Home /News /nation /

दिल्ली के इस इलाके में खौफ का दूसरा नाम है 'दबंग मम्मी', परिवार पर दर्ज हैं 113 मामले

दिल्ली के इस इलाके में खौफ का दूसरा नाम है 'दबंग मम्मी', परिवार पर दर्ज हैं 113 मामले

दिल्ली पुलिस (फाइल फोटो)

दिल्ली पुलिस (फाइल फोटो)

बशीरन के कुनबे पर कुल 113 केस दर्ज हैं. उसके आठ बेटे हैं. गैंग की सरगना यानी बशीरन पर 9 मामले दर्ज हैं.

    राष्ट्रीय राजधानी दिल्ली के सबसे पॉश जिले साउथ दिल्ली में संगम विहार एक संवेदनशील थाना है. इस संगम विहार की उबड़ खाबड़ रास्तों के बीच बसे छोटे-छोटे घर और संकरी गलियां. यहां के एफ ब्लॉक रहता है दबंग मम्मी का पूरा परिवार. इस इलाके में दबंग मम्मी खौफ का दूसरा नाम है और लोग उसके खिलाफ मुंह खोलने की हिम्मत नहीं जुटा पाते हैं.

    ऐसे में जब कोई सवाल करता है कि क्या आप लेडी डॉन बशीरन को जानते हैं? तो हर कोई अलग-अलग जवाब देता. कोई उसे नहीं जानने की बात कहता तो कोई कहता कि अभी कुछ दिन पहले ही शिफ्ट हुए हैं.

    इस इलाके में 62 वर्षीय बशीरन का एक मकान है जो कोर्ट के आदेश के बाद सील हो चुका है. लेकिन बशीरन और उसके आठ बेटों का खौफ यहां के लोगों में अब भी बना हुआ है.

    संगम विहार थाने की पुलिस ने जब इस इलाके के अपराधियों की हिस्ट्रीशीट खंगाली तो संगम विहार थाने की पुलिस को एक हिस्ट्रीशीट बेहद अलग दिखी. यह हिस्ट्रीशीट थी बशीरन उर्फ मम्मी और उसके आठ बेटों की. बशीरन खुद तो अपराध करती ही है अपने सभी आठ बेटों को भी अपराध करने पर शाबाशी देती है. और जब भी आठ बेटो में से कोई एक बेटा जुर्म करके घर आता घर में जश्न मनाया जाता था. जुर्म की दुनिया की इस मम्मी का इलाके में इस कदर ख़ौफ़ था कि संगम विहार थाने की पुलिस भी बिना लाव लश्कर के यहां आने से घबराती थी.

    उसके गैंग में इतने लोग हैं कि वे मौका मिलते ही पुलिस पर और अपने खिलाफ आवाज उठाने वाले पर हमला कर देते हैं. पुलिस के मुताबिक बशीरन ने अपने बच्चों को तो अपराध में धकेला ही, इलाके के सैकड़ों नाबालिग बच्चों को भी पहले नशे की लत लगाई और फिर उन्हें अपनी गैंग में शामिल कर लिया था.

    आइए एक नजर डालते हैं बशीरन के बेटों के आपराधिक रिकॉर्ड्स परः
    बशीरन के कुनबे पर कुल 113 केस दर्ज हैं. उसके आठ बेटे हैं. गैंग की सरगना यानी बशीरन पर 9 मामले दर्ज हैं. उसके बेटे शमीम के खिलाफ 42 मामले, शकील के खिलाफ 15 मामले, वकील के खिलाफ 13 मामले, राहुल के खिलाफ 3 मुकदमे, फैज़ल के खिलाफ 9 मामले, सनी के खिलाफ 9 मामले और सलमान के खिलाफ 2 केस दर्ज हैं. वहीं एक नाबालिग बेटे पर 11 संगीन मामले दर्ज किए गए हैं. इन मामलों में 7 केस हत्या के और 3 हत्या की कोशिश के हैं.

    जुर्म जो न किया हो!
    हत्या, लूट, हत्या का प्रयास, जबरन बसूली, अवैध शराब का कारोबार करना, आर्म्स एक्ट, गुड़ा एक्ट, दंगे फैलाना, मारपीट, धमकाना, जैसे मामलों में बशीरन और उसके बेटे लिप्त थे. यही वजह है की अब दिल्ली पुलिस ने पूरे परिवार पर मकोका लगा दिया है. यही नहीं इलाके में दिल्ली की सरकारी पानी की पाइप लाइन पर बशीरन का कब्ज़ा है. वह यहां अपने तरीके से पानी बांटती है और लोगों से घंटे के हिसाब से पैसे वसूलती है. आलम यह है कि दिल्ली जल बोर्ड के तमाम पानी कनेक्शन बशीरन ने जबरन अपने घर के अंदर शिफ्ट करवा लिए. और हर महीने एक घर को पानी तब ही मिल पाता था जब वो 200 रुपए बशीरन को देता था.

    ऐसे कसा पुलिस का शिकंजा
    बशीरन पर शिकंजा कसना तब शुरू हुआ जब इसी साल जनवरी में उसने एक लड़के को अगवा करवाकर घर के पास जंगल में उसकी हत्या करवानी चाही, लेकिन समय रहते पुलिस पहुंच गई और वह लड़का बच गया. तब पता चला कि बशीरन ने जंगल में 17 सितंबर 2017 को मिराज नाम के एक लड़के की हत्या करवाकर उसे वहीं दफन करवा दिया था. तभी से बशीरन फरार थी और उसे कोर्ट ने भगोड़ा घोषित किया था. उसे शनिवार को पुलिस ने गिरफ्तार कर लिया है.

    बशीरन इतनी चालक और शातिर थी की उसने इलाके की गतिविधियों और पुलिस पर नजर रखने के लिए घर के बाहर एक सीसीटीवी कैमरा तक लगवा रखा था. मूल रूप से राजस्थान की रहने वाली बशीरन का पति बकरी चराने का काम करता है और में सिर्फ मम्मी यानी बशीरन की ही चलती है. अवैध शराब के धंधे जुर्म की दुनिया में कदम रखने वाली बशीरन ने ताउम्र या तो खुद अपराध किए या फिर अपने बेटों के जरिए अपराध करवाए.

    बशीरन की गिरफ्तारी के अलावा उसके दो बेटे भी तिहाड़ जेल में बंद हैं. बाकी या तो फरार हैं या फिर जमानत पर बाहर हैं. पुलिस के मुताबिक बशीरन का घर ही उसके जुर्म के साम्राज्य का मुख्य अड्डा था इसलिये पुलिस ने सबसे पहले बशीरन की कमर तोड़ने के लिए कोर्ट से गुहार लगाकर और कोर्ट को बशीरन का जुर्म का कच्चा चिट्ठा दिखाकर ये घर पहले सील करवाया फिर इसकी कुर्की के आदेश जारी करवाए.

    लेकिन बशीरन की गिरफ्तारी के बाद भी संगम विहार इलाके में उसका आतंक इस कदर है कि हमारे कैमरे के सामने बामुश्किल एक शख्स ने बोलने की हिम्मत की. हमने बताया कि बशीरन गिरफ्तार हो चुकी है लेकिन इसके बाद भी वह खुलकर कुछ कह नहीं पाया.

    Tags: Delhi police

    विज्ञापन

    राशिभविष्य

    मेष

    वृषभ

    मिथुन

    कर्क

    सिंह

    कन्या

    तुला

    वृश्चिक

    धनु

    मकर

    कुंभ

    मीन

    प्रश्न पूछ सकते हैं या अपनी कुंडली बनवा सकते हैं ।
    और भी पढ़ें
    विज्ञापन

    टॉप स्टोरीज

    अधिक पढ़ें

    अगली ख़बर