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने ओडिशा और पश्चिम बंगाल में तूफान से हुई तबाही का जायजा लिया.

  • Share this:

कोलकाता. पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी (Mamata Banerjee) ने यास तूफान से हुई तबाही को लेकर एक रिपोर्ट प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी (PM Narendra Modi) को सौंपी है. दोनों नेताओं के बीच करीब 15 मिनट की बैठक हुई. ममता बनर्जी ने यास तूफान (Yaas Cyclone) से हुई तबाही के मद्देनजर केंद्र सरकार से 20 हजार करोड़ के राहत पैकेज की मांग की है. इससे पहले प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने ओडिशा और पश्चिम बंगाल में तूफान से हुई तबाही का जायजा लिया.

ममता बनर्जी प्रधानमंत्री की समीक्षा बैठक में शामिल नहीं हुईं. इस बैठक में राज्य के गवर्नर जगदीप धनखड़, बीजेपी नेता शुभेंदु अधिकारी, राज्य के सिंचाई मंत्री सोमेन महापात्रा और अन्य अधिकारी मौजूद थे.

ममता बनर्जी ने बैठक से पहले कहा-मैं शामिल नहीं हो पाऊंगी

राज्य के 24 परगना जिले में पत्रकारों से बातचीत के दौरान ममता बनर्जी ने कहा, 'मैं पीएम मोदी द्वारा बुलाई समीक्षा बैठक में शामिल नहीं हो पाऊंगी. मुझे कलाइकुंडा पहुंचने में 45 मिनट लगेंगे. मैंने एक रिपोर्ट तैयार करवाई है. इसमें तूफान से हुए नुकसान का जिक्र है. मैं पीएम मोदी को रिपोर्ट सौंप दूंगी.'

Youtube Video

रक्षा मंत्री ने किया ट्वीट, बोले- पश्चिम बंगाल का आज का घटनाक्रम स्तब्ध करने वाला है

रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह ने ममता बनर्जी द्वारा समीक्षा बैठक में शामिल न होने पर नाराजगी जाहिर की है. उन्होंने ट्वीट किया, 'पश्चिम बंगाल का आज का घटनाक्रम स्तब्ध करने वाला है. मुख्यमंत्री व प्रधानमंत्री व्यक्ति नहीं संस्था हैx. दोनों जन सेवा का संकल्प और संविधान के प्रति निष्ठा की शपथ लेकर दायित्व ग्रहण करते हैं. आपदा काल में बंगाल की जनता को सहायता देने के भाव से आए हुए प्रधानमंत्री के साथ इस प्रकार का व्यवहार पीड़ादायक है. जन सेवा के संकल्प व संवैधानिक कर्तव्य से ऊपर राजनैतिक मतभेदों को रखने का यह एक दुर्भाग्यपूर्ण उदाहरण है, जो भारतीय संघीय व्यवस्था की मूल भावना को भी आहत करने वाला है.'



एक हजार करोड़ की आर्थिक मदद का ऐलान

वहीं प्रधानमंत्री कार्यालय की तरफ जारी की गई विज्ञप्ति में एक हजार करोड़ की आर्थिक मदद का ऐलान किया गया है. इसमें से 500 करोड़ की मदद ओडिशा को दी जाएगी. 500 करोड़ पश्चिम बंगाल और झारखंड को दिए गए हैं.

मृतकों और गंभीर रूप से घायलों के लिए मुआवजे का ऐलान

पीएम ने ओडिशा, पश्चिम बंगाल और झारखंड को आश्वस्त किया है कि सभी जरूरी मदद दी जाएंगी. तबाही के आकलन के लिए एक अंतर-मंत्रालय टीम बनाई जाएगी. इसके अलावा पीएम मोदी की तरफ से तूफान में जान गंवाने वालों के परिवार वालों के लिए 2 लाख और गंभीर रूप से घायलों के लिए 50 हजार रुपये की आर्थिक मदद की घोषणा की गई है.

अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज