• Home
  • »
  • News
  • »
  • nation
  • »
  • दार्जलिंग हिंसा: दो की मौत, शव के साथ रैली निकालेंगे गोरखालैंड समर्थक

दार्जलिंग हिंसा: दो की मौत, शव के साथ रैली निकालेंगे गोरखालैंड समर्थक

Darjeeling unrest दार्जिलिंग में सेना की एक और कॉलम तैनात
(Image: Getty)

Darjeeling unrest दार्जिलिंग में सेना की एक और कॉलम तैनात (Image: Getty)

दार्जलिंग में फिर हिंसा भड़क गई है. पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी ने एक बार फिर सेना को वापस बुला लिया है.

  • Share this:
    Darjeeling Unrest: दार्जलिंग में फिर हिंसा भड़क गई है. पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी ने एक बार फिर सेना को वापस बुला लिया है. इस बीच खबर है कि प्रदर्शन कर रहे गोरखालैंड समर्थकों ने एक पुलिस चौकी, एक टॉय ट्रेन स्टेशन को फूंक दिया और दो जगहों पर पुलिस के साथ झड़प हुई. गोरखा जनमुक्ति मोर्चा (GJM) ने दावा किया है कि पुलिस फायरिंग में दो युवकों की मौत हो गई है.

    पश्चिम बंगाल से अलग राज्य की मांग को लेकर आंदोलन का प्रसार करने वाले गोरखा जनमुक्ति मोर्चा (GJM) ने शनिवार को मुख्यमंत्री ममता बनर्जी द्वारा बातचीत की पेशकश को ठुकरा दिया है. वहीं पुलिस ने भी किसी तरह की गोलीबारी की घटना से इनकार किया है. बातचीत ठुकराने के बारे में बयान जारी करते हुए जीजेएम ने कहा, बनर्जी और राज्य सरकार के साथ बातचीत का रास्ता हमेशा के लिए बंद हो चुका है. सोनादा में हिंसा की ताजा घटना होने के बाद आज दार्जलिंग हिल्स में फिर से सेना तैनात की गई.

    रक्षा सूत्रों ने बताया कि हिंसा की ताजा घटना के मद्देनजर सोनादा और दार्जीलिंग में करीब सौ-सौ कर्मियों की सेना की दो टुकड़ियां तैनात की गई हैं. जीएनएलएफ प्रवक्ता नीरज जिम्बा ने दावा किया कि सुरक्षा बलों ने बीती रात युवक ताशी भुटिया की गोली मार कर हत्या कर दी, जब वह सोनादा में दवा खरीदने गया था. जीजेएम ने कहा कि वह चौकबाजार इलाका और दार्जलिंग में शव के साथ रैली निकालेगा.

    गौरतलब हो कि केंद्र सरकार ने कल कहा था कि वह इस आंदोलन को खत्म करने के लिए जीजेएम और पश्चिम बंगाल सरकार के बीच द्विपक्षीय वार्ता करने को इच्छुक है. जबकि ममता दीदी ने आरोप लगाया था कि इस पूरे मामले में विदेशी हाथ है वहीं केंद्र सरकार ने भी इस समस्या से निपटने में राज्य सरकार की कोई मदद नहीं की.

    दवा दुकानों को छोड़कर सारी दुकानें, स्कूल, कॉलेज बंद रहे. इंटरनेट सेवाएं 21वें दिन भी बंद रही. पुलिस और सुरक्षा बलों ने सड़कों पर गश्त किया और प्रवेश एवं निकास द्वारों पर निगरानी रखे हुए है.

    पढ़ें Hindi News ऑनलाइन और देखें Live TV News18 हिंदी की वेबसाइट पर. जानिए देश-विदेश और अपने प्रदेश, बॉलीवुड, खेल जगत, बिज़नेस से जुड़ी News in Hindi.

    विज्ञापन
    विज्ञापन

    विज्ञापन

    टॉप स्टोरीज