Home /News /nation /

नई परेशानी! कोरोना से ठीक हो चुके मरीजों की याददाश्त हो रही कमजोर

नई परेशानी! कोरोना से ठीक हो चुके मरीजों की याददाश्त हो रही कमजोर

दिल्ली में कोरोना की रोकथाम के लिए रणनीति तैयार करने मीटिंग आयोजित की गई थी. (सांकेतिक तस्वीर)

दिल्ली में कोरोना की रोकथाम के लिए रणनीति तैयार करने मीटिंग आयोजित की गई थी. (सांकेतिक तस्वीर)

पोस्ट कोविड क्लीनिक (Post Covid Clinic) में इलाज कराने के लिए आए कोरोना (Coronavirus) से ठीक हो चुके 250 लोगों में 80 लोगों में दिमागी समस्या देखने को मिली. इनमें से 20 प्रतिशत लोगों को इस बात की शिकायत थी कि उनकी याददाश्त कमजोर हो गई है.

अधिक पढ़ें ...
  • News18Hindi
  • Last Updated :
    नई दिल्ली. कोरोना से सं​क्रमित मरीजों को लेकर चिंता बढ़ाने वाली एक नई खबर सामने आई है. डॉक्टरों के मुता​बिक कोरोना (Corona) से ठीक होकर घर जाने वाले मरीजों में याददाश्त कमजोर (Memory Weak) होने की समस्या देखने को मिल रही है. डॉक्टरों ने कहा कि इसे पोस्ट कोविड सिम्पटम (Post Covid Symptoms) कहा जा सकता है. डॉक्टरों के मुताबिक जिस मरीज में कोरोना वायरस (Coronavirus) का संक्रमण जितना ज्यादा होता है उसे ठीक होने के बाद भी उतनी ही समस्या का सामना करना पड़ता है.

    कोरोना मरीजों के बीच आ रही इस समस्या को देखते हुए राजीव गांधी सुपर स्पेशलि​टी अस्पताल के डॉक्टर अजीत जैन ने बताया कि कोरोना की जंग जीत चुके मरीजों में कई तरह की समस्या देखने को मिल रही है. डॉक्टर जैन ने बताया कि पोस्ट कोविड क्लीनिक में इलाज कराने के लिए आए 250 लोगों में 80 लोगों में न्यूरो की समस्या देखने को मिली. इनमें से 20 प्रतिशत लोगों को इस बात की शिकायत थी कि उनकी याददाश्त कमजोर हो गई है.

    इसे भी पढ़ें :- कोरोना काल में कितना सेफ है हवाई सफर, इन 2 स्टडी में हुआ खुलासा

    डॉक्टर जैन ने बताया कि वायरस का हमला कई बार नसों पर होता है और उनमें लकवा हो जाता है, जिसका असर कई बार दिमाग पर भी पड़ता है और मरीज में भूलने जैसी समस्या आने लगती है. डॉक्टर जैन ने बताया कि कोरोना के चलते जिनके दिमाग में सूजन की गंभीर समस्या थी उनके याददाश्त कमजोर होने की शिकायत ज्यादा देखी गई. इसी तरह कोरोना से ठीक होने वाले 70 प्रतिशत लोगों में कमजोरी, थकान और चक्कर आना एक बड़ी समस्या थी.



    इसे भी पढ़ें :- भारत में कोरोना मरीजों का आंकड़ा 60 लाख के पार, 95466 लोगों ने गंवाई जान

    डॉक्टरों के मुताबिक कमजोरी, थकान और चक्कर आने की समस्या आम बात है. कोरोना की अगर जब शरीर में दूसरे वायरस हमला करते हैं तब भी इस तरह की शिकायत मरीजों में देखने को मिलती है. अपोला अस्पताल के डॉक्टर यश गुलाटी ने कहा कि वायरस से लड़ने के लिए शरीर में बने एंटीजन, रोग प्रतिरोधक तंत्र में इस तरह का बदलाव कर देते हैं, जिससे इम्यून सिस्टम अति प्रतिक्रिया करने लगता है. इसके कारण मरीज ठीक होने के बाद भी बुखार, बदन दर्द और अन्य परेशानियां होने लगती हैं. जो कुछ दिन बाद अपने आप ठीक हो जाती हैं.

    Tags: Corona, Coronavirus, Coronavirus Case in India, Coronavirus cases, Coronavirus Update

    विज्ञापन

    विज्ञापन

    टॉप स्टोरीज

    अधिक पढ़ें

    अगली ख़बर