COVID-19 in India: क्‍या देश में गुजर गया कोरोना पीक? 17 सितंबर के बाद से लगातार घट रहे मामले

देश में अब तक कोरोना वायरस संक्रमण से 1 लाख से अधिक मौतें.
देश में अब तक कोरोना वायरस संक्रमण से 1 लाख से अधिक मौतें.

17 सितंबर को भारत में कोरोना वायरस संक्रमण (Coronavirus) के 93,199 नए मामले सामने आए थे. यह अब तक रोजाना आने वाले मामलों की सर्वाधिक संख्‍या है.

  • News18Hindi
  • Last Updated: September 29, 2020, 11:32 AM IST
  • Share this:
नई दिल्‍ली. देश में कोरोना वायरस संक्रमण (Coronavirus) के कुल मामलों में बढ़ोतरी हो रही है. लेकिन अब अगर पिछले 13 दिनों के आंकड़ों पर नजर डालें तो यह राहत भरी बात सामने आई है कि देश में इस दौरान कोरोना वायरस संक्रमण (Coronavirus case in india) के रोजाना आ रहे मामलों में कमी देखने को मिल रही है. इससे पहले ऐसी स्थिति आई थी कि लग रहा था कि देश में रोजाना आ रहे कोरोना के मामले 1 लाख तक पहुंच जाएंगे, लेकिन इसके बाद अचानक कमी आने लगी.

17 सितंबर को भारत में कोरोना वायरस संक्रमण के 93,199 नए मामले सामने आए थे. यह अब तक रोजाना आने वाले मामलों की सर्वाधिक संख्‍या है. उसके बाद से कोरोना के नए मामलों की संख्‍या घटकर 70,589 तक आ गई है. मंगलवार को देश में 70,589 नए केस सामने आए हैं. इससे पहले देश में सात दिनों में कोरोना वायरस के औसत मामलों में कमी आई थी, लेकिन ये कभी लगातार दो दिन तक नहीं घटे थे. पर अब ऐसा पिछले 13 दिनों से देखने को मिल रहा है.

अब क्‍या भारत दुनिया के अन्‍य देशों की तुलना में कोरोना वायरस के मामलों के लिहाज से पीछे हो रहा है? यह कहना अभी मुश्किल है. क्‍योंकि कई देशों में ऐसी बात सामने आई है कि वहां कोरोना वायरस के मामले पहले लंबे समय तक घटे लेकिन फिर उनमें बढ़ोतरी दर्ज की गई. जैसे अमेरिका में 11 अप्रैल को कोरोना वायरस संक्रमण का पहला पीक था. इसके बाद 7 दिन के औसत के हिसाब से यह मामले 31,942 तक पहुंच गए थे. फिर यह मामले घटने लगे और 29 मई को 20,638 तक हो गए.

अमेरिका में इसके बाद फिर कोरोना वायरस के मामले लगातार बढ़ने लगे. 20 जुलाई को 7 दिन के औसत के लिहाज से ये केस 66,903 हो गए. इसके बाद फिर ये घटे और 13 सितंबर को यह 34,320 हो गए. इसके बाद फिर ये बढ़कर 26 सितंबर को बढ़कर 44,109 हो गए. रूस, स्‍पेन, फ्रांस और ब्रिटेन में भी लंबे समय तक घटने के बाद अब कोरोना वायरस केस बढ़ने लगे हैं.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज