Choose Municipal Ward
    CLICK HERE FOR DETAILED RESULTS

    रिटायर्ड हाईकोर्ट जज की बहू ने कहा- उन्होंने मुझे ऐसी जगह मारा कि बता नहीं सकती, घरेलू हिंसा का वीडियो वायरल

    घरेलू हिंसा का शिकार हुई महिला 30 साल की सिंधु शर्मा है.
    घरेलू हिंसा का शिकार हुई महिला 30 साल की सिंधु शर्मा है.

    ये घटना अप्रैल की है जब सिंधु शर्मा (Sindhu Sharma) को हैदराबाद (Hyderabad) के अपोलो अस्पताल में भर्ती कराया गया, और घरेलू हिंसा का मामला दर्ज किया गया था.

    • News18Hindi
    • Last Updated: September 21, 2019, 7:36 PM IST
    • Share this:
    हैदराबाद. मद्रास हाईकोर्ट के पूर्व न्यायाधीश (Former High Court Judge) नूटी राममोहन राव, उनकी पत्नी और बेटे का एक वीडियो (Video) वायरल हो रहा है, जिसमें वो अपने परिवार के सदस्यों के साथ अपनी बहू को प्रताड़ित करते दिख रहे हैं. 27 अप्रैल को नूटी की बहू सिंधू शर्मा ने ससुराल वालों पर शारीरिक और मानसिक यातना देने की पुलिस में शिकायत की थी. सिंधू के पति नूटी वशिष्ठ ने कोर्ट में तलाक की अर्जी दे दी है. इस अर्जी के बाद सिंधू ने एक सीसीटीवी वीडियो सार्वजनिक किया है जिसमें उनके ससुराल वाले उनके खिलाफ घरेलू हिंसा करते दिखाई पड़ रहे हैं.



    घरेलू हिंसा का शिकार हुई महिला 30 साल की सिंधु शर्मा है. सिंधु नूटी वशिष्ठ की पत्नी है. नूटी वशिष्ठ मद्रास हाईकोर्ट के पूर्व न्यायाधीश नूटी राममोहन राव का बेटा है. साथ में उनकी पत्नी नूटी दुर्गा जयलक्ष्मी है. सिंधु शर्मा ने ससुराल वालों के खिलाफ दहेज के लिए घरेलू हिंसा और प्रताड़ना का मामला दर्ज कराया है. ये घटना अप्रैल की है जब सिंधु शर्मा को हैदराबाद के अपोलो अस्पताल में भर्ती कराया गया, और घरेलू हिंसा का मामला दर्ज किया गया था. सिंधु ने अपने पति और ससुराल वालों पर आरोप लगाया कि वो उसके साथ क्रूर अत्याचार कर रहे थे.
    सिंधु शर्मा ने न्यूज18 से बताया कि ये एक ऐसा डरावना सपना है जिसे मैं कभी भूल नहीं सकती. ये वीडियो अप्रैल के हैं जिसके बाद मैं किसी तरह उस घर से बचकर निकली. उन्होंने ऐसी जगह मारा है कि मैं आपको नहीं बता सकती.



    बच्चियां रहेंगी मां के साथ
    जब ये घटना हुई थी, उसके कुछ दिनों बाद सिंधु शर्मा ने अपनी दोनों बेटियों को अपने साथ रखने की मांग की. बड़ी बेटी की उम्र चार साल और छोटी बेटी दो साल की है. सामाजिक कार्यकर्ता अच्युत राव और दूसरे एक्टिविस्ट की अपील पर छोटी बेटी को मां को दे दिया गया. छोटी बेटी अभी स्तनपान करती है. हाई कोर्ट के दखल के बाद ससुराल वालों को उसे बड़ी बेटी भी सौंपने पर मजबूर होना पड़ा.

    जैसा कि आप वीडियो में देख सकते हैं कि दोनों बच्चियों के सामने ही इनकी मां पर हमला हुआ था. सिंधु शर्मा ने बताया कि वे बड़ी बेटी को नहीं सौंपना चाहते थे क्योंकि उन्हें इस बात का डर था कि वो अपनी मां के साथ हुए हिंसा के बारे में बता सकती है. सिंधु ने बताया कि उन्होंने पुलिस को डिजिटल वीडियो रिकॉर्डर की जांच करने के लिए कहा था, ये वीडियो उन्होंने सीसीटीवी फुटेज से एक्सेस किए. समझौता होने की उम्मीद में उन्होंने और उसके परिवार ने वीडियो को सार्वजनिक नहीं किया था.

    बच्चियों के लिए वापस पति के साथ रहना चाहती है
    इस सब के बावजूद सिंधु शर्मा अपने ससुराल वालों को गिरफ्तार नहीं कराना चाहतीं. वो बस अपनी बेटियों के लिए अपने पति को वापस पाना चाहती हैं. उनकी दोनों बेटियां उनके साथ ही रहेंगी.

    ये भी पढ़ें-
    महिला को उंगली दिखाना पड़ सकता है भारी, तीन साल तक की होगी जेल

    कैंसर पीड़ित मां ने कहा-बेटे को कर दो माफ,बाबुल सुप्रियो बोले-नहीं कराऊंगा FIR
    अगली ख़बर

    फोटो

    टॉप स्टोरीज