लाइव टीवी

दयानिधि मारन का लोकसभा में विवादित बयान, संस्कृत को बताया 'मृत भाषा'

News18Hindi
Updated: February 11, 2020, 8:28 AM IST
दयानिधि मारन का लोकसभा में विवादित बयान, संस्कृत को बताया 'मृत भाषा'
लोकसभा में केंद्रीय बजट 2020-21 पर बहस के दौरान अपनी बात रखते न्नै मध्य से सांसद दयानिधि मारन.

लोकसभा (Lok Sabha) में उस समय हंगामा मच गया, जब केंद्रीय बजट 2020-21 (Budget 2020-21) पर बहस के दौरान चेन्नै मध्य से सांसद दयानिधि मारन (Dayanidhi Maran) ने सरकार की आलोचना करते हुए संस्कृत को मृत भाषा कह दिया.

  • News18Hindi
  • Last Updated: February 11, 2020, 8:28 AM IST
  • Share this:
नई दिल्ली. द्रविड़ मुनेत्र कड़गाम (DMK) को लोकसभा (Lok Sabha) में सोमवार को सत्ता पक्ष के तीखे हमलों का सामना करना पड़ा. दरअसल लोकसभा में उस समय हंगामा मच गया, जब केंद्रीय बजट 2020-21 पर बहस के दौरान चेन्नै मध्य से सांसद दयानिधि मारन ने सरकार की आलोचना करते हुए संस्कृत को मृत भाषा कह दिया. मारन के इस बयान के बाद सत्ता पक्ष हमलावर हो गया और उन्होंने दयानिधि को माफी मांगने की बात कही.

लोकसभा में बजट पर बहस के दौरान मारन ने कहा, सरकार थिरुक्कुरल का उदाहरण देती रहती है और तमिल के बारे में बात करती है. उन्होंने आरोप लगाते हुए कहा कि सरकार ने तमिल जैसी शास्त्रीय भाषा के लिए अभी तक कुछ भी नहीं किया है और संस्कृत जैसी एक मृत भाषा पर पैसे खर्च किए हैं. दयानिधि के इस बयान के बाद ही सत्ता पक्ष ने हंगामा शुरू कर दिया और उसे संस्कृत भाषा पर की गई टिप्पणी के लिए दयानिधि से माफी की मांग की.

लोकसभा में हुए हंगामें पर बोलते हुए वित्त एवं कॉर्पोरेट मामलों में राज्य मंत्री अनुराग ठाकुर ने कहा, आप बजट को लेकर, सरकार की किसी भी नीतियों और कार्यशैली को लेकर सरकार की आलोचना कर सकते हैं लेकिन देव भाषा संस्कृत पर आप हमला करेंगे तो हम उसे स्वीकार नहीं कर सकते.

इसे भी पढ़ें :- मोदी सरकार की मदद से शुरू करें ये बिजनेस, होगी लाखों में आमदनी

पीठासीन अधिकारी रामा देवी ने भी किसी भाषा के लिए इस तरह की टिप्पणी के लिए डीएमके नेता दयानिधि मारन की आलोचना की है. उन्होंने कहा कि विपक्ष दूसरों से माफी की मांग करता है लेकिन वह जब खुद इस तरह की गलतियां करता है तो वह नियम का पालन नहीं करता.

इसे भी पढ़ें :- बीजेपी ने राज्यसभा सांसदों को जारी किया व्हिप, कहा- सरकार का करें समर्थन

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए देश से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: February 11, 2020, 8:28 AM IST
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर